blob: a780fbe26c7db749b0a56f1c9480f667b8750669 [file] [log] [blame]
<?xml version="1.0" ?>
<!DOCTYPE translationbundle>
<translationbundle lang="hi">
<translation id="1002439864875515590">अगर इस नीति को किसी खाली स्ट्रिंग पर सेट किया जाता है या कॉन्फ़िगर नहीं किया जाता है, तो उपयोगकर्ता के साइन इन के दौरान <ph name="PRODUCT_OS_NAME" /> अपने आप पूरा होने वाला कोई विकल्प नहीं दिखाएगा.
अगर इस नीति को डोमेन नाम के बारे में बताने वाले किसी स्ट्रिंग पर सेट किया जाता है, तो उपयोगकर्ता के साइन इन करने पर <ph name="PRODUCT_OS_NAME" /> अपने आप पूरा होने वाला विकल्प दिखाएगा. इसकी मदद से उपयोगकर्ता डोमेन नाम एक्सटेंशन के बिना सिर्फ़ अपना नाम लिख सकेंगे. उपयोगकर्ता इस डोमेन नाम के एक्सटेंशन को बदल सकेंगे.
अगर नीति का मान एक मान्य डोमेन नहीं है, तो नीति लागू नहीं होगी.</translation>
<translation id="101438888985615157">स्‍क्रीन को 180 डिग्री पर घुमाएं</translation>
<translation id="1016912092715201525"><ph name="PRODUCT_NAME" /> में डिफ़ॉल्ट ब्राउज़र जाँच कॉन्फ़िगर करती है और उपयोगकर्ताओं को उन्हें बदलने से रोकती है.
अगर आप यह सेटिंग चालू करते हैं, तो <ph name="PRODUCT_NAME" /> स्टार्टअप के समय हमेशा जाँच करेगा कि यह डिफ़ॉल्ट ब्राउज़र है या नहीं और मुमकिन होने पर खुद को अपने आप रजिस्टर कर लेगा.
अगर यह सेटिंग बंद की जाती है, तो <ph name="PRODUCT_NAME" /> कभी भी जाँच नहीं करेगा कि यह डिफ़ॉल्ट ब्राउज़र है या नहीं और उपयोगकर्ता नियंत्रणों को यह विकल्प सेट नहीं करने देगा.
अगर यह सेटिंग सेट नहीं की जाती है, तो <ph name="PRODUCT_NAME" /> उपयोगकर्ता को यह नियंत्रित करने देगा कि यह डिफ़ॉल्ट ब्राउज़र है या नहीं और ऐसा नहीं होने पर उपयोगकर्ता सूचनाएं दिखाई जानी चाहिए या नहीं.
<ph name="MS_WIN_NAME" /> के एडमिन के लिए नोट: यह सेटिंग चालू करने की सुविधा सिर्फ़ Windows 7 पर चल रही मशीनों पर काम करेगी. Windows 8 से शुरू होने वाले Windows के वर्शन के लिए, आपको ऐसी "डिफ़ॉल्ट ऐप्लिकेशन एसोसिएशन" फ़ाइल लागू करनी होगी जो <ph name="PRODUCT_NAME" /> को <ph name="HHTPS_PROTOCOL" /> और <ph name="HTTP_PROTOCOL" /> प्रोटोकॉल (और विकल्प के तौर पर, <ph name="FTP_PROTOCOL" /> प्रोटोकॉल और फ़ाइल फ़ॉर्मैट जैसे कि <ph name="HTML_EXTENSION" />, <ph name="HTM_EXTENSION" />, <ph name="PDF_EXTENSION" />, <ph name="SVG_EXTENSION" />, <ph name="WEBP_EXTENSION" />, वगैरह...) का हैंडलर बना देगी. ज़्यादा जानकारी के लिए <ph name="SUPPORT_URL" /> देखें.</translation>
<translation id="1017967144265860778">लॉगिन स्क्रीन पर पावर प्रबंधन</translation>
<translation id="1019101089073227242">'उपयोगकर्ता डेटा निर्देशिका' सेट करें</translation>
<translation id="1022361784792428773">वैसे एक्सटेंशन आईडी जिन्हें इंस्टॉल करने से उपयोगकर्ता को बचना चाहिए (या सभी के लिए *)</translation>
<translation id="102492767056134033">लॉगिन स्क्रीन पर ऑन-स्क्रीन कीबोर्ड की डिफ़ॉल्ट स्थिति सेट करें</translation>
<translation id="1027000705181149370">यह बताती है कि SAML IdP के ज़रिए लॉग इन के दौरान सेट की गई पहचान की पुष्टि करने वाली कुकी, उपयोगकर्ता की प्रोफ़ाइल में भेजी जानी चाहिए या नहीं.
जब कोई उपयोगकर्ता लॉग इन के दौरान किसी SAML IdP के ज़रिए पहचान साबित करता है तो, IdP के ज़रिए सेट की गई कुकी पहले किसी अस्थायी प्रोफ़ाइल में लिखी जाती हैं. पहचान की पुष्टि संंबंधी स्थिति को आगे बढ़ाने के लिए इन कुकी को उपयोगकर्ता की प्रोफ़ाइल में भेजा जा सकता है.
जब इस नीति को सही पर सेट किया जाता है तो, IdP के ज़रिए सेट की गई कुकी तब-तब उपयोगकर्ता की प्रोफ़ाइल में भेजी जाती हैं, जब-जब वे लॉग इन के दौरान SAML IdP से अलग पहचान साबित करते हैं.
जब इस नीति को गलत पर सेट किया जाता है या सेट नहीं किया जाता है तो, IdP के ज़रिए सेट की गई कुकी सिर्फ़ उस समय उपयोगकर्ता की प्रोफ़ाइल में भेजी जाती हैं, जब वे किसी डिवाइस पर पहली बार लॉग इन करते हैं.
यह नीति सिर्फ़ ऐसे उपयोगकर्ताओं को प्रभावित करती है जिनका डोमेन, डिवाइस के नाम दर्ज़ करने वाले डोमेन से मिलता-जुलता है. बाकी सभी उपयोगकर्ताओं के लिए, IdP के ज़रिए सेट की गई कुकी सिर्फ़ उस समय उनकी प्रोफ़ाइल में भेजी जाती हैं, जब वे किसी डिवाइस पर पहली बार लॉग इन करते हैं.</translation>
<translation id="1029052664284722254">उपयोगकर्ता के साइन आउट करने पर, डिवाइस को फिर से चालू करना</translation>
<translation id="1030120600562044329">Google को <ph name="PRODUCT_NAME" /> के बारे में इस्तेमाल और बंद होने से जुड़े डेटा की रिपोर्ट अनाम रूप से भेजना चालू करती है और उपयोगकर्ताओं को यह सेटिंग बदलने से रोकती है.
अगर यह सेटिंग चालू की गई हो, तो इस्तेमाल और बंद होने से जुड़े डेटा की रिपोर्ट Google को
अनाम रूप से भेजी जाती है. अगर सेटिंग बंद हो, तो यह जानकारी Google को नहीं
भेजी जाती. दोनों ही स्थितियों में, उपयोगकर्ता न तो सेटिंग को बदल सकते हैं, न ही उसे ओवरराइड कर सकते हैं.
अगर यह नीति सेट किए बिना छोड़ दी जाती है, तो सेटिंग वही रहेगी जिसे उपयोगकर्ता ने
इंस्टॉलेशन / पहली बार चलाने के समय चुना था.
यह नीति सिर्फ़ Windows के उन इंस्टैंस पर उपलब्ध है जिन्हें किसी <ph name="MS_AD_NAME" /> डोमेन से जोड़ा गया है, या फिर Windows 10 Pro या Enterprise के उन इंस्टैंस पर उपलब्ध है जिनका नाम डिवाइस प्रबंधन के लिए दर्ज किया गया है.
(Chrome OS के लिए, DeviceMetricsReportingEnabled देखें.)</translation>
<translation id="1035385378988781231">यह नीति नियंत्रित करती है कि किसी एनटीएलएम प्रमाणीकरण के लिए <ph name="PRODUCT_NAME" /> की नेटवर्क फ़ाइल शेयर करने की सुविधा की अनुमति है या नहीं.
जब यह नीति 'सही' पर सेट की जाती है, तो ज़रूरत पड़ने पर एसएमबी शेयर के लिए एनटीएलएम प्रमाणीकरण का इस्तेमाल किया जाएगा.
जब यह नीति 'गलत' पर सेट की जाती है, तो एसएमबी शेयर के लिए एनटीएलएम प्रमाणीकरण बंद कर दिया जाएगा.
अगर नीति को सेट नहीं किया जाता है, तो एंटरप्राइज़-प्रबंधित उपयोगकर्ताओं के लिए डिफ़ॉल्ट बंद हो जाता है और गैर-प्रबंधित उपयोगकर्ताओं के लिए चालू रहता है.</translation>
<translation id="1040446814317236570">PAC यूआरएल स्ट्रिपिंग चालू करें (https:// के लिए)</translation>
<translation id="1044878202534415707">CPU/RAM उपयोग जैसे हार्डवेयर के आंकड़ों की रिपोर्ट करें.
अगर नीति को असत्य पर सेट किया जाता है, तो आंकड़ों की रिपोर्ट नहीं की जाएगी.
अगर सत्य पर सेट किया जाता है या सेट किए बिना छोड़ दिया जाता है, तो आंकड़ों की रिपोर्ट की जाएगी.</translation>
<translation id="1046484220783400299">रोके गए वेब प्लैटफ़ॉर्म सुविधाओं को सीमित समय के लिए चालू करें</translation>
<translation id="1047128214168693844">उपयोगकर्ताओं के वास्तविक स्थान पर नज़र रखने के लिए किसी भी साइट को अनुमति न दें</translation>
<translation id="1049138910114524876">वह स्थानीय भाषा कॉन्फ़िगर करती है, जिसे <ph name="PRODUCT_OS_NAME" /> साइन इन स्क्रीन पर ज़बरदस्ती लागू किया जाता है.
अगर यह नीति सेट की गई है, तो साइन इन स्क्रीन हमेशा उस स्थानीय भाषा में दिखाई देगी, जो इस नीति के पहले मान ने दी है (नीति को आगे बढ़ाने की संगतता की सूची के रूप में बताई जाती है). अगर यह नीति सेट नहीं की गई है या किसी खाली सूची पर सेट की गई है, तो साइन इन स्क्रीन पिछले उपयोगकर्ता सत्र की भाषा में दिखाई जाएगी. अगर यह नीति ऐसे मान पर सेट की गई है जो कि मान्य स्थानीय भाषा नहीं है, तो साइन इन स्क्रीन किसी फ़ॉलबैक स्थानीय भाषा (इस समय, en-US है) में दिखाई जाएगी.</translation>
<translation id="1052499923181221200">इस नीति का तब तक कोई असर नहीं होता जब तक कि SamlInSessionPasswordChangeEnabled सही न हो.
अगर नीति सही है और इसे (उदाहरण के लिए) 14 पर सेट किया गया है, तो इसका मतलब है कि SAML का इस्तेमाल करने वालों को 14 दिन पहले ही बता दिया जाएगा कि उनका पासवर्ड किसी तारीख को खत्म होने वाला है.
इसके बाद वे सत्र में पासवर्ड बदलकर और अपने पासवर्ड की अवधि खत्म होने से पहले उसे अपडेट करके इस समस्या से फटाफट निपट सकते हैं.
हालांकि, ये सूचनाएं तभी दिखाई जाएंगी, अगर पासवर्ड की अवधि खत्म होने की जानकारी SAML पहचान की सुविधा देने वाले की तरफ़ से, एसएएमएल लॉगिन के दौरान डिवाइस पर भेजी जाती है.
इस नीति को शून्य पर सेट करने का मतलब है कि इस्तेमाल करने वालों को पहले से नहीं बताया जाएगा - उन्हें तभी बताया जाएगा जब पासवर्ड की अवधि खत्म हो चुकी होगी.
अगर यह नीति सेट की जाती है, तो इस्तेमाल करने वाला न तो इसे बदल सकता है, न ही ओवरराइड कर सकता है.</translation>
<translation id="1062011392452772310">डिवाइस के लिए दूर से प्रमाणित करने की सुविधा चालू करें</translation>
<translation id="1062407476771304334">प्रतिस्थापित करें</translation>
<translation id="1079801999187584280">डेवलपर टूल के इस्तेमाल की मंज़ूरी न दें</translation>
<translation id="1087437665304381368">यह नीति सिर्फ़ <ph name="PRODUCT_OS_NAME" /> के डेवलपर मोड को नियंत्रित करती है. अगर आप Android डेवलपर विकल्प का एक्सेस रोकना चाहते हैं, तो आपको <ph name="DEVELOPER_TOOLS_DISABLED_POLICY_NAME" /> नीति सेट करनी होगी.</translation>
<translation id="1093082332347834239">अगर यह सेटिंग चालू की जाती है तो, 'रिमोट सहायता होस्ट' <ph name="UIACCESS_PERMISSION_NAME" /> अनुमतियों वाली प्रक्रिया में चलेगा. इससे रिमोट उपयोगकर्ताओं को स्थानीय उपयोगकर्ता के डेस्कटॉप पर एलिवेटेड (ऊपर दिख रही) विंडो से इंटरैक्ट करने की अनुमति मिल जाएगी.
अगर यह सेटिंग बंद की जाती है या कॉन्फ़िगर नहीं की जाती है तो, 'रिमोट सहायता होस्ट' उपयोगकर्ता के संदर्भ में चलेगा और रिमोट उपयोगकर्ता डेस्कटॉप पर एलिवेटेड विंडो में इंटरैक्ट नहीं कर सकेंगे.</translation>
<translation id="1096105751829466145">डिफ़ॉल्‍ट खोज की सुविधा देने वाली कंपनी</translation>
<translation id="1099282607296956954">साइट आइसोलेशन को हर साइट के लिए चालू करें</translation>
<translation id="1100570158310952027">
नीति ऐसे मूल की सूची (यूआरएल) या होस्टनाम पैटर्न (जैसे कि
"*.example.com") के बारे में बताती है जिनके लिए असुरक्षित मूल पर सुरक्षा पाबंदियां
लागू नहीं होंगी.
इसका इंटेंट संगठनों को लीगेसी ऐप्लिकेशन के लिए ऐसे स्वीकृत मूल सेट करने की
मंज़ूरी देना है, जो TLS परिनियोजित नहीं कर सकते हैं. साथ ही, इसका इंटेंट आंतरिक वेब डेवलपमेंट के लिए एक स्टेजिंग सर्वर सेट अप करना है ताकि उनके डेवलपर स्टेजिंग सर्वर पर
TLS परिनियोजित करने की ज़रूरत के बिना सुरक्षा प्रसंगों की ज़रूरत वाली सुविधाओं का परीक्षण
कर सकें. यह नीति मूल को ऑम्निबॉक्स में "सुरक्षित नहीं" के रूप में
लेबल होने से भी रोकेगी.
इस नीति में यूआरएल की सूची सेट करने का असर वही होगा जैसा
कमांड-लाइन फ़्लैग '--unsafely-treat-insecure-origin-as-secure' को समान यूआरएल वाली
किसी कॉमा सेपरेटेड लिस्ट पर सेट करने का होता है. अगर नीति सेट की जाती है, तो वह
कमांड-लाइन फ़्लैग को ओवरराइड कर देगी.
अगर UnsafelyTreatInsecureOriginAsSecure मौजूद है, तो यह नीति उसे ओवरराइड कर देगी.
सुरक्षा प्रसंगों पर ज़्यादा जानकारी के लिए,
https://www.w3.org/TR/secure-contexts/ देखें.
</translation>
<translation id="1107764601871839136">समूह नीति ऑब्जेक्ट (जीपीओ) कैश का जीवनकाल (घंटों में) तय करती है. हर एक नीति को लाए जाने पर जीपीओ फिर से डाउनलोड करने के बजाय, सिस्टम तब तक कैश किए गए जीपीओ इस्तेमाल कर सकता है जब तक कि उनके वर्शन में बदलाव नहीं होता. यह नीति उस ज़्यादा से ज़्यादा कुल समय को तय करती है जिसके लिए जीपीओ डाउनलोड करने से पहले कैश किए गए जीपीओ फिर से इस्तेमाल किए जा सकते हैं. फिर चालू करने और लॉग आउट करने से कैश हट जाता है.
अगर नीति सेट नहीं की जाती है, तो कैश किए गए जीपीओ 25 घंटों तक फिर से इस्तेमाल किए जा सकते हैं.
अगर नीति शून्य पर सेट की जाती है, तो जीपीओ कैश करने की सुविधा बंद हो जाती है. ध्यान रखें कि इससे सर्वर पर लोड बढ़ जाता है क्योंकि हर एक नीति को लाए जाने पर जीपीओ फिर से डाउनलोड किए जाते हैं, भले ही उनमें बदलाव न हुआ हो.</translation>
<translation id="1117462881884985156"><ph name="PRODUCT_NAME" /> यहां दिए गए होस्ट की सूची के लिए किसी भी प्रॉक्सी को नज़रअंदाज़ कर देगा.
यह नीति तभी लागू होती है अगर आपने 'प्रॉक्सी सर्वर सेटिंग बताने का तरीका चुनें' में मैन्युअल प्रॉक्सी सेटिंग चुनी हो और अगर <ph name="PROXY_SETTINGS_POLICY_NAME" /> नीति के बारे में नहीं बताया गया हो.
अगर आपने प्रॉक्सी नीतियां सेट करने का कोई दूसरा तरीका चुना हुआ है, तो आपको इस नीति को सेट किए बिना छोड़ देना चाहिए.
ज़्यादा जानकारी वाले उदाहरणों के लिए, यहां जाएं:
<ph name="PROXY_HELP_URL" />.</translation>
<translation id="1117535567637097036">Android के इंटेंट प्रबंधित करते समय इस नीति द्वारा सेट किए गए प्रोटोकॉल हैंडलर का उपयोग नहीं किया जाता.</translation>
<translation id="1118093128235245168">साइटों को उपयोगकर्ता से किसी कनेक्ट किए हुए यूएसबी डिवाइस का एक्सेस मांगने की अनुमति दें</translation>
<translation id="1128903365609589950">यह नीति वह निर्देशिका कॉन्फ़िगर करती है, <ph name="PRODUCT_NAME" /> जिसका उपयोग डिस्क पर कैश फ़ाइलें सेव करने के लिए करेगा.
अगर आप यह नीति सेट करते हैं, तो <ph name="PRODUCT_NAME" /> इस निर्देशिका का उपयोग करेगा, भले ही उपयोगकर्ता ने '--disk-cache-dir' फ़्लैग तय किया हो या न तय किया हो. डेटा खोने या दूसरी गड़बड़ियों से बचने के लिए इस नीति को किसी वॉल्यूम की मूल निर्देशिका पर या दूसरे कामों के लिए उपयोग की जाने वाली निर्देशिका पर सेट नहीं किया जाना चाहिए, क्योंकि <ph name="PRODUCT_NAME" /> उसकी सामग्री प्रबंधित करता है.
उपयोग किए जा सकने वाले वैरिएबल की सूची देखने के लिए https://www.chromium.org/administrators/policy-list-3/user-data-directory-variables पर जाएं.
अगर यह नीति सेट नहीं की जाती है, तो 'डिफ़ॉल्ट कैश निर्देशिका' का उपयोग किया जाएगा और उपयोगकर्ता उसे '--disk-cache-dir' कमांड लाइन फ़्लैग से रद्द कर सकेगा.</translation>
<translation id="113521240853905588">ऐसी भाषाएं कॉन्फ़िगर करती है जिनका इस्तेमाल <ph name="PRODUCT_OS_NAME" /> में पसंदीदा भाषाओं के तौर पर किया जा सकता है.
अगर यह नीति सेट की जाती है, तो उपयोगकर्ता इस नीति में सूची में दी गई भाषाओं में से सिर्फ़ एक भाषा को पसंदीदा भाषाओं की सूची में जोड़ सकता है. अगर यह नीति सेट नहीं की जाती है या किसी खाली सूची पर सेट की जाती है, तो उपयोगकर्ता किसी भी भाषा को पसंदीदा के रूप में बता सकता है. अगर यह नीति गलत मानों वाली किसी सूची पर सेट की जाती है, तो सभी गलत मानों को अनदेखा कर दिया जाएगा. अगर किसी उपयोगकर्ता ने पसंदीदा भाषाओं की सूची में पहले कुछ ऐसी भाषाएं जोड़ी हैं जिनकी यह नीति मंज़ूरी नहीं देती है तो उन्हें हटा दिया जाएगा. अगर उपयोगकर्ता ने पहले <ph name="PRODUCT_OS_NAME" /> को उन भाषाओं में से किसी एक में दिखाने के लिए कॉन्फ़िगर किया है जिनकी यह नीति मंज़ूरी नहीं देती है, तो अगली बार उपयोगकर्ता के साइन इन करने पर डिसप्ले की भाषा इस नीति की मंज़ूरी दी गई यूआई भाषा में बदल जाएगी. नहीं तो, <ph name="PRODUCT_OS_NAME" /> को इस नीति के बताए गए पहले सही मान में या इस नीति में सिर्फ़ गलत एंट्री होने पर, किसी फ़ॉलबैक स्थान भाषा या (जो फ़िलहाल en-US है) बदल दिया जाएगा.</translation>
<translation id="1135264353752122851">यह कॉन्फ़िगर करती है कि <ph name="PRODUCT_OS_NAME" /> उपयोगकर्ता सत्रों के लिए किन कीबोर्ड लेआउट को मंज़ूरी दी गई है.
अगर यह नीति सेट की जाती है, तो उपयोगकर्ता इस नीति में बताए गए इनपुट के तरीकों में से सिर्फ़ एक को चुन सकेगा. अगर यह नीति सेट नहीं की जाती है या किसी खाली सूची पर सेट की जाती है, तो उपयोगकर्ता इनपुट के उन सभी तरीकों को चुन सकेगा जो काम करते हैं. अगर इनपुट के मौजूदा तरीके को इस नीति में मंज़ूरी नहीं दी गई है, तो इनपुट का तरीका हार्डवेयर के कीबोर्ड लेआउट (मंज़ूरी होने पर) या इस सूची में मौजूद पहली सही प्रविष्टि पर स्विच हो जाएगा. इस सूची में मौजूद इनपुट के उन सभी तरीकों को अनदेखा कर दिया जाएगा जो गलत हैं या काम नहीं करते हैं.</translation>
<translation id="1138294736309071213">यह नीति केवल रिटेल मोड में काम करती है.
रिटेल मोड में डिवाइस के लिए साइन-इन स्‍क्रीन पर स्‍क्रीन सेवर दिखाने से पहले कुल समय तय करता है.
नीति का मान मिलीसेकंड में बताया जाना चाहिए.</translation>
<translation id="1141767714195601945">यह नीति Internet Explorer से Chrome के लिए कमांड-लाइन पैरामीटर को नियंत्रित करती है.
अगर Internet Explorer पर 'पुराने ब्राउज़र के लिए मदद' ऐड-इन इंस्टॉल नहीं है, तो यह नीति काम नहीं करेगी.
जब यह नीति सेट नहीं की जाती, तब Internet Explorer, Chrome को सिर्फ़ कमांड-लाइन पैरामीटर के तौर पर यूआरएल पास करता है.
जब यह नीति स्ट्रिंग की सूची पर सेट होती है तब खाली जगहों की मदद से स्ट्रिंग को आपस में जोड़ दिया जाता है. साथ ही, कमांड-लाइन पैरामीटर के तौर पर Chrome को पास कर दिया जाता है.
अगर वेबसाइट के किसी हिस्से में ${url} मौजूद है, तो उसे खुलने वाले पेज के यूआरएल से बदल दिया जाता है.
अगर वेबसाइट के किसी हिस्से में ${url} मौजूद नहीं है, तो कमांड लाइन के आखिर में यूआरएल जोड़ दिया जाता है.
यहां दिए गए वैरिएबल का आकार बढ़ाया जाता है. Windows पर, %ABC% को ABC वैरिएबल के मान से बदल दिया जाता है.</translation>
<translation id="1151353063931113432">इन साइटों पर छवियों की अनुमति दें</translation>
<translation id="1152117524387175066">चालू करते समय उपकरण के डेवलपर स्विच की स्थिति की रिपोर्ट करें.
अगर यह नीति सेट नहीं की जाती है, या 'गलत' पर सेट की जाती है, तो डेवलपर स्विच की स्थिति की रिपोर्ट नहीं की जाएगी.</translation>
<translation id="1160479894929412407">QUIC प्रोटोकॉल की मंज़ूरी देती है</translation>
<translation id="1160939557934457296">'सुरक्षित ब्राउज़िंग' के चेतावनी पेज को नज़रअंदाज़ करके आगे बढ़ने की सुविधा बंद करें</translation>
<translation id="1189817621108632689">आपको उन साइटों के बारे में बताने वाले यूआरएल पैटर्न की सूची सेट करने देती है जिन्हें इमेज दिखाने की मंज़ूरी नहीं है.
अगर यह नीति सेट किए बिना छोड़ दी जाती है, तो सभी साइटों के लिए वैश्विक डिफ़ॉल्ट मान का इस्तेमाल या तो 'DefaultImagesSetting' नीति के सेट होने पर इससे किया जाएगा या फिर उपयोगकर्ता के निजी कॉन्फ़िगरेशन से किया जाएगा.
ध्यान दें कि पहले इस नीति को Android पर गलती से चालू कर दिया गया था लेकिन इस काम की क्षमता ने कभी भी Android पर पूरी तरह से काम नहीं किया.</translation>
<translation id="1194005076170619046">अगर यह नीति चालू की गई हो, तो किसी सत्र के चालू होने और स्क्रीन लॉक नहीं होने के दौरान, लाल रंग का लॉगआउट करें बटन सिस्टम ट्रे में दिखाई देता है.
अगर यह नीति बंद हो या इसके बारे में बताया न गया हो, तो सिस्टम ट्रे में लाल रंग का लॉगआउट करें बटन दिखाई देता है.</translation>
<translation id="1197437816436565375">आप Android ऐप्लिकेशन को प्रॉक्सी का इस्तेमाल करने के लिए मजबूर नहीं कर सकते. Android ऐप्लिकेशन को प्रॉक्सी सेटिंग का सबसेट उपलब्ध कराया जाता है, जिसे वे अपनी पसंद से इस्तेमाल करना चुन सकते हैं. ज़्यादा जानकारी के लिए <ph name="PROXY_MODE_POLICY_NAME" /> नीति देखें.</translation>
<translation id="1198465924256827162">डिवाइस स्थिति अपलोड भेजना कितने मिलीसेकंड में दोहराया जाता है.
अगर पॉलिसी सेट नहीं की गई हो, तो डिफ़ॉल्‍ट आवृत्‍ति 3 घंटे की होती है. कम से कम
60 सेकंड की आवृत्ति की अनुमति है.</translation>
<translation id="1204263402976895730">एंटरप्राइज़ प्रिंटर चालू हैं</translation>
<translation id="1216919699175573511">साइन की हुई एचटीटीपी एक्सचेंज (एसएक्सजी) सहायता चालू करें</translation>
<translation id="1219695476179627719">यह बताती है कि क्या डिवाइस को <ph name="DEVICE_TARGET_VERSION_PREFIX_POLICY_NAME" /> के ज़रिए सेट किए गए वर्शन में रोल बैक करना चाहिए जबकि डिवाइस पहले से ही उसके बाद के वर्शन का इस्तेमाल कर रहा है.
RollbackDisabled डिफ़ॉल्ट है.</translation>
<translation id="1221359380862872747">बताए गए यूआरएल को डेमो लॉग इन पर लोड करें</translation>
<translation id="1223789468190631420">सुरक्षित ब्राउज़िंग भरोसेमंद स्रोतों की स्थिति चालू करती है</translation>
<translation id="122899932962115297">श्वेतसूची नियंत्रक जिसमें झटपट अनलॉक मोड को कॉन्फ़िगर करके उपयोगकर्ता, लॉक स्क्रीन अनलॉक करने के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं.
यह मान कई स्ट्रिंग की एक सूची है; मान्य सूची एंट्रियां हैं: "सभी", "पिन", "फ़िंगरप्रिंट". सूची में "सभी" जोड़ने का मतलब है कि हर एक झटपट अनलॉक मोड उपयोगकर्ता के लिए उपलब्ध है, इसमें आने वाले समय में इस्तेमाल करने वाले भी शामिल हैं. नहीं तो, सूची में मौजूद झटपट अनलॉक मोड ही उपलब्ध होंगे.
उदाहरण के लिए, हर एक झटपट अनलॉक मोड को अनुमति देने के लिए, ["सभी"] का इस्तेमाल करें. सिर्फ़ पिन अनलॉक करने की अनुमति देने के लिए, ["पिन"] का इस्तेमाल करें. पिन और फ़िंगरप्रिंट की अनुमति देने के लिए, ["पिन", "फ़िंगरप्रिंट"] का इस्तेमाल करें. सभी झटपट अनलॉक मोड बंद करने के लिए, [] का इस्तेमाल करें.
           डिफ़ॉल्ट रूप से, प्रबंधित डिवाइस के लिए कोई झटपट अनलॉक मोड उपलब्ध नहीं हैं.</translation>
<translation id="123081309365616809">डिवाइस पर सामग्री कास्ट करना चालू करें</translation>
<translation id="1231349879329465225">'तेज़ ट्रांज़िशन' को चालू या बंद करती है.
यह सभी उपयोगकर्ताओं पर और डिवाइस पर मौजूद सभी इंटरफ़ेस पर लागू होता है.
'तेज़ ट्रांज़िशन' का इस्तेमाल किए जाने के लिए, यह सेटिंग और नेटवर्क से पहले की ONC प्रॉपर्टी, दोनों का चालू रहना ज़रूरी है.
सेट हो जाने पर, 'तेज़ ट्रांज़िशन' तब तक बना रहता है जब तक कि उसे बंद करने के लिए नीति में बदलाव नहीं किया जाता.
अगर यह नीति नहीं सेट की गई है या गलत पर सेट की गई है, तो 'तेज़ ट्रांज़िशन' का इस्तेमाल नहीं किया जाता.
अगर सही पर सेट की जाती है, तो 'तेज़ ट्रांज़़िशन' का इस्तेमाल तब किया जाता है जब वायरलेस एक्सेस पॉइंट इसकी सुविधा देता हो.</translation>
<translation id="1243570869342663665">'सुरक्षित साइट' की वयस्क सामग्री फ़िल्टरिंग को नियंत्रित करें.</translation>
<translation id="1257550411839719984">डिफ़ॉल्ट डाउनलोड निर्देशिका सेट करें</translation>
<translation id="1265053460044691532">उस समय को सीमित करें, जिसमें SAML के ज़रिए प्रमाणित किया गया उपयोगकर्ता ऑफ़लाइन लॉग इन कर सकता है.</translation>
<translation id="1290634681382861275">कई तरह की सेटिंग को नियंत्रित करती है, जिसमें यूएसबी, ब्लूटूथ, पॉलिसी रीफ़्रेश, डेवलपर मोड और दूसरी कई चीज़ें शामिल हैं.</translation>
<translation id="1291880496936992484">चेतावनी: RC4 को वर्शन 52 (सितंबर 2016 के आस-पास) के बाद पूरी तरह <ph name="PRODUCT_NAME" /> से निकाल दिया जाएगा और तब यह पॉलिसी काम करना बंद कर देगी.
अगर पॉलिसी को सेट नहीं किया जाता है या असत्य पर सेट किया जाता है, तो RC4 के सिफ़र सुइट को TLS में सक्षम नहीं किया जाएगा. अन्यथा किसी पुराने सर्वर के साथ संगतता बनाए रखने के लिए उसे सत्य पर सेट किया जा सकता है. यह एक स्‍टॉपगैप उपाय है और सर्वर को पुनः कॉन्फ़िगर किया जाना चाहिए.</translation>
<translation id="1297182715641689552">किसी .pac प्रॉक्सी स्क्रिप्ट का उपयोग करें</translation>
<translation id="1304973015437969093">बिना सूचना के इंस्टॉल किए जाने वाले एक्सटेंशन/ऐप्लिकेशन आईडी और अपडेट यूआरएल</translation>
<translation id="1307454923744766368">ऐसे मूल या होस्टनाम पैटर्न जिनके लिए असुरक्षित मूल की पाबंदियां
लागू नहीं होनी चाहिए</translation>
<translation id="1312799700549720683">डिसप्ले सेटिंग नियंत्रित करती है.</translation>
<translation id="131353325527891113">प्रवेश स्क्रीन पर उपयोगकर्ता नाम दिखाएं</translation>
<translation id="1327466551276625742">ऑफ़लाइन होने पर नेटवर्क कॉन्फ़िगरेशन संकेत चालू करें</translation>
<translation id="1330145147221172764">ऑन-स्क्रीन कीबोर्ड चालू करें</translation>
<translation id="13356285923490863">नीति का नाम</translation>
<translation id="1347198119056266798">इस नीति का इस्तेमाल रोक दिया गया है, कृपया इसके बजाय <ph name="FORCE_GOOGLE_SAFE_SEARCH_POLICY_NAME" /> और <ph name="FORCE_YOUTUBE_RESTRICT_POLICY_NAME" /> का इस्तेमाल करें. अगर <ph name="FORCE_GOOGLE_SAFE_SEARCH_POLICY_NAME" />, <ph name="FORCE_YOUTUBE_RESTRICT_POLICY_NAME" /> या (इस्तेमाल से रोकी गई) <ph name="FORCE_YOUTUBE_SAFETY_MODE_POLICY_NAME" /> नीतियां सेट हों, तो इस नीति को अनदेखा किया जाता है.
'Google वेब खोज' में 'सुरक्षित खोज' के चालू रहते हुए क्वेरी करने देती है. साथ ही, इस्तेमाल करने वालों को यह सेटिंग बदलने से रोकती है. यह सेटिंग YouTube पर 'मॉडरेट पाबंदी मोड' भी लागू करती है.
अगर आप इस सेटिंग को चालू करते हैं, तो 'Google सर्च' में 'सुरक्षित खोज' और 'मॉडरेट पाबंदी मोड YouTube' हमेशा चालू रहता है.
अगर आप यह सेटिंग चालू करते हैं या कोई मान सेट नहीं करते हैं, तो 'Google सर्च' में 'सुरक्षित खोज' और YouTube में 'पाबंदी मोड' लागू नहीं होता है.</translation>
<translation id="1352174694615491349">क्लाइंट प्रमाणपत्रों के इस्तेमाल में होने पर यह नीति HTTP/2 कनेक्शन को एक साथ मिलाने देती है. एक साथ मिलाने के लिए, संभावित नए कनेक्शन के होस्टनाम और मौजूदा कनेक्शन के होस्टनाम का मिलान, इस नीति में बताए गए एक या इससे ज़्यादा पैटर्न से होना चाहिए. नीति उन होस्ट की एक सूची है जो URLBlacklist फ़िल्टर फ़ॉर्मेट का इस्तेमाल कर रहे हैं: "example.com" का मिलान "example.com" और सभी उपडोमेन (जैसे "sub.example.com") से होता है, वहीं ".example.net" का मिलान ठीक "example.net" से होता है.
क्लाइंट प्रमाणपत्रों का इस्तेमाल करने वाले कनेक्शन पर अलग-अलग होस्ट में किए जाने वाले Coalescing के अनुरोधों से, सुरक्षा और निजता संबंधी समस्याएं आ सकती हैं क्योंकि एंबिएंट अनुमति सभी अनुरोधों तक भेजी जाएगी. उपयोगकर्ता ने साफ़ तौर पर इसकी अनुमति नहीं दी हो तब भी ऐसा हो सकता है. यह नीति कुछ समय के लिए है और इसे आने वाली रिलीज़ में हटा दिया जाएगा. https://crbug.com/855690 देखें.
अगर यह नीति सेट किए बिना छोड़ दी जाती है, तो फिर क्लाइंट प्रमाणपत्रों का इस्तेमाल करने वाले कनेक्शन पर किसी भी HTTP/2 कनेक्शन coalescing को मंज़ूरी नहीं देने के डिफ़ाॅल्ट व्यवहार का इस्तेमाल किया जाएगा.</translation>
<translation id="1354424209129232709">ज़्यादा से ज़्यादा:</translation>
<translation id="1354452738176731363">जब यह नीति गलत पर सेट की जाती है, तो इस्तेमाल करने वाले के लॉग इन होने के दौरान डिवाइस पर ऑडियो आउटपुट उपलब्ध नहीं रहेगा.
इस नीति का असर सभी तरह के ऑडियो पर होता है, न कि सिर्फ़ पहले से मौजूद स्पीकर पर. यह नीति ऑडियो सुलभता सुविधाओं को भी रोकती है. अगर इस्तेमाल करने वाले को किसी स्क्रीन रीडर की ज़रूरत है, तो इस नीति को चालू न करें.
अगर यह सेटिंग सही पर सेट की जाती है या कॉन्फ़िगर नहीं की जाती, तो फिर उपयोगकर्ता अपने डिवाइस पर काम करने वाले सभी ऑडियो आउटपुट का इस्तेमाल कर सकते हैं.</translation>
<translation id="1359553908012294236">अगर यह नीति 'सही' पर सेट है या कॉन्‍फ़िगर नहीं है, तो <ph name="PRODUCT_NAME" /> के मेहमान लॉगिन को चालू किया जाएगा. मेहमान लॉगिन वे <ph name="PRODUCT_NAME" /> प्रोफ़ाइल हैं जहां सभी विंडो गुप्त मोड में होते हैं.
अगर यह नीति 'गलत' पर सेट है, तो <ph name="PRODUCT_NAME" /> मेहमान प्रोफ़ाइल को शुरू करने की अनुमति नहीं देगा.</translation>
<translation id="1363275621236827384">हार्डवेयर प्रोफ़ाइल के लिए Quirks Server में क्वेरी चालू करें</translation>
<translation id="1363612796557848469">यह नीति Google Assistant को स्क्रीन की सामग्री एक्सेस करने और सर्वर पर जानकारी भेजने की अनुमति देती है.
अगर यह नीति चालू की जाती है, तो Google Assistant को स्क्रीन की सामग्री एक्सेस करने की अनुमति मिल जाएगी.
अगर यह नीति बंद कर दी जाती है, तो Google Assistant को स्क्रीन की सामग्री एक्सेस करने की अनुमति नहीं मिल पाएगी.
अगर नीति सेट नहीं की जाती है, तो उपयोगकर्ता यह तय कर सकते हैं कि Google Assistant स्क्रीन की सामग्री एक्सेस करने की अनुमति दी जाए या नहीं</translation>
<translation id="1376119291123231789">बेहतर बैटरी चार्ज मोड चालू करें</translation>
<translation id="1383493480903114193">यह नीति, नेटवर्किंग कोड को ब्राउज़र प्रोसेस में ही चलाती है.
यह नीति डिफ़ॉल्ट रूप से बंद रहती है. अगर इसे चालू किया जाता है, तो नेटवर्किंग प्रक्रिया के सैंडबॉक्स हो जाने के बाद उपयोगकर्ताओं की सुरक्षा के लिए खतरे पैदा हो सकते हैं.
यह नीति लागू करने का मकसद यह है कि उद्योग कोई ऐसा तीसरे पक्ष के सॉफ़्टवेयर इस्तेमाल कर पाएं जिसे नेटवर्किंग एपीआई को हुक करने पर निर्भर न रहना पड़ता हो. LSP और Win32 एपीआई पैचिंग सुविधा के लिए प्रॉक्सी सर्वर इस्तेमाल करने का सुझाव दिया जाता है.
नीति सेट न होने पर, शायद नेटवर्किंग कोड ब्राउज़र प्रोसेस से बाहर चलेगा. यह इस पर निर्भर करता है कि NetworkService प्रयोग की फ़ील्ड जाँच के नतीजे क्या निकलते हैं.</translation>
<translation id="1384459581748403878">संदर्भ: <ph name="REFERENCE_URL" /></translation>
<translation id="1384653327213929024">उपयोगकर्ताओं को इंस्टॉल किए गए प्रमाणपत्र प्रबंधित करने दें</translation>
<translation id="1393485621820363363">एंटरप्राइज़ डिवाइस प्रिंटर चालू</translation>
<translation id="1397855852561539316">डिफ़ॉल्ट खोज की सुविधा देने वाला सुझाव URL</translation>
<translation id="1404043648050567997">जब उपयोगकर्ता ऐसी साइटों पर जाते हैं जिन्हें नुकसान पहुंचाने वाली साइट के रूप में फ़्लैग किया गया है, तो सुरक्षित ब्राउज़िंग सेवा एक चेतावनी पेज दिखाती है. यह सेटिंग चालू करके उपयोगकर्ताओं को किसी भी हाल में चेतावनी पेज से नुकसान पहुंचाने वाली साइट पर जाने से रोका जा सकता है.
यह नीति उपयोगकर्ताओं को सिर्फ़ सुरक्षित ब्राउज़िंग की चेतावनियां (जैसे कि मैलवेयर और फ़िशिंग) मिलने पर आगे बढ़ने से रोकती है. एसएसएल प्रमाणपत्र से जुड़ी समस्याओं, जैसे कि प्रमाणपत्र गलत होने या उनकी समय-सीमा पूरी हो जाने के लिए उपयोगकर्ताओं को नहीं रोका जाता.
अगर यह सेटिंग बंद की जाती है या कॉन्फ़िगर नहीं की जाती, तो उपयोगकर्ता चेतावनी देखने के बाद फ़्लैग की गई साइट पर जाने का विकल्प चुन सकते हैं.
'सुरक्षित ब्राउज़िंग' के बारे में ज़्यादा जानकारी के लिए, https://developers.google.com/safe-browsing देखें.</translation>
<translation id="1413936351612032792">Linux ऐप्लिकेशन के इस्तेमाल के बारे में जानकारी की रिपोर्ट करें</translation>
<translation id="142346659686073702">जो उपयोगकर्ता जुड़े नहीं हैं उन्हें Crostini का इस्तेमाल करने दें</translation>
<translation id="1426410128494586442">हां</translation>
<translation id="1427655258943162134">प्रॉक्सी सर्वर का पता या URL</translation>
<translation id="1431272318313028342"><ph name="PRODUCT_NAME" /> की 'सुरक्षित ब्राउज़िंग' सुविधा को चालू करती है और उपयोगकर्ताओं को इस सेटिंग को बदलने से रोकती है.
अगर आप यह सेटिंग चालू करते हैं, तो 'सुरक्षित ब्राउज़िंग' हमेशा चालू रहती है.
अगर आप यह सेटिंग बंद करते हैं, तो 'सुरक्षित ब्राउज़िंग' कभी चालू नहीं होती.
अगर आप यह सेटिंग चालू या बंद करते हैं, तो उपयोगकर्ता <ph name="PRODUCT_NAME" /> में "फ़िशिंग और मैलवेयर सुरक्षा चालू करें" सेटिंग को बदल नहीं सकते, न ही उसे ओवरराइड कर सकते हैं.
अगर यह नीति सेट किए बिना छोड़ दी जाती है, तो यह चालू हो जाएगी लेकिन उपयोगकर्ता इसमें बदलाव कर सकेगा.
'सुरक्षित ब्राउज़िंग' के बारे में ज़्यादा जानकारी के लिए, https://developers.google.com/safe-browsing देखें.
यह नीति सिर्फ़ Windows के उन इंस्टैंस पर उपलब्ध है जिन्हें किसी <ph name="MS_AD_NAME" /> डोमेन से जोड़ा गया है, या फिर Windows 10 Pro या Enterprise के उन इंस्टैंस पर उपलब्ध है जिनका नाम डिवाइस प्रबंधन के लिए दर्ज किया गया है.</translation>
<translation id="1432194160771348078">
यह नीति ऐसे ऐप्लिकेशन की सूची के बारे में बताती है जिन्हें गुपचुप तरीके से,
इस्तेमाल करने वालों के इंटरैक्शन के बिना लॉगिन स्क्रीन पर इंस्टॉल किया गया है और जिन्हें अनइंस्टॉल नहीं किया जा सकता है.
ऐप्लिकेशन की मांगी गई सभी अनुमतियां बिना ज़्यादा सोचे-समझे
इस्तेमाल करने वाले के इंटरैक्शन के बिना दे दी जाती हैं, जिनमें ऐप्लिकेशन के आगे आने वाले वर्शन
की मांगी गईं सभी अनुमतियां शामिल होती हैं.
ध्यान रखें कि सुरक्षा और निजता की वजहों से, इस नीति के इस्तेमाल से एक्सटेंशन इंस्टॉल करने की अनुमति नहीं दी जाती है. इतना ही नहीं, 'स्थिर चैनल' पर मौजूद डिवाइस सिर्फ़ वही ऐप्लिकेशन इंस्टॉल करेंगे जो <ph name="PRODUCT_NAME" /> में बंडल कर मंज़ूरी दी गई सूची से जुड़ी हैं. इन शर्तों का पालन नहीं करने वाले सभी आइटम नज़रअंदाज़ कर दिए जाएंगे.
अगर अनइंस्टॉल न किए जा सकने वाले किसी ऐप्लिकेशन को इस सूची से हटाया जाता है, तो <ph name="PRODUCT_NAME" /> इसे अपने आप अनइंस्टॉल कर देता है.
सूची में शामिल नीति का हर आइटम ऐसी स्ट्रिंग है जिसमें एक एक्सटेंशन आईडी और एक "अपडेट" यूआरएल होता है जिन्हें सेमीकोलन (<ph name="SEMICOLON" />) से अलग किया जाता है. एक्सटेंशन आईडी डेवलपर मोड में होने पर <ph name="CHROME_EXTENSIONS_LINK" /> पर मिलने वाली 32-अक्षर वाली स्ट्रिंग की तरह होता है. "अपडेट" यूआरएल से कोई 'अपडेट मेनिफ़ेस्ट एक्सएमएल' दस्तावेज़ खुलना चाहिए जैसा कि <ph name="LINK_TO_EXTENSION_DOC1" /> में बताया गया है. ध्यान रखें कि इस नीति में सेट किए गए "अपडेट" यूआरएल का इस्तेमाल सिर्फ़ शुरुआती इंस्टॉलेशन के लिए किया जाता है; बाद में होने वाले एक्सटेंशन के अपडेट, एक्सटेंशन के मेनिफ़ेस्ट में बताए गए अपडेट यूआरएल को लागू करते हैं.
उदाहरण के लिए, <ph name="EXTENSION_POLICY_EXAMPLE" /> मानक 'Chrome वेब स्टोर' के "अपडेट" यूआरएल से <ph name="EXTENSION_POLICY_EXAMPLE_EXTENSION_NAME" /> ऐप्लिकेशन इंस्टॉल करता है. होस्ट करने वाले एक्सटेंशन के बारे में ज़्यादा जानकारी के लिए, यहां देखें: <ph name="LINK_TO_EXTENSION_DOC2" />.</translation>
<translation id="1435659902881071157">डिवाइस-स्‍तरीय नेटवर्क कॉन्‍फ़‍िगरेशन</translation>
<translation id="1438739959477268107">डिफ़ॉल्ट कुंजी जेनरेशन सेटिंग</translation>
<translation id="1454846751303307294">वैसी साइट जिनमें JavaScript चलाने की अनुमति नहीं है, उनके लिए यूआरएल पैटर्न की सूची सेट करने की सुविधा देती है.
अगर इस नीति को सेट नहीं किया जाता है तो, सभी साइट के लिए वैश्विक डिफ़ॉल्ट मान का इस्तेमाल किया जाएगा. अगर 'DefaultJavaScriptSetting' सेट है तो, यह मान इससे लिया जाएगा नहीं तो फिर उपयोगकर्ता के निजी कॉन्फ़िगरेशन का इस्तेमाल किया जाएगा.</translation>
<translation id="1456822151187621582">Windows (<ph name="PRODUCT_OS_NAME" /> क्लाइंट):</translation>
<translation id="1458547592473993238">इस नीति का समर्थन रोक दिया गया है. कृपया Flash प्लग इन की उपलब्धता नियंत्रित करने के लिए <ph name="DEFAULT_PLUGINS_SETTING_POLICY_NAME" /> का इस्तेमाल करें. साथ ही, पीडीएफ़ फ़ाइलें खोलने के लिए इंटीग्रेटेड पीडीएफ़ व्यूअर का इस्तेमाल किया जाना चाहिए या नहीं, इसे नियंत्रित करने के लिए <ph name="ALWAYS_OPEN_PDF_EXTERNALLY_POLICY_NAME" /> का इस्तेमाल करें.
उन प्लग इन की सूची के बारे में बताती है जिन्हें <ph name="PRODUCT_NAME" /> में बंद किया गया है और इस्तेमाल करने वालों को यह सेटिंग बदलने से रोकती है.
वाइल्डकार्ड वर्ण '*' और '?' का इस्तेमाल मनचाहे वर्णों के क्रम से मिलान करने के लिए किया जा सकता है. '*' का मिलान वर्णों की मनचाही संख्या से होता है, वहीं '?' एक वैकल्पिक वर्ण के बारे में बताता है; यानी वह शून्य या एक वर्णों से मिलान करता है. एस्केप वर्ण '\' है, इसलिए असली '*', '?' या '\' वर्णों का मिलान करने के लिए, आप उनके सामने एक '\' लगा सकते हैं.
अगर आप यह सेटिंग चालू करते हैं, तो प्लग इन की बताई गई सूची का <ph name="PRODUCT_NAME" /> में कभी भी इस्तेमाल नहीं किया जाता है. ये प्लग इन 'about:plugins' में बंद के रूप में मार्क किए जाते हैं और इस्तेमाल करने वाले उन्हें चालू नहीं कर सकते हैं.
ध्यान दें कि EnabledPlugins और DisabledPluginsExceptions इस नीति को ओवरराइड कर सकते हैं.
अगर यह नीति सेट किए बिना छोड़ दी जाती है तो इस्तेमाल करने वाला व्यक्ति हार्ड कोड किए गए असंगत, पुराने या खतरनाक प्लग इन को छोड़कर, सिस्टम पर इंस्टॉल किए गए किसी भी प्लग इन का इस्तेमाल कर सकता है.</translation>
<translation id="1464848559468748897">यह नीति <ph name="PRODUCT_OS_NAME" /> डिवाइसों पर 'एक से ज़्यादा प्रोफ़ाइल सत्र' में उपयोगकर्ता के व्यवहार को नियंत्रित करती है.
अगर यह नीति 'MultiProfileUserBehaviorUnrestricted' पर सेट है, तो उपयोगकर्ता 'एक से ज़्यादा प्रोफ़ाइल सत्र' में या तो प्राथमिक या कोई दूसरा उपयोगकर्ता हो सकता है.
अगर यह नीति 'MultiProfileUserBehaviorMustBePrimary' पर सेट है, तो उपयोगकर्ता 'एक से ज़्यादा प्रोफ़ाइल सत्र' में सिर्फ़ प्राथमिक उपयोगकर्ता हो सकता है.
अगर यह नीति 'MultiProfileUserBehaviorNotAllowed' पर सेट है, तो उपयोगकर्ता 'एक से ज़्यादा प्रोफ़ाइल सत्र' का हिस्सा नहीं हो सकता.
अगर आप इस सेटिंग को सेट करते हैं, तो उपयोगकर्ता इसे बदल नहीं सकते या ओवरराइड नहीं कर सकते.
अगर सेटिंग को उपयोगकर्ता के 'एक से ज़्यादा प्रोफ़ाइल सत्र' में साइन इन रहने के दौरान बदला जाता है, तो सत्र के सभी उपयोगकर्ताओं की उनकी-उनकी सेटिंग के हिसाब से जाँच की जाएगी. अगर उपयोगकर्ताओं में से किसी एक को सत्र में रहने की अनुमति नहीं दी जाती तो सत्र बंद कर दिया जाएगा.
अगर नीति सेट नहीं की जाती है, तो एंटरप्राइज़-प्रबंधित उपयोगकर्ताओं के लिए डिफ़ॉल्ट मान 'MultiProfileUserBehaviorMustBePrimary' लागू होगा और गैर-प्रबंधित उपयोगकर्ताओं के लिए 'MultiProfileUserBehaviorUnrestricted' का उपयोग किया जाएगा.</translation>
<translation id="1465619815762735808">चलाने के लिए क्लिक करें</translation>
<translation id="1468307069016535757">लॉग इन स्क्रीन पर ज़्यादा कॉन्ट्रास्ट वाले मोड की उपलब्धता सुविधा की डिफ़ॉल्ट स्थिति तय करें.
अगर यह नीति 'सही' पर सेट है, तो लॉग इन स्क्रीन के दिखाई देने पर ज़्यादा कॉन्ट्रास्ट वाला मोड चालू हो जाएगा.
अगर नीति 'गलत' पर सेट है, तो लॉग इन स्क्रीन के दिखाई देने पर ज़्यादा कॉन्ट्रास्ट वाला मोड बंद हो जाएगा.
अगर आप इस नीति को सेट करते हैं, तो उपयोगकर्ता ज़्यादा कॉन्ट्रास्ट वाले मोड को चालू या बंद करके इसे अस्थायी रूप से रद्द कर सकते हैं. हालांकि, उपयोगकर्ता की पसंद स्थायी नहीं होती है और लॉग इन स्क्रीन के फिर से दिखाई देने या उपयोगकर्ता जब लॉग इन स्क्रीन पर एक मिनट तक कोई गतिविधि नहीं करता, तो डिफ़ॉल्ट स्थिति लागू हो जाती है.
अगर यह नीति जोड़े बिना छोड़ दी जाती है, तो लॉग इन स्क्रीन के पहली बार दिखाई देने पर ज़्यादा कॉन्ट्रास्ट वाला मोड बंद हो जाता है. उपयोगकर्ता जब चाहें ज़्यादा कॉन्ट्रास्ट वाला मोड चालू या बंद कर सकते हैं और उपयोगकर्ताओं के बीच लॉग इन स्क्रीन पर इसकी स्थिति स्थायी हो जाती है.</translation>
<translation id="1468707346106619889">अगर इस नीति को सही' पर सेट किया गया है, तो 'यूनिफ़ाइड डेस्कटॉप' की अनुमति मिल जाती है और
यह सुविधा डिफ़ॉल्ट रूप से चालू रहती है. इससे ऐप्लिकेशन, एक से ज़्यादा स्क्रीन पर दिखाई दे
सकता है.
उपयोगकर्ता को अगर अकेले ही कुछ देखना है, तो वह डिसप्ले सेटिंग में 'यूनिफ़ाइड डेस्कटॉप' के
आगे लगा सही का निशान हटाकर उसे बंद कर सकता है.
अगर इस नीति को 'गलत' पर सेट किया गया है या इसे सेट नहीं किया गया है, तो 'यूनिफ़ाइड डेस्कटॉप' की सुविधा बंद हो जाएगी. ऐसा होने पर उपयोगकर्ता इस सुविधा को चालू नहीं कर सकता.</translation>
<translation id="1474273443907024088">'TLS फ़ॉल्स स्टार्ट' बंद करें</translation>
<translation id="1477934438414550161">TLS 1.2</translation>
<translation id="1502843533062797703">तीसरे पक्ष के सॉफ़्टवेयर इंजेक्शन को ब्लॉक करना चालू करें</translation>
<translation id="1507382822467487898">
यह नीति कॉन्फ़िगर करती है कि डिवाइस से कोई डॉक कनेक्ट किए जाने पर किस MAC (मीडिया एक्सेस कंट्रोल) पते का इस्तेमाल किया जाएगा.
जब कुछ डिवाइस से डॉक कनेक्ट करते हैं, तो ईथरनेट पर डिफ़ॉल्ट रूप से डिवाइस की पहचान के लिए, डिवाइस के खास तौर पर बनाए गए डॉक MAC पते का इस्तेमाल किया जाता है. यह नीति एडमिन को, डॉक होने के दौरान MAC पते का स्रोत बदलने देती है.
अगर 'DeviceDockMacAddress' चुना गया हो या नीति को सेट किए बिना छोड़ दिया गया हो, तो डिवाइस के खास तौर पर बनाए गए डॉक MAC पते का इस्तेमाल किया जाएगा.
अगर 'DeviceNicMacAddress' को चुना गया हो, तो डिवाइस के NIC (नेटवर्क इंटरफ़ेस कंट्रोलर) MAC पते का इस्तेमाल किया जाएगा.
अगर 'DockNicMacAddress' को चुना गया हो, डॉक के NIC MAC पते का इस्तेमाल किया जाएगा.
इस्तेमाल करने वाला इस सेटिंग को नहीं बदल सकता.</translation>
<translation id="1507957856411744193">अगर यह नीति सही पर सेट की जाती है, तो <ph name="PRODUCT_NAME" /> सिर्फ़ RFC1918/RFC4193 निजी पतों पर ही नहीं बल्कि सभी आईपी पतों पर कास्ट डिवाइस से कनेक्ट करेगा.
अगर यह नीति गलत पर सेट की जाती है, तो <ph name="PRODUCT_NAME" /> सिर्फ़ RFC1918/RFC4193 निजी पतों पर ही कास्ट डिवाइस से कनेक्ट करेगा.
अगर इस नीति को सेट नहीं किया जाता है, तो CastAllowAllIPs विशेषता के चालू रहने तक ही <ph name="PRODUCT_NAME" /> सिर्फ़ RFC1918/RFC4193 निजी पतों पर कास्ट डिवाइस से कनेक्ट करेगा.
अगर "EnableMediaRouter" नीति गलत पर सेट की जाती है, तो इस नीति के मान का कोई प्रभाव नहीं होगा.</translation>
<translation id="1509692106376861764">इस नीति को <ph name="PRODUCT_NAME" /> वर्शन 29 में खत्म कर दिया गया है.</translation>
<translation id="1514888685242892912"><ph name="PRODUCT_NAME" /> को चालू करें</translation>
<translation id="1522425503138261032">उपयोगकर्ताओं के वास्तविक स्थान पर नज़र रखने के लिए साइटों को अनुमति दें</translation>
<translation id="1523774894176285446">कॉन्फ़िगर की गई वेबसाइट लॉन्च करने के लिए वैकल्पिक ब्राउज़र.</translation>
<translation id="152657506688053119">डिफ़ॉल्ट खोज की सुविधा देने वाले के लिए वैकल्पिक URL की सूची</translation>
<translation id="1530812829012954197">होस्ट ब्राउज़र में हमेशा, दिए गए इन URL का पैटर्न बनाएं</translation>
<translation id="1541170838458414064">पेज आकार को प्रिंट करना रोक देती है</translation>
<translation id="1553684822621013552">जब यह नीति सही पर सेट होती है, तो उपयोगकर्ता के लिए एआरसी को चालू कर दिया जाएगा
(नीति संबंधी सेटिंग की और ज़्यादा जाँच का विषय - एआरसी तब भी
उपलब्ध नहीं रहेगा अगर मौजूदा उपयोगकर्ता सत्र में अल्पकालिक मोड या एक से ज़्यादा साइन इन
को चालू किया गया हो).
अगर यह सेटिंग बंद है या कॉन्फ़िगर नहीं है तो, एंटरप्राइज़ उपयोगकर्ता
एआरसी का इस्तेमाल नहीं कर सकेंगे.</translation>
<translation id="1559980755219453326">यह नीति नियंत्रित करती है कि एक्सटेंशन और प्लग इन से जुड़ी जानकारी दी जाए या नहीं.
जब यह नीति सेट नहीं की जाती है या 'सही' पर सेट की जाती है, तो एक्सटेंशन और प्लग इन से जुड़ी जानकारियां इकट्ठी की जाती हैं.
जब यह नीति 'गलत' पर सेट की जाती है, तो एक्सटेंशन और प्लग इन से जुड़ी जानकारियां इकट्ठी नहीं की जाती हैं.
यह नीति सिर्फ़ तब लागू होती है जब <ph name="CHROME_REPORTING_EXTENSION_NAME" /> चालू हो और मशीन का नाम <ph name="MACHINE_LEVEL_USER_CLOUD_POLICY_ENROLLMENT_TOKEN_POLICY_NAME" /> के ज़रिए दर्ज कराया गया हो.</translation>
<translation id="1560205870554624777">यह नीति नियंत्रित करती है कि केर्बेरोस से जुड़ी सुविधाएं चालू है या नहीं. केर्बेरोस एक पुष्टि करने वाला प्रोटोकॉल है जिससे वेब ऐप्लिकेशन और फ़ाइल शेयर की पुष्टि की जा सकती है.
इस नीति के चालू होने पर केर्बेरोस से जुड़ी सुविधाएं भी चालू होती हैं. केर्बेरोस खाते, 'केर्बेरोस खाते कॉन्फ़िगर करें' नीति या 'पीपल सेटिंग पेज' में केर्बेरोस खाते सेटिंग के ज़रिए जोड़े जा सकते हैं.
अगर यह नीति बंद होती है या सेट नहीं होती है, तो केर्बेरोस खाते सेटिंग बंद की जाती हैं. कोई केर्बेरोस खाता जोड़ा नहीं जा सकता है और केर्बेरोस पुष्टि का इस्तेमाल नहीं किया जा सकता है. सभी मौजूदा केर्बेरोस खाते और स्टोर किए गए पासवर्ड मिटा दिए जाते हैं.</translation>
<translation id="1561424797596341174">दूर के किसी एक्सेस वाले होस्‍ट के डीबग बिल्‍ड के लिए नीति बदलती हैं</translation>
<translation id="1561967320164410511">अलग-अलग प्रमाणन करने के लिए U2F सहित एक्सटेंशन</translation>
<translation id="1566329065312331399">
जब यह नीति गलत पर सेट होती है, तो डिवाइस पावरवॉश ट्रिगर नहीं कर पाता.
जब यह नीति सही पर सेट होती है, तो डिवाइस पावरवॉश को ट्रिगर कर पाता है.
अगर इसे सेट नहीं किया जाता, तो इसका डिफ़ॉल्ट मान गलत रहता है. इसका मतलब है कि यह डिवाइस को पावरवॉश करने की अनुमति नहीं देती.
</translation>
<translation id="1574554504290354326">यह सेटिंग रोक दी गई है, इसके बजाय SafeBrowsingExtendedReportingEnabled का इस्तेमाल करें. SafeBrowsingExtendedReportingEnabled को चालू या बंद करना SafeBrowsingExtendedReportingOptInAllowed को गलत पर सेट करने जैसा है.
इस नीति को गलत पर सेट करने से उपयोगकर्ताओं को Google सर्वर पर कुछ सिस्टम जानकारी और पेज सामग्री भेजना चुनने से रोक दिया जाता है. अगर यह सेटिंग सही पर सेट होती है या कॉन्फ़िगर नहीं की जाती है, तो उपयोगकर्ता सुरक्षित ब्राउज़िंग पर कुछ सिस्टम जानकारी और पेज सामग्री भेज सकेंगे ताकि खतरनाक ऐप्लिकेशन और साइटों का पता लगाने में मदद मिल सके.
सुरक्षित ब्राउज़िंग के बारे में ज़्यादा जानकारी के लिए https://developers.google.com/safe-browsing देखें.</translation>
<translation id="1583248206450240930">सामान्य रूप से <ph name="PRODUCT_FRAME_NAME" /> का उपयोग करें</translation>
<translation id="1599424828227887013">Android डिवाइसों पर बताए गए मूल के लिए साइट आइसोलेशन चालू करें</translation>
<translation id="1608755754295374538">ऐसे यूआरएल, जिन्हें संकेत किए बिना ऑडियो कैप्चर डिवाइस का एक्सेस करने की अनुमति होगी</translation>
<translation id="1615221548356595305">इन होस्ट के लिए HTTP/2 कनेक्शन के लिए coalescing की मंज़ूरी दें, तब भी जबकि क्लाइंट प्रमाणपत्रों का इस्तेमाल किया जाता हो</translation>
<translation id="1615855314789673708">विल्को डीटीसी (डायग्नोस्टिक एंड टेलीमेट्री कंट्रोलर) कॉन्फ़िगरेशन देती है.
यह नीति विल्को डीटीसी (डायग्नोस्टिक एंड टेलीमेट्री कंट्रोलर) कॉन्फ़िगरेशन देने की अनुमति देती है, जिसे दिए गए डिवाइस में विल्को डीटीसी उपलब्ध होने पर और नीति से अनुमति होने पर लागू किया जा सकता है. कॉन्फ़िगरेशन का आकार 1 एमबी (1000000 बाइट) से ज्यादा नहीं होना चाहिए और यह JSON में एन्कोड होना चाहिए. इसका प्रबंधन करना विल्को डीटीसी की ज़िम्मेदारी है. क्रिप्टोग्राफ़िक हैश का इस्तेमाल डाउनलोड की प्रमाणिकता की पुष्टि करने के लिए किया जाता है.
कॉन्फ़िगरेशन डाउनलोड और कैश किया जाता है. जब भी यूआरएल या हैश बदलेगा इसे फिर से डाउनलोड किया जाएगा.
अगर आप यह नीति सेट करते हैं, तो इस्तेमाल करने वाले लोग न तो इसे बदल सकते हैं, न ही ओवरराइड कर सकते हैं.</translation>
<translation id="1617235075406854669">ब्राउज़र और डाउनलोड इतिहास मिटाना चालू करें</translation>
<translation id="163200210584085447">इस सूची के पैटर्न का मिलान अनुरोध करने वाले
यूआरएल के सुरक्षा मूल से किया जाएगा. यदि मिलान हो जाता है, तो SAML लॉगिन पेजों
पर वीडियो कैप्चर डिवाइस का एक्सेस दे दिया जाएगा. अगर कोई मिलान नहीं
होता है, तो एक्सेस अपने आप मना कर दिया जाएगा. वाइल्डकार्ड पैटर्न की
मंज़ूरी नहीं हैं.</translation>
<translation id="1634989431648355062">इन साइटों पर <ph name="FLASH_PLUGIN_NAME" /> प्लग इन को अनुमति दें</translation>
<translation id="1645793986494086629">स्कीमा:</translation>
<translation id="1653229475925941921">अगर यह नीति सेट हो, तो यह स्क्रीन पर सामग्री को बड़ा दिखाने वाली चालू की गई सुविधा का प्रकार नियंत्रित करती है. इस नीति को "कुछ नहीं" पर सेट करने से स्क्रीन पर सामग्री को बड़ा दिखाने वाली सुविधा बंद हो जाती है.
अगर आप यह नीति सेट करते हैं, तो इस्तेमाल करने वाले लोग न तो इसे बदल सकते हैं, न ही ओवरराइड कर सकते हैं.
अगर यह नीति सेट किए बिना छोड़ी जाती है, तो स्क्रीन पर सामग्री को बड़ा दिखाने वाली सुविधा शुरुआत में बंद की जाती है लेकिन इस्तेमाल करने वाला व्यक्ति इसे बाद में कभी भी चालू कर सकता है.</translation>
<translation id="1655229863189977773">डिस्क कैश आकार को बाइट में सेट करें</translation>
<translation id="166427968280387991">प्रॉक्सी सर्वर</translation>
<translation id="1668836044817793277"><ph name="PRODUCT_OS_NAME" /> वर्शन को नियंत्रित करने के लिए शून्य विलंब किओस्क के साथ अपने आप लॉन्च होने वाली ऐप्लिकेशन को अनुमति दें या नहीं.
यह नीति अपने मेनिफ़ेस्ट में required_platform_version की घोषणा करके और उसका उपयोग अपने आप अपडेट होने वाले लक्ष्य वर्शन प्रीफ़िक्स के रूप में करके नियंत्रित करती है कि <ph name="PRODUCT_OS_NAME" /> वर्शन को नियंत्रित करने के लिए शून्य विलंब किओस्क के साथ अपने आप लॉन्च होने वाली ऐप्लिकेशन को अनुमति दी जाए या नहीं.
अगर नीति को सही पर सेट किया जाता है, तो शून्य विलंब किओस्क के साथ अपने आप लॉन्च होने वाली ऐप्लिकेशन की required_platform_version मेनिफेस्ट कुंजी के मान का उपयोग अपने आप अपडेट होने वाले लक्ष्य वर्शन प्रीफ़िक्स के रूप में किया जाता है.
अगर नीति को कॉन्फ़िगर नहीं किया जाता या गलत पर सेट किया जाता है, तो required_platform_version मेनिफेस्ट कुंजी को अनदेखा कर दिया जाता है और ऑटो अपडेट सामान्य रूप से आगे बढ़ता है.
चेतावनी: यह सुझाव नहीं दिया जाता है कि <ph name="PRODUCT_OS_NAME" /> वर्शन का नियंत्रण किसी किओस्क ऐप्लिकेशन को सौंपा जाए, क्योंकि इससे डिवाइस को सॉफ़्टवेयर अपडेट और ज़रूरी सुरक्षा समाधान नहीं मिल पाते हैं. <ph name="PRODUCT_OS_NAME" /> वर्शन का नियंत्रण सौंपने से उपयोगकर्ता जोखिम में पड़ सकते हैं.</translation>
<translation id="1675002386741412210">इस पर समर्थित:</translation>
<translation id="1700811900332333712">डिवाइस को पावरवॉश का अनुरोध करने की अनुमति देने की नीति</translation>
<translation id="1704516734140344991"><ph name="TPM_FIRMWARE_UPDATE_TPM" /> फ़र्मवेयर अपडेट होने की क्षमता की मौजूदगी और व्यवहार को कॉन्फ़िगर करती है.
जेएसओएन प्रॉपर्टी में अलग-अलग सेटिंग तय की जा सकती हैं:
<ph name="TPM_FIRMWARE_UPDATE_SETTINGS_ALLOW_USER_INITIATED_POWERWASH" />: अगर <ph name="TPM_FIRMWARE_UPDATE_SETTINGS_ALLOW_USER_INITIATED_POWERWASH_TRUE" /> पर सेट की जाती है, तो उपयोगकर्ता <ph name="TPM_FIRMWARE_UPDATE_TPM" /> फ़र्मवेयर अपडेट इंस्टॉल करने के लिए पावरवॉश फ़्लो को शुरू कर सकेंगे.
<ph name="TPM_FIRMWARE_UPDATE_SETTINGS_ALLOW_USER_INITIATED_PRESERVE_DEVICE_STATE" />: अगर <ph name="TPM_FIRMWARE_UPDATE_SETTINGS_ALLOW_USER_INITIATED_PRESERVE_DEVICE_STATE_TRUE" /> पर सेट की जाती है, तो उपयोगकर्ता <ph name="TPM_FIRMWARE_UPDATE_TPM" /> फ़र्मवेयर अपडेट फ़्लो शुरू कर पाएंगे जो सभी डिवाइस की स्थिति (एंटरप्राइज़ में नाम दर्ज कराना सहित) सुरक्षित रखता है, लेकिन उपयोगकर्ता का डेटा खो देता है. यह अपडेट 68 और उसके बाद के वर्शन पर उपलब्ध है.
<ph name="TPM_FIRMWARE_UPDATE_SETTINGS_AUTO_UPDATE_MODE" />: यह जोखिम भरे <ph name="TPM_FIRMWARE_UPDATE_TPM" /> फ़र्मवेयर के लिए अपने आप काम करने वाले <ph name="TPM_FIRMWARE_UPDATE_TPM" /> फ़र्मवेयर अपडेट लागू करना नियंत्रित करता है. ये सभी फ़्लो लोकल डिवाइस की स्थिति को सुरक्षित रखते हैं.
अगर इसे 1 पर सेट किया जाता है या बिना सेट किए ही छोड़ दिया जाता है, तो TPM फ़र्मवेयर अपडेट नहीं होगा.
<ph name="TPM_FIRMWARE_UPDATE_TPM" /> फ़र्मवेयर को 2 पर सेट करते हैं, तो यह अगली बार फिर से चालू करने के बाद अपडेट हो जाएगा. ऐसा तब होगा जब इस्तेमाल करने वाला अपडेट की मंजूरी देगा.
अगर <ph name="TPM_FIRMWARE_UPDATE_TPM" /> फ़र्मवेयर 3 पर सेट करते हैं, तो यह अगली बार दोबारा चालू करने के बाद अपडेट हो जाएगा.
अगर <ph name="TPM_FIRMWARE_UPDATE_TPM" /> को 4 पर सेट करते हैं, तो उपयोग करने वाले के बाद और साइन इन करने से पहले अपडेट हो जाएगा.
यह विकल्प, 74 और उसके बाद के वर्शन पर उपलब्ध है.
अगर नीति सेट नहीं है, तो <ph name="TPM_FIRMWARE_UPDATE_TPM" /> फ़र्मवेयर अपडेट की काम करने की क्षमता उपलब्ध नहीं होगी.</translation>
<translation id="1708496595873025510">विविधता सीड को फ़ेच करने पर प्रतिबंध सेट करें</translation>
<translation id="1717817358640580294">अगर सेट नहीं की जाती है, तो Chrome से हानिकारक सॉफ़्टवेयर हटाने की सुविधा को अनचाहा सॉफ़्टवेयर मिलने पर वह देखे जाने की रिपोर्ट SafeBrowsingExtendedReportingEnabled की सेट की हुई नीति के मुताबिक Google को कर सकता है. इसके बाद, Chrome से हानिकारक सॉफ़्टवेयर हटाने का टूल उपयोगकर्ता से पूछेगा कि क्या वे अनचाहे सॉफ़्टवेयर को हटाना चाहते हैं. उपयोगकर्ता हटाए जाने के नतीजों को Google से शेयर करना चुन सकता है, ताकि आने वाले समय में अनचाहे सॉफ़्टवेयर का पता लगाने में मदद मिल सके. इन नतीजों में फ़ाइल मेटाडेटा, अपने आप इंस्टॉल होने वाले एक्सटेंशन और रजिस्ट्री कुंजी होती हैं जिनके बारे में Chrome के उस दस्तावेज में बताया गया है जिसमें, निजता की जानकारी दी गई है.
अगर यह नीति बंद हो तो, Chrome से हानिकारक सॉफ़्टवेयर हटाने की सुविधा के ज़रिए अनचाहा सॉफ़्टवेयर मिलने पर, वह SafeBrowsingExtendedReportingEnabled के ज़रिए सेट की गई किसी भी नीति को रद्द करते हुए Google को स्कैन के मेटाडेटा के बारे में नहीं बताएगी. Chrome से हानिकारक सॉफ़्टवेयर हटाने की सुविधा उपयोगकर्ता से पूछेगी कि क्या वे अनचाहा सॉफ़्टवेयर हटाना चाहते हैं. सॉफ़्टवेयर हटाए जाने के नतीजों की रिपोर्ट Google को नहीं की जाएगी और उपयोगकर्ता के पास ऐसा करने का विकल्प नहीं होगा.
अगर यह नीति चालू हो, तो Chrome से हानिकारक सॉफ़्टवेयर हटाने की सुविधा के ज़रिए अनचाहा सॉफ़्टवेयर मिलने पर, वह SafeBrowsingExtendedReportingEnabled के ज़रिए सेट की गई नीति के मुताबिक, स्कैन के मेटाडेटा की रिपोर्ट Google को कर सकती है. Chrome से हानिकारक सॉफ़्टवेयर हटाने की सुविधा उपयोगकर्ता से पूछेगी कि क्या वे अनचाहा सॉफ़्टवेयर हटाना चाहते हैं. सॉफ़्टवेयर हटाए जाने के नतीजों की रिपोर्ट Google को की जाएगी और उपयोगकर्ता के पास उससे बचने का विकल्प नहीं होगा.
यह नीति सिर्फ़ Windows के उन इंस्टैंस पर उपलब्ध है जिन्हें किसी <ph name="MS_AD_NAME" /> डोमेन से जोड़ा गया है, या फिर Windows 10 Pro या Enterprise के उन इंस्टैंस पर उपलब्ध है जिनका नाम डिवाइस प्रबंधन के लिए दर्ज किया गया है.</translation>
<translation id="172374442286684480">सभी साइटों को स्‍थानीय डेटा सेट करने की अनुमति देना</translation>
<translation id="1736269219679256369">SSL चेतावनी पृष्‍ठ से जारी रखने की अनुमति देना</translation>
<translation id="1745780278307622857">यह पहचानें कि क्या किसी भरोसेमंद स्रोत से आने पर, <ph name="PRODUCT_NAME" /> 'सुरक्षित ब्राउज़िंग' जाँच के बिना डाउनलोड करने की मंज़ूरी दे सकता है.
गलत होने पर, डाउनलोड की गई फ़ाइलें किसी भरोसेमंद स्रोत से होने पर 'सुरक्षित ब्राउज़िंग' के ज़रिए जाँच-पड़ताल के लिए नहीं भेजी जाएंगी.
नहीं भेजे जाने (या सही पर सेट होने) पर, डाउनलोड की गई फ़ाइलें 'सुरक्षित ब्राउज़िंग' के ज़रिए जाँच-पड़ताल के लिए भेजी जाएंगी, भले ही वे भरोसेमंद स्रोत से आई हों.
ध्यान रखें कि ये पाबंदियां वेब पेज सामग्री के साथ ही 'डाउनलोड लिंक'... संदर्भ मेन्यू विकल्प से ट्रिगर होने वाले डाउनलोड पर भी लागू होती हैं. ये पाबंदियां फ़िलहाल दिखाए जा रहे पेज को सेव करने / डाउनलोड करने पर लागू नहीं होतीं, न ही ये प्रिंटिंग विकल्पों से पीडीएफ़ के रूप में सेव करने पर लागू होती हैं.
यह नीति सिर्फ़ Windows के उन इंस्टैंस पर उपलब्ध है जिन्हें किसी <ph name="MS_AD_NAME" /> डोमेन से जोड़ा गया है, या फिर Windows 10 Pro या Enterprise के उन इंस्टैंस पर उपलब्ध है जिनका नाम डिवाइस प्रबंधन के लिए दर्ज किया गया है.</translation>
<translation id="1749815929501097806">सेवा की उन शर्तों को सेट करती है, जिन्हें उपयोगकर्ता को डिवाइस-स्थानीय खाता सत्र शुरू करने से पहले स्वीकार करना होता है.
अगर यह नीति जोड़ी जाती है तो, <ph name="PRODUCT_OS_NAME" /> सेवा की शर्तों को डाउनलोड करेगा और डिवाइस-स्थानीय खाता सत्र शुरू होने पर उन्हें उपयोगकर्ता को पेश करेगा. सेवा की शर्तों को स्वीकार करने के बाद ही उपयोगकर्ता को सत्र में जाने की अनुमति मिलेगी.
अगर यह नीति सेट नहीं की जाती तो, सेवा की शर्तें नहीं दिखाई जातीं.
नीति को किसी ऐसे यूआरएल से जोड़ा जाना चाहिए जिससे <ph name="PRODUCT_OS_NAME" /> सेवा की शर्तें डाउनलोड कर सके. सेवा की शर्तें सामान्य लेख में होनी चाहिए जिसे एमआईएमई किस्म के लेख/सामान्य के रूप में दिया गया हो. किसी मार्कअप की अनुमति नहीं है.</translation>
<translation id="1750315445671978749">सभी डाउनलोड ब्लॉक करें</translation>
<translation id="1767673020408652620">खोज बॉक्स में कुछ न लिखा होने पर ऐप्लिकेशन के सुझाव पाने की सुविधा चालू करें</translation>
<translation id="17719159826324007">
जब यह नीति ArcSession पर सेट होती है, तब Android के शुरू होने और उपयोगकर्ता के साइन आउट करने पर डिवाइस हर हाल में फिर से चालू हो जाता है.
जब इसे 'हमेशा' पर सेट किया जाता है, तब हर बार उपयोगकर्ता के साइन आउट करने पर डिवाइस हर हाल में फिर से चालू हो जाता है.
कुछ भी सेट न किए जाने पर कोई फ़र्क नहीं पड़ेगा. साथ ही, उपयोगकर्ता के साइन आउट करने पर डिवाइस फिर से चालू नहीं होगा. 'कभी नहीं' पर सेट किए जाने पर भी ऐसा ही होता है.
इस नीति का असर सिर्फ़ उन उपयोगकर्ताओं पर पड़ता है जो जुड़े हुए नहीं हैं.
</translation>
<translation id="1781356041596378058">यह नीति Android डेवलपर के लिए सेटिंग और टूल का एक्सेस भी नियंत्रित करती है. अगर आप इस नीति को सही पर सेट करते हैं, तो उपयोगकर्ता डेवलपर विकल्प का एक्सेस नियंत्रित नहीं कर सकते. यदि आप इस नीति को गलत पर सेट करते हैं या सेट किए बिना छोड़ देते हैं, तो उपयोगकर्ता Android सेटिंग ऐप्लिकेशन में बिल्ड संख्या पर सात बार टैप करके डेवलपर विकल्प एक्सेस कर सकते हैं.</translation>
<translation id="1793346220873697538">पिन प्रिंट करने की सुविधा डिफ़ॉल्ट रूप से बंद करें</translation>
<translation id="1797233582739332495">उपयोगकर्ता को बार-बार यह सूचित करने वाला संकेत दिखाएं कि फिर से लॉन्च करना ज़रूरी है</translation>
<translation id="1798559516913615713">जीपीओ संग्रह जीवनकाल</translation>
<translation id="1803646570632580723">लॉन्चर में दिखाए जाने वाले पिन किए गए ऐप्स की सूची</translation>
<translation id="1808715480127969042">इन साइटों पर कुकी ब्लॉक करें</translation>
<translation id="1810261428246410396">इंस्टैंट टेदरिंग को मंज़ूरी देती है.</translation>
<translation id="1817685358399181673">यह नीति किसी उपयोगकर्ता के लिए <ph name="PLUGIN_VM_NAME" /> इमेज के बारे में बताती है. नीति को वह यूआरएल तय करके सेट किया जाता है जिससे डिवाइस इमेज डाउनलोड कर सकता है. डाउनलोड
बिल्कुल ठीक है, इस बात की पुष्टि करने के लिए एक SHA-256 हैश का इस्तेमाल किया जाता है.
नीति को एक ऐसी स्ट्रिंग के तौर पर दिया जाना चाहिए जो यूआरएल और हैश को JSON फ़ॉर्मैट में बताए.</translation>
<translation id="1827523283178827583">निश्चित प्रॉक्सी सर्वर का उपयोग करें</translation>
<translation id="1831495419375964631">यह नीति ऐसा यूआरएल है, जो Internet Explorer की <ph name="IEEM_SITELIST_POLICY" /> नीति के फ़ॉर्मैट की तरह ही एक्सएमएल फ़ाइल की ओर संकेत करता है. इससे एक एक्सएमएल फ़ाइल के नियम लोड हो जाते हैं, और उन नियमों को Internet Explorer के साथ शेयर करने की ज़रूरत भी नहीं होती.
जब इस नीति को सेट किए बिना छोड़ दिया जाता है, या किसी मान्य यूआरएल पर सेट नहीं किया जाता है, तो <ph name="PRODUCT_NAME" /> इसका इस्तेमाल ब्राउज़र के बीच आने-जाने के नियमों के स्रोत की तरह नहीं किया जाता.
जब इस नीति को एक मान्य यूआरएल पर सेट किया जाता है, तो <ph name="PRODUCT_NAME" /> उस यूआरएल से साइट की सूची डाउनलोड करता है, और नियमों को इस तरह लागू करता है जैसे कि उन्हें <ph name="SITELIST_POLICY_NAME" /> नीति के ज़रिए कॉन्फ़िगर किया गया हो.
Internet Explorer की <ph name="IEEM_SITELIST_POLICY" /> नीति पर ज़्यादा जानकारी के लिए : https://docs.microsoft.com/internet-explorer/ie11-deploy-guide/what-is-enterprise-mode</translation>
<translation id="1839060937202387559">मेमोरी डिवाइस से जुड़े हार्डवेयर आंकड़ों और पहचानकर्ताओं की रिपोर्ट करें.
अगर नीति गलत पर सेट है, तो आंकड़ों की रिपोर्ट नहीं की जाएगी.
अगर नीति को सही पर सेट किया जाता है या सेट किए बिना छोड़ दिया जाता है, तो आंकड़ों की रिपोर्ट की जाएगी.</translation>
<translation id="1843117931376765605">'उपयोगकर्ता नीति‍' के लि‍ए रीफ्रेश दर</translation>
<translation id="1844620919405873871">तुरंत अनलॉक करने संबंधी नीतियां कॉन्फ़िगर करती है.</translation>
<translation id="1845405905602899692">कियोस्क सेटिंग</translation>
<translation id="1845429996559814839">पिन प्रिंटिंग मोड को रोक देती है</translation>
<translation id="1847960418907100918">POST के साथ कोई इंस्टंट सर्च करते समय इस्तेमाल किए जाने वाले पैरामीटर तय करती है. इसमें कॉमा के ज़रिए अलग किए गए नाम/मान के जोड़े शामिल होते हैं. अगर कोई मान टेम्पलेट पैरामीटर, जैसे ऊपर दिए गए उदाहरण में {searchTerms} है, तो उसे वास्तविक खोज शब्द डेटा से बदल दिया जाएगा.
यह नीति वैकल्पिक है. अगर इसे जोड़ा नहीं गया है, तो इंस्टंट सर्च के अनुरोध को गेट (GET) विधि के ज़रिए भेजा जाएगा.
'DefaultSearchProviderEnabled' नीति चालू होने पर ही इस नीति का पालन किया जाएगा.</translation>
<translation id="1852294065645015766">मीडिया को अपने आप चलने देती है</translation>
<translation id="1857152770025485173">यह नीति उपयोगकर्ता को पाबंदी लगाए गए यूआरएल से वेब पेज लोड करने देती है. पाबंदी वाली सूची से उन यूआरएल पैटर्न की सूची मिलती है, जो बताते हैं कि किन यूआरएल पर पाबंदी लगाई जाएगी.
यूआरएल पैटर्न को https://www.chromium.org/administrators/url-blacklist-filter-format के मुताबिक फ़ॉर्मैट किया जाना चाहिए.
अपवादों को यूआरएल की मंज़ूरी नीति में तय किया जा सकता है. ये नीतियां 1000 बार डेटा डाले जाने तक सीमित हैं; इसके बाद डाले गए डेटा को अनदेखा किया जाएगा.
ध्यान रखें कि अंदरूनी 'chrome://*' को ब्लॉक करने का सुझाव नहीं दिया जाता है इसके बाद के यूआरएल में अनचाही गड़बड़ियां आ सकती हैं.
आप M73 से 'javascript://*' को ब्लॉक कर सकते हैं यूआरएल. हालांकि, इससे सिर्फ़ पता बार (या उदाहरण के लिए, बुकमार्कलेट) में लिखे गए JavaScript पर असर पड़ता है. ध्यान दें कि इन-पेज JavaScript यूआरएल, साथ ही साथ तेज़ी से लोड होने वाला डेटा, इस नीति में शामिल नहीं हैं. उदाहरण के लिए, अगर आप 'example.com/abc', पेज को ब्लॉक करते हैं, तब भी 'example.com', XMLHTTPRequest से 'example.com/abc' को लोड कर पाएगा.
अगर यह नीति सेट नहीं की जाती है, तो ब्राउज़र में किसी भी यूआरएल पर पाबंदी नहीं लगाई जाएगी.</translation>
<translation id="1859859319036806634">चेतावनी: टीएलएस वर्शन फ़ॉलबैक प्रक्रिया को <ph name="PRODUCT_NAME" /> से, वर्शन 52 (सितंबर 2016 के आस-पास) के बाद निकाल दिया जाएगा और उसके बाद यह नीति काम करना बंद कर देगी.
जब कोई टीएलएस हैंडशेक नाकाम होता है तो, <ph name="PRODUCT_NAME" /> एचटीटीपीएस सर्वर में मौजूद बग पर काम करने के लिए, टीएलएस के पहले वाले किसी वर्शन के साथ कनेक्शन की फिर से कोशिश करेगा. यह सेटिंग वर्शन को इस तरह कॉन्फ़िगर करेगी जिससे फ़ॉलबैक प्रक्रिया काम करना बंद कर देगी. अगर किसी सर्वर के ज़रिए वर्शन व्यवहार को सही तरीके से (इसका मतलब है कनेक्शन को बंद किए बिना) पूरा किया जाता है तो, फिर यह सेटिंग लागू नहीं होती है. इसके बावजूद, नतीज़े के तौर पर जो कनेक्शन हासिल होगा उसे SSLVersionMin का पालन करना होगा.
अगर यह नीति कॉन्‍फ़िगर नहीं है या इसे "tls1.2" पर सेट किया हुआ है तो, फिर <ph name="PRODUCT_NAME" /> फ़ॉलबैक प्रक्रिया को अब पूरा नहीं करता है. ध्यान दें कि यह पहले वाले टीएलएस वर्शन का समर्थन बंद नहीं करता, सिर्फ़ <ph name="PRODUCT_NAME" /> बग वाले सर्वर पर काम करेगा या नहीं जो वर्शन से ठीक से व्यवहार नहीं कर सकते हैं.
वरना, अगर बग वाले सर्वर के साथ काम करने की स्थिति बनाए रखनी ज़रूरी हो तो, इस नीति को "tls1.1" पर सेट किया जा सकता है. यह एक अस्थायी उपाय है और सर्वर को जल्दी ही ठीक किया जाना चाहिए.</translation>
<translation id="1864382791685519617">यह नीति, <ph name="PRODUCT_NAME" /> में 'नेटवर्क का पूर्वानुमान' सुविधा चालू करती है और उपयोगकर्ताओं को यह सेटिंग बदलने से रोकती है.
यह वेब पेजों की 'डीएनएस प्रीफ़ेचिंग', 'टीसीपी' और 'एसएसएल प्री-कनेक्शन' और प्रीरेंडरिंग को नियंत्रित करती है.
अगर आप इस नीति को सेट करते हैं, तो उपयोगकर्ता <ph name="PRODUCT_NAME" /> में इस सेटिंग को बदल नहीं सकेंगे या इसे ओवरराइड नहीं कर सकेंगे.
अगर यह नीति सेट नहीं की जाती है, तो 'नेटवर्क का पूर्वानुमान' सुविधा चालू हो जाएगी लेकिन उपयोगकर्ता उसे बदल सकेगा.</translation>
<translation id="1865417998205858223">प्रमुख अनुमतियां</translation>
<translation id="186719019195685253">AC पावर पर चलते समय इस्तेमाल में नहीं रहने की देरी की समय सीमा पूरी हो जाने पर की जाने वाली कार्रवाई</translation>
<translation id="187819629719252111">यह नीति, <ph name="PRODUCT_NAME" /> को 'फाइल चुनने के विंडो' दिखाने की अनुमति देकर मशीन पर मौजूद स्थानीय फ़ाइल का एक्सेस देती है.
अगर आप यह सेटिंग चालू करते हैं, तो उपयोगकर्ता सामान्य रूप से 'फ़ाइल चुनने के विंडो' खोल सकते हैं.
अगर आप यह सेटिंग बंद करते हैं, तो जब भी उपयोगकर्ता कोई ऐसा काम करता है, जिसकी वजह से 'फ़ाइल चुनने के विंडो' सामने आती है (जैसे बुकमार्क लेकर आना, फ़ाइल अपलोड करना, लिंक सेव करना वगैरह) तो इसके बजाय एक मैसेज दिखाई देता है और यह मान लिया जाता है कि उपयोगकर्ता ने 'फ़ाइल चुनने के विंडो' पर 'रद्द करें' क्लिक कर दिया है.
अगर यह सेटिंग सेट नहीं है, तो उपयोगकर्ता सामान्य रूप से 'फ़ाइल चुनने के विंडो' खोल सकते हैं.</translation>
<translation id="1885782360784839335">पूरे टैब वाली प्रचार संबंधी सामग्री दिखाना चालू करें</translation>
<translation id="1888871729456797026">डेस्कटॉप पर क्लाउड नीति का नाम दर्ज करने वाला टोकन</translation>
<translation id="1897365952389968758">सभी साइटों को JavaScript चलाने की अनुमति दें</translation>
<translation id="1906888171268104594">यह नियंत्रित करती है कि इस्तेमाल के मेट्रिक और निदान का डेटा, जिसमें खराबी रिपोर्ट शामिल हैं, वापस Google को रिपोर्ट किए जाते हैं या नहीं.
अगर सही पर सेट होती है, तो <ph name="PRODUCT_OS_NAME" /> इस्तेमाल के मेट्रिक और निदान के डेटा की रिपोर्ट करेगा.
अगर गलत पर सेट होती है, तो मेट्रिक और निदान के डेटा की रिपोर्ट करने की सुविधा बंद होगी.
अगर कॉन्फ़िगर नहीं की गई है, तो प्रबंधित नहीं किए गए डिवाइस पर मेट्रिक और निदान डेटा रिपोर्ट करने की सुविधा बंद होगी और प्रबंधित डिवाइस पर चालू होगी.</translation>
<translation id="1907431809333268751">एंटरप्राइज़ लॉगिन यूआरएल (सिर्फ़ एचटीटीपी और एचटीटीपीएस स्कीम) की सूची कॉन्फ़िगर करें. पासवर्ड का फ़िंगरप्रिंट इन यूआरएल पर कैप्चर किया जाएगा और उसका इस्तेमाल पासवर्ड फिर से इस्तेमाल होने का पता लगाने के लिए किया जाएगा.
<ph name="PRODUCT_NAME" /> पासवर्ड के फ़िगरप्रिंट सही तरीके से कैप्चर करे, इसके लिए कृपया पक्का करें कि आपके लॉगिन पेज https://www.chromium.org/developers/design-documents/create-amazing-password-forms का पालन करें.
अगर यह सेटिंग चालू होती है, तो फिर 'पासवर्ड सुरक्षा सेवा' पासवर्ड फिर इस्तेमाल होने का पता लगाने के इरादे से, इन यूआरएल पर पासवर्ड का फ़िंगरप्रिंट कैप्चर करेगी.
अगर यह सेटिंग बंद होती है या सेट नहीं की जाती है, तो फिर 'पासवर्ड सुरक्षा सेवा' सिर्फ़ https://accounts.google.com पर ही पासवर्ड का फ़िंगरप्रिंट कैप्चर करेगी.
यह नीति सिर्फ़ Windows के उन इंस्टैंस पर उपलब्ध है जिन्हें किसी <ph name="MS_AD_NAME" /> डोमेन से जोड़ा गया है, या फिर Windows 10 Pro या Enterprise के उन इंस्टैंस पर उपलब्ध है जिनका नाम डिवाइस प्रबंधन के लिए दर्ज किया गया है.</translation>
<translation id="1914840757300882918">अगर यह नीति सेट किए बिना छोड़ दी जाती है, तो होस्ट, दिए गए जारीकर्ता सीएन वाले एक क्लाइंट प्रमाणपत्र का इस्तेमाल करेगा, ताकि RemoteAccessHostTokenValidationUrl को मंज़ूरी दी जा सके. किसी भी उपलब्ध क्लाइंट प्रमाणपत्र का इस्तेमाल करने के लिए, इसे "*" पर सेट करें.
यह सुविधा फ़िलहाल सर्वर से बंद की गई है.</translation>
<translation id="1919802376548418720">क्रेडेंशियल सौंपने के लिए केडीसी नीति का इस्तेमाल करें.</translation>
<translation id="1920046221095339924">डिवाइस पर प्रबंधित सत्र की अनुमति देती है</translation>
<translation id="1929709556673267855">डिवाइस से जुड़े एंटरप्राइज़ प्रिंटर के लिए कॉन्फ़िगरेशन उपलब्ध कराती है.
यह नीति आपको <ph name="PRODUCT_OS_NAME" /> डिवाइसों के लिए प्रिंटर कॉन्फ़िगरेशन उपलब्ध कराने देती है. इसका फ़ॉर्मैट NativePrinters शब्दकोश की तरह ही होता है, जिसमें श्वेतसूची में डालने या काली सूची में डालने के लिए हर प्रिंटर के लिए "id" या "guid" फ़ील्ड की अलग से ज़रूरत होती है.
फ़ाइल 5 एमबी से ज़्यादा बड़ी नहीं होनी चाहिए और उसे JSON कोड में बदला जाना चाहिए. ऐसा अनुमान है कि करीब 21,000 प्रिंटर वाली फ़ाइल 5MB वाली फ़ाइल के रूप में कोड में बदल जाएगी. डाउनलोड सही और पूरी तरह से हुआ है या नहीं इसकी पुष्टि करने के लिए क्रिप्टोग्राफ़िक हैश का इस्तेमाल किया जाता है.
फ़ाइल को डाउनलोड करके कैश मेमोरी में रखा जाता है. यूआरएल या हैश में बदलाव होने पर उसे फिर से डाउनलोड किया जाएगा.
अगर यह नीति सेट की जाती है, तो <ph name="PRODUCT_OS_NAME" /> प्रिंटर कॉन्फ़िगरेशन के लिए फ़ाइल डाउनलोड करेगा और <ph name="DEVICE_PRINTERS_ACCESS_MODE" />, <ph name="DEVICE_PRINTERS_WHITELIST" /> और <ph name="DEVICE_PRINTERS_BLACKLIST" /> के मुताबिक प्रिंटर उपलब्ध कराएगा.
यह नीति इस पर कोई असर नहीं डालती कि उपयोगकर्ता अलग-अलग डिवाइस पर प्रिंटर कॉन्फ़िगर कर सकते हैं या नहीं. इसे अलग-अलग उपयोगकर्ताओं के प्रिंटर के कॉन्फ़िगरेशन का पूरक होने के लिए बनाया गया है.
यह नीति <ph name="BULK_PRINTERS_POLICY" /> के आगे का भाग है.
अगर यह नीति सेट नहीं की जाती है, तो कोई डिवाइस प्रिंटर उपलब्ध नहीं होगा और दूसरी <ph name="DEVICE_PRINTERS_POLICY_PATTERN" /> नीतियां नज़रअंदाज़ कर दी जाएंगी.
</translation>
<translation id="193259052151668190">अलग किए जाने वाले USB डिवाइस की श्वेतसूची</translation>
<translation id="1933378685401357864">वॉलपेपर इमेज</translation>
<translation id="1956493342242507974"><ph name="PRODUCT_OS_NAME" /> में प्रवेश स्क्रीन पर पावर प्रबंधन कॉन्फ़िगर करें.
यह नीति लॉगिन स्क्रीन के दिखाई देने पर कुछ समय के लिए कोई भी उपयोगकर्ता गतिविधि नहीं होने पर आपको <ph name="PRODUCT_OS_NAME" /> के व्यवहार करने के तरीके को कॉन्फ़िगर करने देती है. नीति एक से ज़्यादा सेटिंग नियंत्रित करती है. उनके व्यक्तिगत सीमेंटिक और मान श्रेणियों के लिए, सत्र में पावर प्रबंधन को नियंत्रित करने वाली संबंधित नीतियां देखें. इन नीतियों के साथ भिन्नताएं निम्न हैं:
* निष्क्रिय या लिड बंद होने पर की जाने वाली कार्रवाई सत्र को खत्म करने के लिए नहीं हो सकतीं.
* AC पावर पर चलते समय निष्क्रिय होने पर की जाने वाली डिफ़ॉल्ट कार्रवाई शट डाउन करना है.
अगर कोई सेटिंग अनिर्दिष्ट छोड़ दी जाती है, तो डिफ़ॉल्ट मान का उपयोग किया जाता है.
अगर यह नीति सेट नहीं है, तो सभी सेटिंग के लिए डिफ़ॉल्ट का उपयोग किया जाता है.</translation>
<translation id="1958138414749279167">यह नीति <ph name="PRODUCT_NAME" /> की 'अपने आप भरने की सुविधा (ऑटो फ़िल)' चालू करती है. इसके ज़रिए उपयोगकर्ताओं को पहले से संग्रहित जानकारी की मदद से वेब फ़ॉर्म में पते की जानकारी अपने आप भरने की सुविधा मिलती है.
अगर यह सेटिंग बंद होती है, तो 'अपने आप भरने की सुविधा (ऑटो फ़िल)' न तो कभी कोई सुझाव देगी, न ही पते की जानकारी भरेगी. साथ ही यह पते की ऐसी और ज़्यादा जानकारी सेव नहीं करेगी जिसे उपयोगकर्ता ने शायद वेब ब्राउज़ करते समय सबमिट किया होगा.
अगर यह सेटिंग चालू होती है या इसका कोई मान न दिया गया हो, तो उपयोगकर्ता यूज़र इंटरफ़ेस (यूआई) में पते की जानकारी के लिए 'अपने आप भरने की सुविधा (ऑटो फ़िल)' को नियंत्रित कर पाएगा.</translation>
<translation id="1962273523772270623">'Google सेवाओं' से 'WebRTC इवेंट लॉग' इकट्ठे करने देती है</translation>
<translation id="1964634611280150550">गुप्त मोड अक्षम किया गया</translation>
<translation id="1964802606569741174">इस नीति का Android YouTube ऐप्लिकेशन पर कोई प्रभाव नहीं पड़ता. अगर YouTube पर सुरक्षा मोड लागू किया जाना चाहिए, तो Android YouTube ऐप्लिकेशन के इंस्टॉलेशन की अनुमति नहीं दी जानी चाहिए.</translation>
<translation id="1969212217917526199">दूर के किसी ऐक्‍सेस वाले होस्‍ट की डीबग बिल्‍ड पर नीतियां बदलती हैं.
मान को नीति नाम के JSON शब्‍दकोश के रूप में नीति मान मैपिंग तक पार्स किया जाता है.</translation>
<translation id="1969808853498848952">हमेशा ऐसे प्लग इन चलाती है जिन्हें अनुमति की ज़रूरत होती है (समर्थन नहीं होना)</translation>
<translation id="1988371335297483117"><ph name="PRODUCT_OS_NAME" /> पर अपने आप अपडेट पेलोड HTTPS के बजाय HTTP के ज़रिए डाउनलोड किए जा सकते हैं. इससे HTTP डाउनलोड का 'पारदर्शी HTTPS कैश' हो पाता है.
अगर यह नीति 'सही' पर सेट है, तो <ph name="PRODUCT_OS_NAME" /> HTTP के द्वाराअपने-आपअपडेट डाउनलोड करने का प्रयास करेगा. अगर नीति को 'गलत' पर सेट है या सेट नहीं है, तो अपने आप अपडेट पेलोड को डाउनलोड करने के लिए HTTPS का इस्तेमाल किया जाएगा.</translation>
<translation id="199764499252435679"><ph name="PRODUCT_NAME" /> में घटक के अपडेट चालू करें</translation>
<translation id="1997994951395619441">अगर आप यह सेटिंग चालू करते हैं, तो <ph name="PRODUCT_NAME" /> एक बुकमार्क बार दिखाएगा.
अगर आप इस सेटिंग को बंद करते हैं, तो इस्तेमाल करने वालों को बुकमार्क बार कभी दिखाई नहीं देगा.
अगर आप इस सेटिंग को चालू या बंद करते हैं, तो इस्तेमाल करने वाले न तो इसे <ph name="PRODUCT_NAME" /> में बदल सकते हैं, न ही ओवरराइड कर सकते हैं.
अगर इस सेटिंग को सेट किए बिना छोड़ दिया जाता है, तो इस्तेमाल करने वाला यह तय कर सकता है कि इस फ़ंक्शन का इस्तेमाल करना है या नहीं.</translation>
<translation id="2006530844219044261">पावर प्रबंधन</translation>
<translation id="2014757022750736514">साइन-इन स्क्रीन के व्यवहार को नियंत्रित करती है, जहां उपयोगकर्ता अपने खातों में लॉग-इन करते हैं. सेटिंग में शामिल होने वाली चीज़ें हैं - कौन लॉग इन कर सकता है, किस तरह के खातों की अनुमति है, कौनसी प्रमाणीकरण विधियों का इस्तेमाल किया जाना चाहिए, साथ ही सामान्य सुलभता, इनपुट का तरीका और स्थान-भाषा सेटिंग.</translation>
<translation id="201557587962247231">डिवाइस स्‍थिति रिपोर्ट अपलोड की आवृत्‍ति</translation>
<translation id="2017301949684549118">बिना सूचना के इंस्टॉल किए जाने वाले वेब ऐप्लिकेशन के लिए यूआरएल.</translation>
<translation id="2017459564744167827">स्कीमा और फ़ॉर्मैट करने के तरीके की ज़्यादा जानकारी के लिए <ph name="REFERENCE_URL" /> देखें.</translation>
<translation id="2018836497795982119">यह नीति 'डिवाइस नीति की जानकारी' के लिए क्वेरी की गई 'डिवाइस प्रबंधन सेवा' की अवधि को मिलीसेकंड में तय करती है.
यह नीति सेट करने से 3 घंटो का डिफ़ॉल्ट मान ओवरराइड हो जाता है. इस नीति के मान्य मान 1800000 (30 मिनट) से 86400000 (1 दिन) तक हैं. इस रेंज में न आने वाला कोई भी मान उसकी करीबी सीमा पर रख दिया जाएगा.
नीति सेट नहीं की जाती है तो, <ph name="PRODUCT_NAME" /> 3 घंटों के डिफ़ॉल्ट मान का उपयोग करेगा.
ध्यान दें कि अगर प्लैटफ़ॉर्म पर 'नीति के उल्लंघन की सूचनाओं' की सुविधा काम करती है तो, 'एक से दूसरे रीफ्रेश के बीच की देरी' को 24 घंटों (सभी डिफ़ॉल्ट और इस नीति के मान को अनदेखा करते हुए) पर सेट कर दिया जाएगा क्योंकि यह माना जाता है कि नीति में बदलाव होने पर 'नीति के उल्लंघन की सूचनाएं' अपने आप एक रीफ्रेश करेंगी. इस वजह से और जल्दी-जल्दी रीफ्रेश करने की ज़रूरत नहीं रह जाएगी.</translation>
<translation id="2024476116966025075">रिमोट (दूर के) एक्सेस क्लाइंट के लिए ज़रूरी डोमेन नाम को कॉन्फ़ि‍गर करें</translation>
<translation id="2030905906517501646">डिफ़ॉल्‍ट खोज की सुविधा देने वाले के लिए कीवर्ड</translation>
<translation id="203096360153626918">इस नीति का Android ऐप्लिकेशन पर कोई प्रभाव नहीं पड़ता. अगर इस नीति को <ph name="FALSE" /> पर सेट किया गया हो, तब भी वे पूर्णस्क्रीन मोड में प्रवेश कर सकेंगे.</translation>
<translation id="2043770014371753404">एंटरप्राइज़ प्रिंटर बंद हैं</translation>
<translation id="2050629715135525072">यह नियंत्रित करती है कि ऐसे उपयोगकर्ता जो रिमोट एक्सेस होस्ट से जुड़े हैं, क्लाइंट और होस्ट के बीच फ़ाइलें ट्रांसफ़र कर सकते हैं या नहीं. यह नीति उन रिमोट सहायता कनेक्शन पर लागू नहीं होती जिनमें फ़ाइल ट्रांसफ़र करने की सुविधा नहीं है.
अगर यह सेटिंग बंद है, तो फ़ाइल ट्रांसफ़र करने की अनुमति नहीं दी जाएगी. अगर यह सेटिंग चालू है या सेट नहीं की गई है, तो फ़ाइल ट्रांसफ़र करने की अनुमति दी जाएगी.</translation>
<translation id="2057317273526988987">यूआरएल की सूची एक्सेस करने देती है</translation>
<translation id="2061810934846663491">रिमोट एक्सेस होस्ट के लिए ज़रूरी डोमेन नाम कॉन्फ़िगर करती है</translation>
<translation id="206623763829450685">यह तय करती है कि कौन सी HTTP पुष्टिकरण योजना को <ph name="PRODUCT_NAME" /> के ज़रिए सहायता मिली हुई है.
संभावित मान 'basic', 'digest', 'ntlm' और 'negotiate' हैं. एकाधिक मानों को कॉमा की मदद से अलग करें.
यदि इस पॉलिसी को सेट नहीं किया जाता है, तो चारों योजनाओं का इस्तेमाल किया जाएगा.</translation>
<translation id="2067011586099792101">सामग्री पैक से बाहर की साइटों का एक्‍सेस ब्लॉक करें</translation>
<translation id="2073552873076775140"><ph name="PRODUCT_NAME" /> में साइन इन करने देती है</translation>
<translation id="2077129598763517140">उपलब्ध होने पर 'हार्डवेयर से तेज़ी लाएं' सुविधा का उपयोग करें</translation>
<translation id="2077273864382355561">बैटरी पावर पर चलते समय स्क्रीन बंद विलंब</translation>
<translation id="2082205219176343977">डिवाइस के लिए कम से कम अनुमत Chrome वर्शन कॉन्फ़िगर करें.</translation>
<translation id="209586405398070749">स्थिर चैनल</translation>
<translation id="2098658257603918882">उपयोग और क्रैश से जुड़े डेटा की रिपोर्टिंग चालू करें</translation>
<translation id="2104418465060359056">एक्सटेंशन और प्लग इन से जुड़ी जानकारी रिपोर्ट करना</translation>
<translation id="2106627642643925514">डिफ़ॉल्ट पिन प्रिंटिंग मोड को ओवरराइड करती है. मोड उपलब्ध न होने पर, नीति को अनदेखा कर दिया जाता है.</translation>
<translation id="2107601598727098402">
इस नीति को M72 में बंद कर दिया गया है. कृपया इसके बजाय CloudManagementEnrollmentToken का इस्तेमाल करें.
</translation>
<translation id="2111016292707172233">यह नीति <ph name="PRODUCT_NAME" /> के 'सामग्री व्यू' में 'खोजने के लिए टैप करें' सुविधा को चालू करती है.
अगर आप यह सेटिंग चालू करते हैं, तो 'खोजने के लिए टैप करें' सुविधा उपयोगकर्ता के लिए उपलब्ध होगी और वह इसे चालू या बंद कर सकता है.
अगर आप यह सेटिंग बंद करते हैं, तो 'खोजने के लिए टैप करें' सुविधा पूरी तरह बंद कर दी जाएगी.
अगर यह नीति सेट नहीं की जाती है, तो यह इस सुविधा को चालू करने जैसा होगा, ऊपर दी गई जानकारी देखें.</translation>
<translation id="2113068765175018713">अपने आप रीबूट करके डिवाइस का सक्रिय समय सीमित करें</translation>
<translation id="2116790137063002724">यह नीति इस बात पर नियंत्रण रखती है कि ऐसी जानकारी दी जाए या नहीं जिससे उपयोगकर्ता को पहचाना जा सकता है, जैसे OS लॉगिन, <ph name="PRODUCT_NAME" /> प्रोफ़ाइल लॉगिन, <ph name="PRODUCT_NAME" /> प्रोफ़ाइल नाम, <ph name="PRODUCT_NAME" /> प्रोफ़ाइल पथ और <ph name="PRODUCT_NAME" /> निष्पादित किए जाने वाले पथ.
जब यह नीति सेट नहीं होती है या 'सही' पर सेट होती है, तो उपयोगकर्ताओं को पहचानने में उपयोग की जा सकने वाली जानकारी इकट्ठा की जाती है.
जब यह नीति 'गलत' पर सेट होती है, तो उपयोगकर्ताओं को पहचानने में उपयोग की जा सकने वाली जानकारी इकट्ठा नहीं की जाती है.
यह नीति सिर्फ़ तब लागू होती है जब <ph name="CHROME_REPORTING_EXTENSION_NAME" /> चालू हो और मशीन का नाम <ph name="MACHINE_LEVEL_USER_CLOUD_POLICY_ENROLLMENT_TOKEN_POLICY_NAME" /> के ज़रिए दर्ज कराया गया हो.</translation>
<translation id="2127599828444728326">इन साइटों पर नोटिफ़िकेशन की अनुमति दें</translation>
<translation id="2131902621292742709">बैटरी पावर पर चलते समय स्क्रीन मंद विलंब</translation>
<translation id="2134437727173969994">स्क्रीन लॉक करने की अनुमति</translation>
<translation id="2137064848866899664">अगर यह नीति सेट की जाती है तो हर बार फिर से चालू करने
और नीति मान बदलने के बाद उसके पहली बार कनेक्‍ट होने पर,
हर डिसप्ले को स्क्रीन की तय की गई दिशा में घुमाया जाता है. उपयोगकर्ता, लॉग इन करने के
बाद सेटिंग पेज के ज़रिए डिसप्ले को घुमा सकते हैं लेकिन अगली बार फिर से चालू करने पर
नीति मान उनकी सेटिंग ओवरराइड कर देगा.
यह पॉलिसी, प्राथमिक और बाकी सभी तरह के डिसप्ले पर लागू होती है.
अगर नीति सेट नहीं की जाती है तो, डिफ़ॉल्‍ट मान 0 डिग्री होता है और उपयोगकर्ता
चाहे तो उसे बदल सकता है. ऐसा होता है तो, दोबारा शुरू करने पर डिफ़ॉल्‍ट
मान को फिर से लागू नहीं किया जाता.</translation>
<translation id="2138449619211358657">यह नीति <ph name="PRODUCT_OS_NAME" /> को अनुमति देती है कि वह कैप्टिव पोर्टल प्रमाणीकरण की किसी भी प्रॉक्सी को नज़रअंदाज़ करे.
यह नीति तभी असर डालती है अगर एक प्रॉक्सी कॉन्फ़िगर की जाती है (उदाहरण के लिए नीति के ज़रिए, उपयोगकर्ता से chrome://settings में या एक्सटेंशन के ज़रिए).
अगर आप यह सेटिंग चालू करते हैं, तो कोई भी कैप्टिव पोर्टल प्रमाणीकरण पेज (यानी कैप्टिव पोर्टल साइन इन पेज से शुरू होने वाले सभी पेज जब तक कि <ph name="PRODUCT_NAME" /> को एक चालू इंटरनेट कनेक्शन नहीं मिल जाता) एक अलग विंडो में दिखाया जाएगा. इसके लिए मौजूदा उपयोगकर्ता की सभी नीति सेटिंग और पाबंदियों को अनदेखा किया जाएगा.
अगर आप इस सेटिंग को बंद करते हैं या इसे सेट किए बिना छोड़ देते हैं, तो कोई भी कैप्टिव पोर्टल प्रमाणीकरण पेज एक (नियमित) नए ब्राउज़र टैब में दिखाया जाएगा, जिसके लिए मौजूदा इस्तेमाल करने वाले की प्रॉक्सी सेटिंग का इस्तेमाल किया जाता है.</translation>
<translation id="21394354835637379">आपको यह बताने देती है कि किन यूआरएल को एक्सटेंशन, ऐप्लिकेशन, और थीम इंस्टॉल करने की अनुमति है.
<ph name="PRODUCT_NAME" /> 21 से, 'Chrome वेब स्टोर' से बाहर के एक्सटेंशन, ऐप्लिकेशन, और उपयोगकर्ता स्क्रिप्ट इंस्टॉल करना ज़्यादा मुश्किल हो गया है इससे पहले, इस्तेमाल करने वाले लोग एक *.crx फ़ाइल के लिंक पर क्लिक कर सकते थे और <ph name="PRODUCT_NAME" /> कुछ चेतावनियों के बाद फ़ाइल इंस्टॉल करने की सुविधा देता था. <ph name="PRODUCT_NAME" /> 21 के बाद, ऐसी फ़ाइलें डाउनलोड की जानी चाहिए और उन्हें खींचकर<ph name="PRODUCT_NAME" /> सेटिंग पेज पर छोड़ा जाना चाहिए. यह सेटिंग किन्हीं खास यूआरएल को, पुराने और आसान इंस्टॉलेशन प्रवाह रखने की अनुमति देती है.
इस सूची का हर आइटम एक्सटेंशन शैली वाला मिलान पैटर्न है (https://developer.chrome.com/extensions/match_patterns देखें). उपयोगकर्ता किसी भी यूआरएल से आइटम इंस्टॉल कर पाएंगे, बशर्ते वह इस सूची में दिए गए किसी आइटम से मेल खाता हो. *.crx फ़ाइल और उस पेज की जगह जहां से डाउनलोड शुरू हुआ था (यानी रेफ़रल देने वाला), दोनों को ही इन पैटर्न में अनुमति दी जानी चाहिए.
<ph name="EXTENSION_INSTALL_BLACKLIST_POLICY_NAME" /> को इस नीति पर प्राथमिकता मिलती है. यानी, नामंज़ूरी वाली सूची में शामिल किसी एक्सटेंशन को इंस्टॉल नहीं किया जाएगा, भले ही वह इस सूची में शामिल किसी साइट से ही क्यों न हो.</translation>
<translation id="214901426630414675">डुप्लेक्स मोड में प्रिंट करना रोक देती है</translation>
<translation id="2149330464730004005">रंगीन प्रिंटिंग चालू करें</translation>
<translation id="2156132677421487971"><ph name="PRODUCT_NAME" /> के लिए नीतियां कॉन्फ़िगर करें, यह एक ऐसी सुविधा है जिसकी मदद से उपयोगकर्ता ब्राउज़र से टैब, साइटों या डेस्कटॉप की सामग्रियों को दूर स्थित प्रदर्शन और ध्वनि सिस्टम पर भेज सकते हैं.</translation>
<translation id="2166472654199325139">वयस्क सामग्री के लिए साइटें फ़िल्टर न करें</translation>
<translation id="2168397434410358693">AC पावर पर चलते समय प्रयोग में नहीं विलंब</translation>
<translation id="217013996107840632">वैकल्पिक ब्राउज़र से स्विच करने के लिए कमांड-लाइन पैरामीटर.</translation>
<translation id="2170233653554726857">WPAD ऑप्टिमाइज़ेशन चालू करें</translation>
<translation id="2176565653304920879">इस नीति को सेट किए जाने पर, अपने आप होने वाली 'समय-क्षेत्र पहचान प्रक्रिया' इनमें से एक तरीके से होगी और यह तरीका सेटिंग के मान पर आधारित होगा:
अगर TimezoneAutomaticDetectionUsersDecide पर सेट किया जाता है, तो उपयोगकर्ता chrome://settings में दिए गए सामान्य नियंत्रणों का उपयोग करके अपने आप होने वाली 'समय-क्षेत्र पहचान प्रक्रिया' को नियंत्रित कर सकेंगे.
अगर TimezoneAutomaticDetectionDisabled पर सेट किया जाता है तो, chrome://settings में दिए गए अपने आप होने वाले समय-क्षेत्र नियंत्रणों को बंद कर दिया जाएगा. अपने आप होने वाली 'समय-क्षेत्र पहचान प्रक्रिया' हमेशा बंद रहेगी.
अगर TimezoneAutomaticDetectionIPOnly पर सेट किया जाता है तो, chrome://settings में दिए गए समय-क्षेत्र नियंत्रणों को बंद कर दिया जाएगा. अपने आप होने वाली 'समय-क्षेत्र पहचान प्रक्रिया' हमेशा चालू रहेगी. जगह की सही जानकारी के लिए, 'समय-क्षेत्र पहचान प्रक्रिया' 'सिर्फ़-IP' तरीके का उपयोग करेगी.
अगर imezoneAutomaticDetectionSendWiFiAccessPoints पर सेट किया जाता है, तो chrome://settings में दिए गए समय-क्षेत्र नियंत्रणों को बंद कर दिया जाएगा. अपने आप होने वाली 'समय-क्षेत्र पहचान प्रक्रिया' हमेशा चालू रहेगी. दिखाई देने वाले वाई-फ़ाई एक्सेस-पॉइंट की सूची बिल्कुल सही समय-क्षेत्र की पहचान करने के लिए 'जियोलोकेशन API (एपीआई)' सर्वर को हमेशा भेजी जाएगी.
अगर TimezoneAutomaticDetectionSendAllLocationInfo पर सेट किया जाता है, तो chrome://settings में दिए गए समय-क्षेत्र नियंत्रणों को बंद कर दिया जाएगा. अपने आप होने वाली 'समय-क्षेत्र पहचान प्रक्रिया' हमेशा चालू रहेगी. जगह की जानकारी (जैसे कि वाई-फ़ाई एक्सेस-प्वाइंट, कनेक्ट हो सकने वाले मोबाइल टॉवर, GPS) समय-क्षेत्र की बिल्कुल सही पहचान के लिए किसी सर्वर पर भेजे जाएंगे.
अगर यह नीति सेट नहीं की जाती है, तो माना जाएगा कि TimezoneAutomaticDetectionUsersDecide सेट है.
अगर SystemTimezone नीति सेट की जाती है, तो वह इस नीति को ओवरराइड कर लेती है. ऐसे में अपने आप होने वाली 'समय-क्षेत्र पहचान प्रक्रिया' पूरी तरह से बंद कर दी जाती है.</translation>
<translation id="2178899310296064282">YouTube पर कम से कम मध्यम प्रतिबंधित मोड लागू करें</translation>
<translation id="2182291258410176649">उपयोगकर्ता बैकअप और बहाली को चालू करने या नहीं करने का फ़ैसला लेता है</translation>
<translation id="2183294522275408937">यह सेटिंग नियंत्रित करती है कि 'तुरंत अनलॉक करें' सुविधा का इस्तेमाल जारी रखने के लिए, लॉक स्क्रीन कितने समय में पासवर्ड डालने का अनुरोध करेगी. हर बार लॉक स्क्रीन दिखने पर, अगर पिछली बार डाले गए पासवर्ड का समय इस सेटिंग से ज़्यादा था तो, लॉक स्क्रीन पर 'तुरंत अनलॉक करें' सुविधा मौजूद नहीं होगी. अगर यह समय बीत जाने के बाद उपयोगकर्ता लॉक स्क्रीन पर बना रहता है, तो अगली बार गलत कोड डाले जाने पर या लॉक स्क्रीन पर फिर से जाने पर (जो भी पहले हो), पासवर्ड का अनुरोध किया जाएगा.
अगर यह सेटिंग कॉन्फ़िगर की जाती है, तो 'तुरंत अनलॉक करें' सुविधा का इस्तेमाल करने वाले उपयोगकर्ताओं से, इस सेटिंग के आधार पर लॉक स्क्रीन पर अपना पासवर्ड डालने का अनुरोध किया जाएगा.
अगर यह सेटिंग कॉन्फ़िगर नहीं की जाती है, तो 'तुरंत अनलॉक करें' का इस्तेमाल करने वाले उपयोगकर्ताओं से हर दिन लॉक स्क्रीन पर अपना पासवर्ड डालने का अनुरोध किया जाएगा.</translation>
<translation id="2194470398825717446">इस नीति का समर्थन M61 में रोक दिया गया है, कृपया इसके बजाय EcryptfsMigrationStrategy का उपयोग करें.
यह बताती है कि ecryptfs के ज़रिए भेजे गए डिवाइस को किस तरह व्यवहार करना चाहिए और उसे ext4 एन्क्रिप्शन में संक्रमण करने की ज़रूरत होती है.
अगर आप इस नीति को 'DisallowArc' पर सेट करते हैं, तो Android ऐप्लिकेशन डिवाइस पर मौजूद सभी उपयोगकर्ताओं के लिए बंद कर दिए जाएंगे (जिनमें वे उपयोगकर्ता भी शामिल हैं जिनके पास पहले से ext4 एन्क्रिप्शन है) और किसी भी उपयोगकर्ता को ecryptfs से ext4 एन्क्रिप्शन में कोई माइग्रेशन ऑफ़र नहीं किया जाएगा.
अगर आप इस नीति को 'AllowMigration' पर सेट करते हैं, तो ecryptfs होम निर्देशिकाओं वाले उपयोगकर्ताओं को इन्हें ext4 एन्क्रिप्शन में ज़रूरत के हिसाब से माइग्रेट करने का ऑफ़र दिया जाएगा (इस समय तब, जब डिवाइस पर Android N उपलब्ध हो जाएगा).
यह नीति किओस्क ऐप्लिकेशन पर लागू नहीं होती - ये अपने आप माइग्रेट हो जाते हैं. अगर इस नीति को सेट किए बिना छोड़ दिया जाता है, तो डिवाइस इस तरह व्यवहार करेगा जैसे 'DisallowArc' को चुना गया हो.</translation>
<translation id="2195032660890227692">इस नीति को <ph name="PRODUCT_NAME" /> 68 में हटा दिया गया है और इसकी जगह <ph name="ARC_BR_POLICY_NAME" /> ने ले ली है.</translation>
<translation id="219720814106081560">अगर यह नीति चालू हो या कॉन्फ़िगर नहीं की गई हो (डिफ़ॉल्ट), तो इस्तेमाल करने वाले को
वीडियो कैप्चर एक्सेस का संकेत दिया जाता है.
इनमें VideoCaptureAllowedUrls सूची में कॉन्फ़िगर किए गए यूआरएल शामिल नहीं हैं, जिन्हें संकेत दिए बिना एक्सेस दिया जाता है.
इस नीति के बंद होने पर, इस्तेमाल करने वाले को कभी भी संकेत नहीं दिया जाएगा और वीडियो
कैप्चर सिर्फ़ VideoCaptureAllowedUrls में कॉन्फ़िगर किए गए यूआरएल के लिए उपलब्ध होगा.
यह नीति सभी तरह के वीडियो इनपुट पर असर डालती है, न कि सिर्फ़ पहले से मौजूद कैमरे पर.</translation>
<translation id="2201555246697292490">स्थानीय संदेश सेवा श्वेतसूची कॉन्फ़िगर करें</translation>
<translation id="2204753382813641270">अलमारी काअपने-आप-छिपाना नियंत्रित करना</translation>
<translation id="2208976000652006649">POST का इस्तेमाल करने वाले खोज URL के पैरामीटर</translation>
<translation id="2214880135980649323">जब इस नीति को चालू पर सेट किया जाता है, तो एंटरप्राइज़ नीति के ज़रिए इंस्टॉल किए गए एक्सटेंशन, 'एंटरप्राइज़ हार्डवेयर प्लैटफ़ॉर्म API (एपीआई)' का इस्तेमाल कर सकते हैं.
जब इस नीति को बंद पर सेट किया जाता है या सेट नहीं किया जाता है, तो कोई एक्सटेंशन, 'एंटरप्राइज़ हार्डवेयर प्लैटफ़ॉर्म API (एपीआई)' का इस्तेमाल नहीं कर सकता है.
'Hangout सेवा' एक्सटेंशन जैसे घटक एक्सटेंशन पर भी यह नीति लागू होती है.</translation>
<translation id="2223598546285729819">डिफ़ॉल्ट सूचना सेटिंग</translation>
<translation id="2231817271680715693">पहली बार चलाने पर सामान्य ब्राउज़र से ब्राउज़िंग इतिहास आयात करें</translation>
<translation id="2236488539271255289">स्थानीय डेटा सेट करने के लिए किसी साइट को अनुमति न दें</translation>
<translation id="2240879329269430151">यह सेट करने देती है कि वेबसाइटों को पॉप-अप दिखाने की अनुमति है या नहीं. पॉप-अप दिखाए जाने की अनुमति या तो सभी साइटों के लिए दी जा सकती है या फिर सभी साइटों के लिए खारिज की जा सकती है.
अगर इस नीति को सेट किए बिना छोड़ दिया जाता है तो, 'BlockPopups' का उपयोग किया जाएगा और उपयोगकर्ता इसमें बदलाव कर सकेंगे.</translation>
<translation id="2255326053989409609">इस सेटिंग को चालू करने से वेब पेज ग्राफ़िक्स प्रोसेसिंग यूनिट (जीपीयू) को एक्सेस नहीं कर पाएंगे. खास तौर पर, वेब पेज WebGL API (एपीआई) एक्सेस नहीं कर पाएंगे और प्लग इन Pepper 3D API (एपीआई) का इस्तेमाल नहीं कर पाएंगे.
इस सेटिंग को बंद करने या इसे सेट किए बिना छोड़ देने से ऐसा हो सकता है कि वेब पेज WebGL API (एपीआई) का इस्तेमाल करें और प्लग इन Pepper 3D API (एपीआई) का इस्तेमाल करें. हो सकता है कि ब्राउज़र की डिफ़ॉल्ट सेटिंग के लिए अब भी कमांड लाइन तर्कों का पास होना ज़रूरी हो ताकि इन API (एपीआई) का इस्तेमाल किया जा सके.
अगर HardwareAccelerationModeEnabled को गलत पर सेट किया गया हो, तो Disable3DAPIs को अनदेखा कर दिया जाता है और यह Disable3DAPIs के सही पर सेट होने के बराबर होता है.</translation>
<translation id="2258126710006312594">रिमोट एक्सेस का इस्तेमाल करने वालों को होस्ट से या होस्ट में फ़ाइलें ट्रांसफ़र करने दें</translation>
<translation id="2265214338421787313">यह नीति एडमिन को तय करने देती है कि पेज अपलोड होने के दौरान पॉप-अप दिखा सकता है.
जब नीति चालू पर सेट की जाती है, तो अपलोड होने के दौरान पेज पॉप-अप दिखा सकते हैं.
जब नीति बंद पर सेट की जाती है या सेट नहीं की जाती है, तो अपलोड होने के दौरान पेज पॉप-अप नहीं दिखा सकते हैं, जैसा कि इस विनिर्देश (https://html.spec.whatwg.org/#apis-for-creating-and-navigating-browsing-contexts-by-name) में बताया गया है.
Chrome 82 में यह नीति हटा दी जाएगी.
https://www.chromestatus.com/feature/5989473649164288 देखें.</translation>
<translation id="2269319728625047531">साइन-इन के दौरान 'सिंक सहमति' दिखाना चालू करें</translation>
<translation id="2274864612594831715">यह नीति 'वर्चुअल कीबोर्ड' को ChromeOS पर इनपुट डिवाइस के रूप में चालू करना कॉन्फ़िगर करती है.
अगर नीति को सही पर सेट किया जाता है तो, ऑन-स्क्रीन 'वर्चुअल कीबोर्ड' हमेशा चालू रहेगा.
अगर नीति को गलत पर सेट किया जाता है तो, ऑन-स्क्रीन 'वर्चुअल कीबोर्ड' हमेशा बंद रहेगा.
अगर आप इस नीति को सेट करते हैं तो, उपयोगकर्ता इसे बदल नहीं सकते या इसे रद्द नहीं कर सकते. हालांकि, उपयोगकर्ता अब भी 'ऑन-स्क्रीन कीबोर्ड' के एक्सेस को चालू/बंद कर सकेंगे जिसे इस नीति से नियंत्रित किए जाने वाले 'वर्चुअल कीबोर्ड' पर प्राथमिकता मिलती है. 'ऑन-स्क्रीन कीबोर्ड' के एक्सेस को नियंत्रित करने वाली |VirtualKeyboardEnabled| नीति देखें.
अगर यह नीति सेट किए बिना छोड़ दी जाती है तो, 'ऑन-स्क्रीन कीबोर्ड' शुरुआत में बंद रहता है लेकिन उपयोगकर्ता इसे कभी भी चालू कर सकता है. कीबोर्ड कब दिखाना है, इसका फ़ैसला डिवाइस उपयोगकर्ता की पिछली गतिविधियों के आधार पर खुद कर सकता है.</translation>
<translation id="2292084646366244343"><ph name="PRODUCT_NAME" /> वर्तनी की त्रुटियां सुधारने में सहायता करने के लिए किसी Google वेब सेवा का उपयोग कर सकता है. अगर यह सेटिंग सक्षम है, तो फिर यह सेवा हमेशा उपयोग की जाती है. अगर यह सेटिंग अक्षम है, तो फिर सेवा कभी उपयोग नहीं की जाती.
वर्तनी परीक्षण को अब भी किसी डाउनलोड की गई शब्दकोश का उपयोग करके निष्पादित किया जा सकता है; यह नीति केवल ऑनलाइन सेवा के उपयोग को नियंत्रित करती है.
अगर यह सेटिंग कॉन्फ़िगर न है, तो फिर उपयोगकर्ता चुन सकते हैं कि वर्तनी परीक्षण सेवा का उपयोग किया जाना चाहिए या नहीं.</translation>
<translation id="2294382669900758280">Android ऐप्लिकेशन में वीडियो चलाने पर ध्यान नहीं दिया जाता है, भले ही यह नीति <ph name="TRUE" /> पर सेट हो.</translation>
<translation id="2299220924812062390">सक्षम प्लग इन की सूची निर्दिष्ट करें</translation>
<translation id="2303795211377219696">क्रेडिट कार्ड के लिए अपने आप भरने की सुविधा (ऑटो फ़िल) चालू करें</translation>
<translation id="2309390639296060546">सामान्य भौगोलिक स्थान सेटिंग</translation>
<translation id="2327252517317514801">G Suite एक्सेस करने की अनुमति वाले डोमेन तय करें</translation>
<translation id="2356878440219553005">बैटरी चार्ज मोड पावर प्रबंधन की नीति के बारे में बताती है.
बैटरी चार्जिंग को डायनैमिक तरीके से नियंत्रित करें ताकि बैटरी पर ज़ोर पड़ने की वजह से उसका जल्दी खत्म होना कम से कम किया जा सके. साथ ही, बैटरी को बेहतर बनाया जा सके.
अगर कस्टम बैटरी चार्ज मोड चुना जाता है, तो DeviceBatteryChargeCustomStartCharging और DeviceBatteryChargeCustomStopCharging के बारे में बताया जाना चाहिए.
अगर यह नीति सेट की जाती है, तो बैटरी चार्ज मोड तब लागू किया जाएगा जब डिवाइस पर इसकी सुविधा हो.
अगर यह नीति सेट किए बिना छोड़ दी जाती है और डिवाइस पर नीति की सुविधा नहीं है, तो मानक बैटरी चार्ज मोड लागू किया जाएगा. साथ ही, इस्तेमाल करने वाला उसे बदल नहीं सकता.
ध्यान दें: अगर पहली नीति के बारे में बताया गया हो, तो <ph name="DEVICE_ADVANCED_BATTERY_CHARGE_MODE_ENABLED_NAME" /> इस नीति को ओवरराइड कर देता है.</translation>
<translation id="237494535617297575">वैसी साइट जिन्हें सूचनाएं दिखाने की अनुमति है, उनके लिए यूआरएल पैटर्न की सूची सेट करने की सुविधा देती है.
अगर इस नीति को सेट किए बिना छोड़ दिया जाता है, तो सभी साइट के लिए वैश्विक डिफ़ॉल्ट मान का उपयोग किया जाएगा. अगर 'DefaultNotificationsSetting' नीति सेट है, तो यह मान इससे लिया जाएगा नहीं तो फिर उपयोगकर्ता के निजी कॉन्फ़िगरेशन का उपयोग किया जाएगा.</translation>
<translation id="2386362615870139244">स्क्रीन को जगाने वाले लॉक की मंज़ूरी दें</translation>
<translation id="2411817661175306360">पासवर्ड सुरक्षा की ओर से चेतावनी बंद है</translation>
<translation id="2411919772666155530">इन साइटों पर सूचनाएं ब्लॉक करें</translation>
<translation id="2418507228189425036"><ph name="PRODUCT_NAME" /> में ब्राउज़र इतिहास सहेजना सक्षम करती है और उपयोगकर्ताओं को यह सेटिंग बदलने से रोकती है.
अगर यह सेटिंग सक्षम हती है, तो ब्राउज़िंग इतिहास सहेजा नहीं जाता. यह सेटिंग टैब समन्‍वयन को भी अक्षम कर देती है.
अगर यह सेटिंग अक्षम हो या सेट नहीं की गई हो, तो ब्राउज़िंग का इतिहास सहेजा जाता है.</translation>
<translation id="2426782419955104525"><ph name="PRODUCT_NAME" /> के इंस्टैंट फ़ीचर को चालू करती है और उपयोगकर्ताओं को इस सेटिंग को बदलने से रोकती है.
अगर आप इस सेटिंग को चालू करते हैं, तो <ph name="PRODUCT_NAME" /> इंस्टैंट चालू हो जाता है.
अगर आप इस सेटिंग को बंद करते हैं, तो <ph name="PRODUCT_NAME" /> इंस्टैंट बंद हो जाता है.
अगर आप इस सेटिंग को चालू या बंद करते हैं, तो उपयोगकर्ता इस सेटिंग को बदल या रद्द नहीं कर सकते.
अगर यह सेटिंग सेट किए बिना छोड़ दी जाती है, तो उपयोगकर्ता इस फ़ंक्शन का उपयोग करने या न करने का फ़ैसला कर सकते हैं.
<ph name="PRODUCT_NAME" /> के 29 और उसके बाद वाले वर्शन से यह सेटिंग हटा दी गई है.</translation>
<translation id="2433412232489478893">यह नीति नियंत्रित करती है कि किसी उपयोगकर्ता के लिए <ph name="PRODUCT_NAME" /> की नेटवर्क फ़ाइल शेयर करने की सुविधा की अनुमति है या नहीं.
जब यह नीति कॉन्फ़िगर नहीं होती या सही पर सेट की जाती है, तो उपयोगकर्ता नेटवर्क फ़ाइल शेयर करने की सुविधा का इस्तेमाल कर पाएंगे.
जब यह नीति गलत पर सेट होती है, तो उपयोगकर्ता नेटवर्क फ़ाइल शेयर करने की सुविधा का इस्तेमाल नहीं कर पाएंगे.</translation>
<translation id="2438609638493026652">Android ऐप्लिकेशन इंस्टॉल करते समय होने वाले खास इवेंट के बारे में Google को रिपोर्ट करती है. सिर्फ़ उन्हीं ऐप्लिकेशन के इवेंट कैप्चर किए जाते हैं जिनके इंस्टॉलेशन को नीति के ज़रिए शुरू हुआ था.
अगर नीति सही पर सेट हो, तो इवेंट लॉग किए जाएंगे.
अगर नीति गलत पर सेट हो या सेट नहीं की गई हो, तो इवेंट लॉग नहीं किए जाएंगे.</translation>
<translation id="244317009688098048">अपने आप लॉगिन के लिए बेलआउट कीबोर्ड शॉर्टकट चालू करें.
अगर यह नीति सेट नहीं की जाती या 'सही' पर सेट की जाती है और किसी डिवाइस के स्थानीय खाते को, बिना किसी देरी के अपने आप लॉगिन के लिए कॉन्फ़िगर किया जाता है, तो <ph name="PRODUCT_OS_NAME" /> अपने आप लॉगिन को बायपास करने तथा लॉगिन स्क्रीन को दिखाने के लिए Ctrl+Alt+S शॉर्टकट से काम करेगा.
अगर यह नीति 'गलत' पर सेट की जाती है, तो बिना किसी देरी के अपने आप लॉगिन (कॉन्फ़िगर होने पर) बायपास नहीं किया जा सकता.</translation>
<translation id="2454228136871844693">स्थिरता के लिए ऑप्टिमाइज़ करें.</translation>
<translation id="2463034609187171371">TLS में DHE सिफ़र सुइट चालू करें</translation>
<translation id="2463365186486772703">ऐप्लिकेशन की स्थान-भाषा</translation>
<translation id="2466131534462628618">कैप्‍टिव पोर्टल प्रमाणीकरण प्रॉक्सी पर ध्यान नहीं देता है</translation>
<translation id="2471748297300970300">अगर यह सुविधा बंद रहती है, तो खतरनाक कमांड लाइन फ़्लैग के साथ Chrome के लॉन्च होने पर भी सुरक्षा से जुड़ी चेतावनियां दिखाई नहीं देंगी.
अगर सुविधा को चालू या सेट नहीं किया गया है, तो खतरनाक कमांड लाइन फ़्लैग के साथ Chrome के लॉन्च होने पर भी सुरक्षा से जुड़ी चेतावनियां दिखाई देंगी.
Windows पर, यह नीति सिर्फ़ उन इंस्टेंस पर उपलब्ध है जिन्हें किसी <ph name="MS_AD_NAME" /> डोमेन से जोड़ा गया है. इसके अलावा, यह Windows 10 Pro या Enterprise के उन इंस्टेंस पर उपलब्ध है जिनका नाम डिवाइस मैनेजमेंट के लिए दर्ज किया गया है.</translation>
<translation id="2482676533225429905">स्थानीय संदेश सेवा</translation>
<translation id="2483146640187052324">किसी भी नेटवर्क कनेक्शन पर नेटवर्क कार्रवाई का पूर्वानुमान लगाएं</translation>
<translation id="2484208301968418871">यह नीति सुरक्षित साइट के यूआरएल फ़िल्टर का तरीका नियंत्रित करती है.
यह फ़िल्टर 'Google सुरक्षित खोज API (एपीआई)' का इस्तेमाल करके वर्गीकृत करता है कि यूआरएल अश्लील (पोर्नोग्राफ़िक) हैं या नहीं.
जब यह नीति कॉन्फ़िगर नहीं की जाती है या "वयस्क सामग्री के लिए साइटें फ़िल्टर न करें" पर सेट की जाती है, तो साइटें फ़िल्टर नहीं की जाएंगी.
जब यह नीति "वयस्क सामग्री के लिए टॉप लेवल की साइटें फ़िल्टर करें" पर सेट की जाती है, तो अश्लील (पोर्नोग्राफ़िक) के रूप में वर्गीकृत साइटें फ़िल्टर की जाएंगी.</translation>
<translation id="2486371469462493753">सूची में शामिल किए गए यूआरएल के लिए 'प्रमाणपत्र पारदर्शिता' की ज़रूरत को लागू करना बंद करती है.
यह नीति तय किए गए किसी खास यूआरएल में होस्टनाम के प्रमाणपत्रों को 'प्रमाणपत्र पारदर्शिता' के ज़रिए ज़ाहिर नहीं करती है. यह उन प्रमाणपत्रों का उपयोग किया जाना जारी रखने की अनुमति देती है, जो भरोसे के लायक नहीं होते क्योंकि वे ठीक तरह से सार्वजनिक तौर पर ज़ाहिर नहीं किए गए थे. हालांकि, यह उन होस्ट के लिए गलत तरीके से जारी किए गए प्रमाणपत्रों का पता लगाना ज़्यादा मुश्किल बना देती है.
https://www.chromium.org/administrators/url-blacklist-filter-format के अनुसार किसी URL पैटर्न को फ़ॉर्मैट किया जाता है. हालांकि, प्रमाणपत्र किसी खास होस्टनाम के लिए ही मान्य होते हैं जो स्कीम, पोर्ट या पाथ से स्वतंत्र होता है, फिर भी यूआरएल के सिर्फ़ होस्टनाम हिस्से को ही स्वीकार किया जाता है. वाइल्डकार्ड होस्ट समर्थित नहीं होते हैं.
अगर इस नीति को जोड़ा नहीं गया है, तो 'प्रमाणपत्र पारदर्शिता' नीति के अनुसार ज़ाहिर नहीं किए जाने पर उन सभी प्रमाणपत्रों को अविश्वसनीय के रूप में देखा जाएगा जिन्हें 'प्रमाणपत्र पारदर्शिता' के ज़रिए ज़ाहिर किया जाना ज़रूरी है.</translation>
<translation id="2488010520405124654">ऑफ़लाइन होने पर नेटवर्क कॉन्फ़िगर करने का संकेत चालू करें.
अगर यह नीति सेट नहीं है या 'सही' पर सेट की गई है और बिना किसी देरी के अपने आप लॉगिन के लिए डिवाइस के स्थानीय खाता को कॉन्फ़िगर किया गया है और डिवाइस में इंटरनेट की एक्सेस नहीं है, तो <ph name="PRODUCT_OS_NAME" /> नेटवर्क कॉन्फ़िगर करने का संकेत दिखाएगा.
अगर यह नीति 'गलत' पर सेट है, तो नेटवर्क कॉन्फ़िगर करने के संकेत के बजाय एक गड़बड़ी का मैसेज दिखाई देगा.</translation>
<translation id="2498238926436517902">अलमारी को हमेशाअपने-आप-छिपाएं</translation>
<translation id="2514328368635166290">यह नीति 'डिफ़ॉल्‍ट खोज सेवा' का पसंदीदा आइकॉन यूआरएल तय करती है.
यह नीति वैकल्पिक है. अगर यह सेट नहीं है तो, खोज सेवा के लिए कोई आइकॉन दिखाई नहीं होगा.
'DefaultSearchProviderEnabled' नीति चालू होने पर ही यह नीति लागू होगी.</translation>
<translation id="2516600974234263142"><ph name="PRODUCT_NAME" /> में प्रिंटिंग सक्षम करता है और उपयोगकर्ताओं को यह सेटिंग बदलने से रोकता है.
अगर यह सेटिंग चालू है या कॉन्फ़िगर नहीं की गई है, तो उपयोगकर्ता प्रिंट कर सकते हैं.
अगर यह सेटिंग बंद है, तो उपयोगकर्ता <ph name="PRODUCT_NAME" /> से प्रिंट कर सकते हैं. पाना मेन्यू, एक्सटेंशन, JavaScript ऐप्लिकेशन, वगैरह में प्रिंटिंग बंद है. प्रिंट करते समय <ph name="PRODUCT_NAME" /> को बायपास करने वाले प्लग इन से प्रिंट करना अब भी संभव है. उदाहरण के लिए, कुछ Flash ऐप्लिकेशन के संदर्भ मेन्यू में प्रिंट विकल्प होता है, जिसे यह नीति कवर नहीं करती है.</translation>
<translation id="2518231489509538392">ऑडियो चलाने दें</translation>
<translation id="2521581787935130926">बुकमार्क बार में ऐप्स शॉर्टकट दिखाएं</translation>
<translation id="2529659024053332711">आपको स्टार्टअप पर व्यवहार तय करने की मंज़ूरी देती है.
अगर आप 'नया टैब पेज खोलें' चुनते हैं तो जब भी आप <ph name="PRODUCT_NAME" /> शुरू करेंगे, तब 'नया टैब पेज' खुलेगा.
अगर आप 'पिछला सेशन बहाल करें' चुनते हैं, तो पिछली बार <ph name="PRODUCT_NAME" /> के बंद होने पर खुले यूआरएल फिर से खुल जाएंगे और ब्राउज़िंग सेशन उसी तरह बहाल कर दिया जाएगा जैसा उसे छोड़ा गया था.
इस विकल्प को चुनने पर कुछ ऐसी सेटिंग बंद हो जाती हैं जो सेशन पर भरोसा करती हैं या जो बाहर निकलने पर कार्रवाइयां करती हैं (जैसे कि बाहर निकलने पर ब्राउज़िंग डेटा हटाना या सिर्फ़ सत्र वाली कुकी हटाना).
अगर आप 'यूआरएल की सूची खोलें' चुनते हैं, तो 'स्टार्टअप पर खुलने वाले यूआरएल' की सूची तब खुलेगी जब उपयोगकर्ता <ph name="PRODUCT_NAME" />को शुरू करेगा.
अगर आप यह सेटिंग चालू करते हैं, तो उपयोगकर्ता इसे <ph name="PRODUCT_NAME" /> में बदल नहीं सकेंगे और न ही ओवरराइड कर सकेंगे.
इस सेटिंग को बंद करना इसे कॉन्फ़िगर किए बिना छोड़ देने के बराबर है. उपयोगकर्ता अब भी इसे <ph name="PRODUCT_NAME" /> में बदल सकेगा.
यह नीति सिर्फ़ Windows के उन इंस्टैंस पर उपलब्ध है जिन्हें किसी <ph name="MS_AD_NAME" /> डोमेन से जोड़ा गया है. या फिर Windows 10 Pro या Enterprise के उन इंस्टैंस पर उपलब्ध है जिनका नाम डिवाइस प्रबंधन के लिए दर्ज किया गया है.</translation>
<translation id="2529880111512635313">बलपूर्वक-इंस्टॉल किए गए ऐप्स और एक्सटेंशन की सूची कॉन्फ़िगर करें</translation>
<translation id="253135976343875019">AC पावर पर चलते समय प्रयोग में नहीं चेतवनी विलंब</translation>
<translation id="2536525645274582300">उपयोगकर्ता 'Google स्थान सेवाओं' को चालू करने या नहीं करने का फ़ैसला लेता है</translation>
<translation id="254653220329944566"><ph name="PRODUCT_NAME" /> क्लाउड रिपोर्टिंग चालू करती है</translation>
<translation id="2548572254685798999">सुरक्षित ब्राउज़िंग से जुड़ी जानकारी रिपोर्ट करना</translation>
<translation id="2550593661567988768">सिर्फ़ सिंप्लेक्स प्रिंटिंग</translation>
<translation id="2552966063069741410">समयक्षेत्र</translation>
<translation id="2562339630163277285">यह नीति झटपट नतीजे देने के लिए उपयोग किए जाने वाले खोज इंजन का यूआरएल तय करती है. यूआरएल में स्ट्रिंग <ph name="SEARCH_TERM_MARKER" /> होनी चाहिए, जिसे क्वेरी के समय उपयोगकर्ता के अब तक लिखे गए लेख से बदल दिया जाएगा.
यह नीति वैकल्पिक है. अगर सेट नहीं है तो, कोई झटपट खोज नतीजे नहीं दिए जाएंगे.
Google के झटपट नतीजों का यूआरएल इस रूप में तय किया जा सकता है: <ph name="GOOGLE_INSTANT_SEARCH_URL" />.
यह नीति सिर्फ़ तब काम करेगी जब 'DefaultSearchProviderEnabled' नीति चालू होगी.</translation>
<translation id="2569647487017692047">अगर यह नीति 'गलत' पर सेट की जाती है तो, <ph name="PRODUCT_OS_NAME" /> ब्लूटूथ को बंद कर देगा और उपयोगकर्ता उसे वापस चालू नहीं कर पाएगा.
अगर यह नीति 'सही' पर सेट की जाती है या उसे सेट किए बिना छोड़ दिया जाता है, तो उपयोगकर्ता अपनी मर्ज़ी से ब्लूटूथ को चालू या बंद कर सकेगा.
अगर यह नीति सेट की जाती है, तो उपयोगकर्ता उसे न ही बदल सकता है और न ही रद्द कर सकता है.
ब्लूटूथ चालू करने के बाद, बदलावों को लागू करने के लिए उपयोगकर्ता को पहले लॉग आउट करके फिर से लॉग इन करना होगा (ब्लूटूथ बंद करते समय ऐसा करने की ज़रूरत नहीं है).</translation>
<translation id="2571066091915960923">डेटा का आकार कम करने संबंधी प्रॉक्सी को चालू या बंद करें और उपयोगकर्ताओं को यह सेटिंग बदलने से रोकें.
अगर आप इस सेटिंग को चालू या बंद करते हैं, तो उपयोगकर्ता इस सेटिंग को बदल या इसे रद्द नहीं कर सकते.
अगर इस नीति को जोड़ा नहीं जाता है, तो उपयोगकर्ता डेटा का आकार कम करने संबंधी प्रॉक्सी सुविधा का फ़ायदा उठा सकेंगे और इसका उपयोग करने या न करने को चुन सकेंगे.</translation>
<translation id="257788512393330403">हर छह घंटे में पासवर्ड डालना ज़रूरी है.</translation>
<translation id="2586162458524426376">
यह नीति साइन-इन स्क्रीन पर लागू होती है. कृपया उपयोगकर्ता सत्र पर लागू होने वाली <ph name="ISOLATE_ORIGINS_POLICY_NAME" /> नीति भी देखें.
अगर नीति चालू होती है, तो कॉमा के ज़रिए अलग की गई सूची में बताया गया हर मूल उसकी अपनी प्रक्रिया में चलेगा. यह उप डोमेन के मुताबिक बताए गए मूल को भी आइसोलेट करेगी; उदाहरण: बताए गए https://example.com/ की वजह से https://foo.example.com/ भी https://example.com/ साइट के भाग के रूप में आइसोलेट हो जाएगा.
अगर नीति कॉन्फ़िगर नहीं की जाती है या बंद होती है, तो साइन-इन स्क्रीन के लिए प्लैटफ़ॉर्म की डिफ़ॉल्ट 'साइट आइसोलेशन सेटिंग' का इस्तेमाल किया जाएगा.
</translation>
<translation id="2587719089023392205"><ph name="PRODUCT_NAME" /> को डिफ़ॉल्ट ब्राउज़र के रूप में सेट करें</translation>
<translation id="2592091433672667839">रिटेल मोड में साइन इन स्‍क्रीन पर दिखाने से पहले काम ना करने का कुल समय</translation>
<translation id="2592162121850992309">अगर यह नीति सही पर सेट हो या सेट किए बिना छोड़ दी जाती है, तो हार्डवेयर से तेज़ी लाने की प्रक्रिया तब तक चालू रहेगी जब तक कि किसी जीपीयू सुविधा को नामंज़ूरी वाली सूची में नहीं डाल दिया जाता.
अगर यह नीति गलत पर सेट हो, तो हार्डवेयर से तेज़ी लाने की प्रक्रिया बंद कर दी जाएगी.</translation>
<translation id="2596260130957832043">यह नियंत्रित करती है कि NTLMv2 चालू है या नहीं.
Samba और Windows सर्वर के हाल के सभी वर्शन NTLMv2 पर काम करते हैं. इसे सिर्फ़ पहले के वर्शन से संगतता के लिए बंद किया जाना चाहिए और इससे प्रमाणीकरण की सुरक्षा कम हो जाती है.
अगर यह नीति सेट नहीं की गई है, तो डिफ़ॉल्ट सही होता है और NTLMv2 चालू होता है.</translation>
<translation id="26023406105317310">केर्बेरोस खाते कॉन्फ़िगर करें</translation>
<translation id="2604182581880595781">नेटवर्क फ़ाइल शेयर करने की सुविधा से जुड़ी नीतियां कॉन्फ़िगर करें.</translation>
<translation id="2623014935069176671">'उपयोगकर्ता की शुरुआती गतिविधि' का इंतज़ार करें</translation>
<translation id="262740370354162807"><ph name="CLOUD_PRINT_NAME" /> पर दस्‍तावेज़ों का सबमिशन चालू करती है</translation>
<translation id="2627554163382448569">एंटरप्राइज़ प्रिंटर के लिए कॉन्फ़िगरेशन उपलब्ध कराती है.
यह नीति आपको <ph name="PRODUCT_OS_NAME" /> डिवाइसों के लिए प्रिंटर कॉन्फ़िगरेशन उपलब्ध कराने की मंज़ूरी देती है.
इसका फ़ॉर्मैट NativePrinters शब्दकोश की तरह ही होता है. इसमें अलग से एक "id" या "guid" फ़ील्ड दिया जाता है, जिसे भरना प्रिंटर को मंज़ूरी दिलवाने वाली सूची या रोक लगाने वाली सूची के लिए ज़रूरी होता है.
फ़ाइल पाँच एमबी से ज़्यादा बड़ी नहीं होनी चाहिए और उसे जेएसओएन (JSON) कोड में बदला जाना चाहिए. ऐसा माना जाता है कि करीब 21,000 प्रिंटर वाली फ़ाइल पाँच एमबी वाली फ़ाइल के रूप में कोड की जाएगी. क्रिप्टोग्राफ़िक हैश का इस्तेमाल करके यह पक्का किया जाता है कि डाउनलोड पूरा हो गया है और सही तरह से हो गया है.
फ़ाइल को डाउनलोड करके कैश मेमोरी में रखा जाता है. अगर यूआरएल या हैश में कोई बदलाव होगा तो उसे फिर से डाउनलोड किया जाएगा.
अगर यह नीति सेट की जाती है, तो <ph name="PRODUCT_OS_NAME" /> प्रिंटर कॉन्फ़िगरेशन के लिए फ़ाइल डाउनलोड करेगा और <ph name="BULK_PRINTERS_ACCESS_MODE" />, <ph name="BULK_PRINTERS_WHITELIST" />, और <ph name="BULK_PRINTERS_BLACKLIST" /> के मुताबिक प्रिंटर उपलब्ध कराएगा.
अगर आप यह नीति सेट करते हैं, तो उपयोगकर्ता इसे बदल नहीं सकते या इसे ओवरराइड नहीं कर सकते.
इस नीति का इस पर कोई असर नहीं होता कि उपयोगकर्ता अलग-अलग डिवाइस पर प्रिंटर कॉन्फ़िगर कर पाते हैं या नहीं. यह नीति अलग-अलग उपयोगकर्ताओं के प्रिंटर को कॉन्फ़िगर करने के तरीके की पूरक है.
</translation>
<translation id="2633084400146331575">'बोलकर जवाब देना' चालू करें</translation>
<translation id="2646290749315461919">आपको यह सेट करने की सुविधा देती है कि वेबसाइटों को उपयोगकर्ता की वास्तविक 'जगह की जानकारी' का पता लगाने अनुमति दी जाए या नहीं. उपयोगकर्ता की वास्तविक 'जगह की जानकारी' का पता लगाने की अनुमति डिफ़ॉल्ट रूप से दी जा सकती है, डिफ़ॉल्ट रूप से खारिज की जा सकती है या हर उस समय उपयोगकर्ता से पूछा जा सकता है जब कोई वेबसाइट डेस्कटॉप सूचनाएं दिखाना चाहती हो.
अगर इस नीति को सेट किए बिना छोड़ दिया जाता है तो, 'AskGeolocation' का उपयोग किया जाएगा और उपयोगकर्ता उसे बदल सकेगा.</translation>
<translation id="2647069081229792812">बुकमार्क में बदलाव करने की सुविधा को चालू या बंद करती है</translation>
<translation id="2649896281375932517">उपयोगकर्ताओं को तय करने दें</translation>
<translation id="2650049181907741121">उपयोगकर्ता के लिड बंद करने पर की जाने वाली कार्रवाई</translation>
<translation id="2655233147335439767">यह नीति, डिफ़ॉल्‍ट खोज करते समय उपयोग किए जाने वाले खोज इंजन का यूआरएल तय करती है. यूआरएल में '<ph name="SEARCH_TERM_MARKER" />' स्‍ट्रिंग शामिल होनी चाहिए, जिसे क्‍वेरी के समय उपयोगकर्ता के खोजे जा रहे शब्‍द से बदल दिया जाएगा.
Google के 'खोज यूआरएल' को इस रूप में तय किया जा सकता है: <ph name="GOOGLE_SEARCH_URL" />.
जब 'DefaultSearchProviderEnabled' नीति चालू हो तो यह विकल्‍प सेट होना चाहिए. ऐसा होने पर ही यह विकल्प काम करेगा.</translation>
<translation id="2659019163577049044">अगर आप इस सेटिंग को चालू करते हैं, तो सुविधा के लिए ज़रूरी शर्तों को पूरा करने पर उपयोगकर्ताओं को उनके फ़ोन और Chromebook के बीच एसएमएस मैसेज सिंक करने की अनुमति दी जाएगी. ध्यान रहे कि अगर इस नीति को मंज़ूरी मिलती है, तो उपयोगकर्ता को सेट अप फ़्लो पूरा करके साफ़ तौर पर इस सुविधा को चुनना पड़ेगा. एक बार सेट अप फ़्लो पूरा होने पर, उपयोगकर्ता अपने Chromebook पर एसएमएस मैसेज भेज और पा सकते हैं.
अगर इस सुविधा को बंद कर दिया जाता है, तो उपयोगकर्ता को एसएमएस सिंक करने की अनुमति नहीं मिलेगी.
अगर इस पॉलिसी को सेट किए बिना छोड़ दिया जाता है, तो प्रबंधित उपयोगकर्ता डिफ़ॉल्ट का इस्तेमाल नहीं कर पाएंगे और गैर-प्रबंधित उपयोगकर्ता इसका इस्तेमाल कर सकते हैं.</translation>
<translation id="2660846099862559570">प्रॉक्सी का उपयोग कभी न करें</translation>
<translation id="2672012807430078509">एनटीएलएम को एसएमबी माउंट के लिए प्रमाणीकरण प्रोटोकॉल के तौर पर चालू करना नियंत्रित करती है</translation>
<translation id="267596348720209223">खोज की सुविधा देने वाले की सहायता के साथ वर्ण एन्‍कोडिंग निर्दिष्ट करती है. एन्‍कोडिंग UTF-8, GB2312, और ISO-8859-1 जैसे कोड पेज नाम होते हैं. वे दिए गए क्रम में आज़माए जाते हैं.
यह नीति वैकल्पिक है. अगर सेट न हो, तो डिफ़ॉल्‍ट का उपयोग किया जाएगा जो कि UTF-8 है.
इस नीति पर तभी विचार किया जाता है जब 'DefaultSearchProviderEnabled' नीति चालू हो.</translation>
<translation id="268577405881275241">डेटा कंप्रेशन की प्रॉक्सी सुविधा चालू करें</translation>
<translation id="2693108589792503178">पासवर्ड बदलने के URL को कॉन्फ़िगर करें.</translation>
<translation id="2694143893026486692">सामग्री को बड़ा दिखाने की डॉक की गई सुविधा चालू की गई</translation>
<translation id="2706708761587205154">सिर्फ़ पिन के साथ प्रिंट करने की अनुमति दें.</translation>
<translation id="2710534340210290498">अगर यह नीति गलत पर सेट हो, तो इस्तेमाल करने वाले लोग स्क्रीन को लॉक नहीं कर पाएंगे (सिर्फ़ उपयोगकर्ता सत्र से साइन आउट किया जा सकेगा). अगर यह सेटिंग सही पर सेट हो या सेट नहीं हो, तो पासवर्ड के ज़रिए मंज़ूरी देने वाले उपयोगकर्ता स्क्रीन को लॉक कर सकते हैं.</translation>
<translation id="2731627323327011390">ARC-ऐप्लिकेशन के लिए <ph name="PRODUCT_OS_NAME" /> प्रमाणपत्रों का उपयोग बंद करें</translation>
<translation id="2742843273354638707">Chrome वेब स्टोर ऐप्लिकेशन और फ़ुटर लिंक को नए टैब पेज और <ph name="PRODUCT_OS_NAME" /> ऐप्लिकेशन लॉन्चर से छिपाएं.
जब इस नीति को सही पर सेट किया गया हो, तो आइकन छिपे रहते हैं.
जब इस नीति को गलत पर सेट किया गया हो या कॉन्फ़िगर न किया गया हो, तो आइकन दिखाई देते हैं.</translation>
<translation id="2744751866269053547">प्रोटोकॉल प्रबंधकों को रजिस्टर कराएं</translation>
<translation id="2746016768603629042">यह नीति इस्तेमाल में नहीं है, कृपया इसके बजाय DefaultJavaScriptSetting का उपयोग करें.
<ph name="PRODUCT_NAME" /> में JavaScript बंद करने लिए उपयोग की जा सकती है.
अगर यह सेटिंग के बंद है तो, वेब पेज JavaScript का उपयोग नहीं कर सकते और उपयोगकर्ता उस सेटिंग को बदल नहीं सकता.
अगर यह सेटिंग चालू है या सेट नहीं है तो, वेब पेज JavaScript का उपयोग कर सकते हैं लेकिन उपयोगकर्ता उस सेटिंग को बदल सकता है.</translation>
<translation id="2753637905605932878">WebRTC द्वारा उपयोग किए जाने वाले स्थानीय UDP पोर्ट की सीमा प्रतिबंधित करें</translation>
<translation id="2757054304033424106">एक्सटेंशन/ऐप्स के ऐसे प्रकार जिन्हें इंस्टॉल किए जाने की अनुमति है</translation>
<translation id="2758084448533744848">डिवाइस के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले लागू किए गए समय क्षेत्र को बताती है. जब यह नीति सेट की जाती है, तो डिवाइस के उपयोगकर्ता बताए गए समय क्षेत्र को बदल नहीं सकते. अगर कोई गलत मान दिया जाता है, तो नीति इसके बजाय "GMT" का इस्तेमाल करके अब भी चालू रहती है. अगर कोई खाली स्ट्रिंग दी जाती है, तो नीति को अनदेखा कर दिया जाता है.
अगर इस नीति का इस्तेमाल नहीं किया जाता, तो हाल में चालू समय क्षेत्र इस्तेमाल में बना रहेगा, हालांकि उपयोगकर्ता समय क्षेत्र को बदल सकते हैं.
नए डिवाइस "यूएस/प्रशांत" में सेट समय क्षेत्र के साथ शुरू होते हैं.
मान का फ़ॉर्मैट "आईएएनए समय क्षेत्र डेटाबेस" ("https://en.wikipedia.org/wiki/Tz_database" देखें) में दिए गए समय क्षेत्रों के नामों का पालन करता है. खास तौर पर, ज़्यादातर समय क्षेत्र "continent/large_city" या "ocean/large_city" से जुड़े हो सकते हैं.
इस नीति को सेट करने से, डिवाइस के 'जगह की जानकारी' के ज़रिए अपने आप समय क्षेत्र को ठीक करने की प्रक्रिया पूरी तरह बंद हो जाती है. यह SystemTimezoneAutomaticDetection नीति को भी रद्द कर सकती है.</translation>
<translation id="2759224876420453487">'एक से ज़्यादा प्रोफ़ाइल सत्र' में उपयोगकर्ता के व्यवहार को नियंत्रित करें</translation>
<translation id="2761483219396643566">बैटरी पावर पर चलते समय प्रयोग में नहीं चेतावनी विलंब</translation>
<translation id="2762164719979766599">प्रवेश स्क्रीन पर दिखाए जाने वाले डिवाइस-स्थानीय खातों की सूची निर्दिष्ट करता है.
प्रत्येक सूची प्रविष्टि किसी पहचानकर्ता को निर्दिष्ट करती है, जिसका उपयोग आंतरिक रूप से भिन्न डिवाइस-स्थानीय खातों को अलग-अलग बताने के लिए किया जाता है.</translation>
<translation id="2769952903507981510">दूर से एक्सेस होने वाले होस्ट के लिए ज़रूरी डोमेन नाम को कॉन्फ़ि‍गर करें</translation>
<translation id="2783078941107212091">लॉन्चर में, खोज बॉक्स में कुछ न लिखे होने पर ऐप्लिकेशन के सुझाव पाने की सुविधा चालू करें.
अगर यह नीति सही पर सेट की जाती है, तो खोज बॉक्स में कुछ न लिखा होने पर ऐप्लिकेशन के सुझाव दिखाई दे सकते हैं.
अगर यह नीति गलत पर सेट की जाती है, तो खोज बॉक्स में कुछ न लिखा होने पर ऐप्लिकेशन के सुझाव नहीं दिखाई देंगे.
अगर आपने यह नीति सेट कर दी है, तो उपयोगकर्ता इसमें बदलाव नहीं कर सकते है.
अगर यह नीति सेट किए बिना छोड़ दी जाती है, तो प्रबंधित किए गए डिवाइस के लिए डिफ़ॉल्ट रूप से इसे गलत पर सेट माना जाएगा.</translation>
<translation id="2787173078141616821">Android की स्थिति के बारे में जानकारी की रिपोर्ट करना</translation>
<translation id="2799297758492717491">यूआरएल पैटर्न की श्वेतसूची पर मौजूद मीडिया को अपने आप चलने देती है</translation>
<translation id="2801155097555584385">बैटरी चार्ज कस्टम स्टार्ट चार्जिंग को प्रतिशत में सेट करें</translation>
<translation id="2801230735743888564">डिवाइस के ऑफ़लाइन होने पर उपयोगकर्ताओं को डाइनासोर ईस्टर एग गेम खेलने दें.
अगर इस पॉलिसी को असत्य पर सेट किया गया है, तो डिवाइस के ऑफ़लाइन होने पर उपयोगकर्ता डाइनासोर ईस्टर एग गेम नहीं खेल पाएंगे. अगर इस पॉलिसी को सत्य पर सेट किया गया है, तो उपयोगकर्ता डाइनासोर गेम खेल पाएंगे. अगर इस पॉलिसी को सेट नहीं किया गया है, तो उपयोगकर्ताओं को नामांकित Chrome OS पर डाइनासोर ईस्टर गेम खेलने की अनुमति नहीं दी जाएगी, लेकिन उन्हें अन्य परिस्थितियों में खेलने की अनुमति होगी.</translation>
<translation id="2802085784857530815">आपको यह नियंत्रित करने देती है कि उपयोगकर्ता गैर-एंटरप्राइज़ प्रिंटर एक्सेस कर सकते हैं या नहीं
अगर नीति को 'सही' पर सेट किया जाता है या बिल्कुल भी सेट नहीं किया जाता है, तो उपयोगकर्ता अपने स्थानीय प्रिंटर जोड़ सकेंगे, उन्हें कॉन्फ़िगर कर सकेंगे और उनका इस्तेमाल करके प्रिंट कर सकेंगे.
अगर नीति को गलत' पर सेट किया जाता है, तो उपयोगकर्ता अपने स्थानीय प्रिंटर जोड़ नहीं सकेंगे और उन्हें कॉन्फ़िगर नहीं कर सकेंगे. इसके साथ ही वे पहले कॉन्फ़िगर किए हुए किसी भी स्थानीय प्रिंटर का इस्तेमाल भी नहीं कर सकेंगे.
</translation>
<translation id="2805707493867224476">सभी साइट को पॉप-अप दिखाने की अनुमति दें</translation>
<translation id="2808013382476173118">जब रिमोट क्‍लाइंट इस मशीन से कनेक्‍शन बनाने की कोशिश कर रहे हों तब STUN सर्वरों का उपयोग चालू करती है.
अगर यह सेटिंग चालू हो, तो फिर रिमोट क्‍लाइंट इस मशीन को खोज सकते हैं और इससे कनेक्‍ट हो सकते हैं भले ही उन्‍हें किसी फ़ायरवॉल के ज़रिए अलग किया गया हो.
अगर यह सेटिंग बंद हो और फ़ायरवॉल के ज़रिए आउटगोइंग UDP कनेक्‍शन फ़िल्‍टर किए गए हों, तो यह मशीन सिर्फ़ स्‍थानीय नेटवर्क के अंदर वाली क्‍लाइंट मशीनों के कनेक्‍शन की ही अनुमति देगी.
अगर इस नीति को सेट किए बिना छोड़ दिया जाता है तो सेटिंग चालू हो जाएगी.</translation>
<translation id="2813281962735757923">यह नीति वह समय तय करती है, जिस दौरान <ph name="PRODUCT_OS_NAME" /> डिवाइस अपने आप अपडेट की जाँच नहीं कर सकता.
जब यह नीति समय के अंतरालों की गैर-खाली सूची पर सेट होती है:
तय समय अंतरालों पर, डिवाइस अपने आप अपडेट की जाँच नहीं कर सकेंगे. जिन डिवाइसों को रोलबैक की ज़रूरत है या जिन पर कम से कम <ph name="PRODUCT_OS_NAME" /> वर्शन चल रहा है, उन पर संभावित सुरक्षा वजहों से इस नीति का असर नहीं होगा. इसके साथ ही, उपयोगकर्ताओं या एडमिन के अनुरोध किए हुए अपडेट की जाँचों को यह नीति ब्लॉक नहीं करेगी.
जब यह नीति सेट न हो या इसमें कोई समय अंतराल न हो:
यह नीति अपने आप होने वाली किसी भी अपडेट जाँच को ब्लॉक नहीं करेगी, लेकिन उन जाँचों को दूसरी नीतियां ब्लॉक कर सकती हैं. यह सुविधा सिर्फ़ उन Chrome डिवाइस पर चालू है जो अपने आप लॉन्च होने वाले किओस्क के तौर पर सेट हैं. दूसरे डिवाइसों पर इस नीति के प्रतिबंध लागू नहीं होंगे.</translation>
<translation id="2823870601012066791"><ph name="PRODUCT_OS_NAME" /> क्लाइंट के लिए Windows रजिस्ट्री का स्थान:</translation>
<translation id="2824715612115726353">गुप्त मोड चालू करें</translation>
<translation id="2836621397261130126">यह नियंत्रित करती है कि <ph name="KERBEROS" /> के टिकट सौंपने का फ़ैसला लेते समय केडीसी नीति की मंज़ूरी को ध्यान में रखा जाता है या नहीं.
अगर यह नीति सही है, तो एचटीटीपी प्रमाणीकरण केडीसी नीति की मंज़ूरी को ध्यान में रखता है; यानी जब केडीसी किसी सेवा टिकट पर <ph name="OK_AS_DELEGATE" /> को सेट करता है तभी Chrome क्रेडेंशियल सौंपता है. कृपया ज़्यादा जानकारी के लिए https://tools.ietf.org/html/rfc5896.html देखें. सेवा 'AuthNegotiateDelegateWhitelist' नीति के तहत होनी चाहिए.
अगर यह नीति सेट नहीं की जाती या गलत पर सेट की जाती है, तो इस्तेमाल किए जा सकने वाले प्लैटफ़ॉर्म पर केडीसी नीति को अनदेखा कर दिया जाता है. इसके बजाय, सिर्फ़ 'AuthNegotiateDelegateWhitelist' नीति को ध्यान में रखा जाता है.
Windows पर केडीसी नीति को हमेशा ध्यान में रखा जाता है.</translation>
<translation id="283695852388224413">अगर नीति सेट की जाती है, तो कॉन्फ़िगर की गई पिन की ज़्यादा से ज़्यादा लंबाई लागू की जाती है. शून्य या इससे कम मान का मतलब है कोई ज़्यादा से ज़्यादा लंबाई नहीं होना; ऐसे में इस्तेमाल करने वाला जितना चाहे उतना लंबा पिन सेट कर सकता है. अगर सेटिंग <ph name="PIN_UNLOCK_MINIMUM_LENGTH_POLICY_NAME" /> से कम लेकिन शून्य से ज़्यादा हो, तो ज़्यादा से ज़्यादा लंबाई, कम से कम लंबाई के बराबर होती है.
अगर नीति सेट नहीं हो, तो ज़्यादा से ज़्यादा लंबाई लागू की जाती है.</translation>
<translation id="2838830882081735096">डेटा माइग्रेशन और एआरसी की अनुमति न दें</translation>
<translation id="2839294585867804686">नेटवर्क फ़ाइल शेयर करने की सुविधा की सेटिंग</translation>
<translation id="2840269525054388612">उन प्रिंटर के बारे में बताती है जिनका इस्तेमाल कोई उपयोगकर्ता कर सकता है.
इस नीति का इस्तेमाल तभी किया जाता है जब <ph name="DEVICE_PRINTERS_ACCESS_MODE" /> के लिए <ph name="PRINTERS_WHITELIST" /> को चुना गया हो
अगर इस नीति का इस्तेमाल किया जाता है तो, सिर्फ़ ऐसे प्रिंटर उपयोगकर्ता को उपलब्ध कराए जाते हैं जिनके आईडी इस नीति में दिए गए मान से मेल खाते हैं. आईडी <ph name="DEVICE_PRINTERS_POLICY" /> में बताई गई फ़ाइल के "id" या "guid" फ़ील्ड के मुताबिक होने चाहिए.
</translation>
<translation id="2842152347010310843">यूआरएल पैटर्न की उस सूची को नियंत्रित करती है जिसे मंज़ूरी मिली हुई है और जिससे अपने आप चलने की सुविधा हमेशा चालू रहेगी.
अगर अपने आप चलने की सुविधा चालू रहती है तो, <ph name="PRODUCT_NAME" /> में ऑडियो सामग्री के साथ वीडियो अपने आप चल सकते हैं (उपयोगकर्ता की मंज़ूरी के बिना).
मान्य यूआरएल पैटर्न की विशेषताएं ये हैं:
- [*.]domain.tld (domain.tld और सभी सब-डोमेन मेल खाते हैं)
- होस्ट (सटीक होस्टनाम मेल खाता है)
- scheme://host:port (काम की स्कीम: एचटीटीपी,एचटीटीपीएस)
- scheme://[*.]domain.tld:port (काम की स्कीम: http,https)
- file://path (पाथ पूरा होना चाहिए और वह '/' से शुरू होना चाहिए)
- a.b.c.d (सही IPv4 ip से मेल खाता है)
- [a:b:c:d:e:f:g:h] (सही IPv6 ip से मेल खाता है)
अगर AutoplayAllowed नीति 'सही' पर सेट की गई है, तो इस नीति का कोई असर नहीं होगा.
अगर AutoplayAllowed नीति 'गलत' पर सेट की गई है, तो इस नीति में सेट सभी यूआरएल पैटर्न को चलाने की अनुमति होगी.
ध्यान रखें कि अगर <ph name="PRODUCT_NAME" /> चल रहा है और यह नीति बदल जाती है, तो यह सिर्फ़ खोले गए नए टैब पर लागू होगी. इसलिए हो सकता है कि कुछ टैब अब भी पुराने तरीके से काम करें.</translation>
<translation id="284288632677954003">उस एक्सएमएल फ़ाइल का यूआरएल जिसमें ऐसे यूआरएल दिए गए हैं जिन्हें कभी भी ब्राउज़र में बदलाव ट्रिगर नहीं करना चाहिए.</translation>
<translation id="285480231336205327">हाई कंट्रास्ट मोड चालू करें</translation>
<translation id="2854919890879212089">इसके कारण <ph name="PRODUCT_NAME" />, 'प्रिंट की झलक' में डिफ़ॉल्ट पसंद के तौर पर, सबसे हाल में उपयोग किए गए प्रिंटर के बजाय सिस्टम डिफ़ॉल्ट प्रिंटर का इस्तेमाल करता है.
अगर आप इस सेटिंग को बंद कर देते हैं या कोई मान तय नहीं करते हैं तो, 'प्रिंट की झलक' डिफ़ॉल्ट पसंद के तौर पर सबसे हाल में उपयोग किए गए प्रिंटर का इस्तेमाल करेगा.
अगर आप इस सेटिंग को चालू करते हैं तो, 'प्रिंट की झलक' डिफ़ॉल्ट पसंद के तौर पर OS सिस्टम डिफ़ॉल्ट प्रिंटर का उपयोग करेगा.</translation>
<translation id="285627849510728211">दिन में बेहतर बैटरी चार्ज मोड का इस्तेमाल करने के लिए इसे सेट करें</translation>
<translation id="2856674246949497058">अगर OS वर्शन टारगेट से नया है, तो रोल बैक करें और टारगेट वर्शन पर रहें. इस प्रक्रिया के दौरान एक पावरवॉश करें.</translation>
<translation id="2872961005593481000">शट डाउन करें</translation>
<translation id="2873651257716068683">डिफ़ॉल्ट प्रिंटिंग पेज आकार ओवरराइड कर देती है. अगर इस आकार का पेज उपलब्ध नहीं है तो इस नीति को अनदेखा कर दिया जाता है.</translation>
<translation id="2874209944580848064">Android ऐप्लिकेशन का समर्थन करने वाले <ph name="PRODUCT_OS_NAME" /> डिवाइस के लिए नोट:</translation>
<translation id="2877225735001246144">Kerberos की पुष्टि तय करते समय CNAME लुकअप बंद करें</translation>
<translation id="2890645751406497668">इन साइटों को, बताए गए विक्रेता और उत्पाद आईडी वाले यूएसबी डिवाइसों से अपने आप जुड़ने की मंज़ूरी देें.</translation>
<translation id="2892414556511568464">डुप्लेक्स मोड में प्रिंट करना रोक देती है. सेट न की गई और खाली छोड़ दी गई नीति पर कोई रोक नहीं होती है.</translation>
<translation id="2893546967669465276">प्रबंधन सर्वर को सिस्‍टम लॉग भेजें</translation>
<translation id="2899002520262095963">Android ऐप्लिकेशन इस नीति के ज़रिए सेट किए गए नेटवर्क कॉन्फ़िगरेशन और CA प्रमाणपत्रों का इस्तेमाल कर सकते हैं, लेकिन उनके पास कुछ कॉन्फ़िगरेशन विकल्पों का एक्सेस नहीं होता.</translation>
<translation id="290002216614278247">आपको क्लाइंट समय या दिन के इस्तेमाल कोटा के आधार पर उपयोगकर्ता का सत्र लॉक करने देती है.
|time_window_limit| ऐसी विंडो रोज़ तय करती है जिसमें उपयोगकर्ता के सत्र को लॉक किया जाना चाहिए. हम हफ़्ते के हर दिन के लिए सिर्फ़ एक नियम की सुविधा देते हैं, इसलिए |entries| सारणी का आकार 0 से सात तक अलग-अलग हो सकता है. |starts_at| और |ends_at| विंडो सीमा की शुरुआत और अंत होते हैं, जब |starts_at| के मुकाबले |ends_at| कम हो, तो इसका मतलब है कि |time_limit_window| अगले दिन खत्म होगी. |last_updated_millis| इस प्रविष्टि को आखिरी बार अपडेट किए जाने का UTC टाइमस्टैम्प है, इसे स्ट्रिंग के तौर पर भेजा जाता है क्योंकि टाइमस्टैम्प किसी पूर्णांक में फ़िट नहीं बैठेगा.
|time_usage_limit| हर रोज़ का स्क्रीन कोटा बताती है, इसलिए जब उपयोगकर्ता उस कोटा तक पहुंचता है, तो उपयोगकर्ता का सत्र लॉक कर दिया जाता है. हफ़्ते के हर दिन के लिए एक प्रॉपर्टी होती है और उसे तभी सेट किया जाना चाहिए जब उस दिन के लिए कोई चालू कोटा मौजूद हो. |usage_quota_mins| समय की वह मात्रा है जितनी देर तक दिन भर में प्रबंधित डिवाइस का इस्तेमाल किया जा सकता है और |reset_at| वह समय है जब इस्तेमाल का कोटा नवीनीकृत किया जाता है. |reset_at| का डिफ़ॉल्ट मान आधी रात ({'hour': 0, 'minute': 0}) होता है. |last_updated_millis| इस प्रविष्टि के आखिरी बार अपडेट किए जाने का UTC टाइमस्टैम्प है, इसे स्ट्रिंग के तौर पर भेजा जाता है क्योंकि टाइमस्टैम्प किसी पूर्णांक में फ़िट नहीं बैठेगा.
|overrides| को पिछले एक या उससे ज़्यादा नियमों को कुछ समय के लिए अमान्य करने के लिए उपलब्ध कराया जाता है.
* अगर time_window_limit या time_usage_limit, दोनों ही चालू न हों तो डिवाइस को लॉक करने के लिए चालू |LOCK| का इस्तेमाल किया जा सकता है.
* |LOCK| से उपयोगकर्ता सत्र सिर्फ़ उतनी ही देर तक के लिए लॉक हो जाता है जब तक कि अगली time_window_limit या time_usage_limit शुरू नहीं हो जाए.
* |UNLOCK| से time_window_limit या time_usage_limit के ज़रिए लॉक किया हुआ उपयोगकर्ता का सत्र अनलॉक हो जाता है.
|created_time_millis| ओवरराइड बनाए जाने का UTC टाइमस्टैम्प है, इसे स्ट्रिंग के तौर पर इसलिए भेजा जाता है क्योंकि टाइमस्टैम्प किसी पूर्णांक में फ़िट नहीं बैठेगा. इसका इस्तेमाल यह तय करने के लिए किया जाता है कि इस ओवरराइड को अब भी लागू किया जाना चाहिए या नहीं. अगर मौजूदा चालू समय सीमा की सुविधा (समय इस्तेमाल की सीमा या समय विंडो की सीमा) ओवरराइड बनाने के बाद शुरू हुई है, तो उसे कार्रवाई नहीं करना चाहिए. इसके साथ ही अगर ओवरराइड को चालू time_window_limit या time_usage_window के आखिरी बदलाव से पहले बनाया गया था, तो उसे लागू नहीं किया जाना चाहिए.
एक से ज़्यादा ओवरराइड भेजे जा सकते हैं, सबसे नई प्रविष्टि वह है जिसे लागू किया जाने वाला है.</translation>
<translation id="2901725272378498025">कमांड लाइन फ़्लैग के लिए सुरक्षा चेतावनियां दिखाने की सुविधा चालू करें</translation>
<translation id="2905984450136807296">प्रमाणीकरण डेटा कैश जीवनकाल</translation>
<translation id="2906874737073861391">AppPack एक्सटेंशन की सूची</translation>
<translation id="2907992746861405243">यह नियंत्रित करती है कि <ph name="BULK_PRINTERS_POLICY" /> से कौन-कौन से प्रिंटर उपयोगकर्ताओं के लिए उपलब्ध हैं.
बल्क प्रिंटर कॉन्फ़िगरेशन के लिए उपयोग की जाने वाली एक्सेस नीति के बारे में बताती है. अगर <ph name="PRINTERS_ALLOW_ALL" /> को चुना जाता है, तो सभी प्रिंटर दिखाए जाते हैं. अगर <ph name="PRINTERS_BLACKLIST" /> को चुना जाता है, तो तय किए गए प्रिंटर के एक्सेस सीमित करने के लिए <ph name="BULK_PRINTERS_BLACKLIST" /> का उपयोग किया जाता है. अगर <ph name="PRINTERS_WHITELIST" /> को चुना जाता है, तो <ph name="BULK_PRINTERS_WHITELIST" /> सिर्फ़ चुने जा सकने वाले प्रिंटर के बारे में बताती है.
अगर यह नीति सेट नहीं की जाती है, तो <ph name="PRINTERS_ALLOW_ALL" /> की स्थिति मानी जाती है.
</translation>
<translation id="2908277604670530363">प्रॉक्‍सी सर्वर के समवर्ती कनेक्‍शन की अधि‍कतम संख्‍या</translation>
<translation id="2952347049958405264">पाबंदियां:</translation>
<translation id="2956777931324644324">यह नीति <ph name="PRODUCT_NAME" /> वर्शन 36 से निकाल दी गई है.
यह तय करती है कि TLS डोमेन-सीमित प्रमाणपत्रों को चालू किया जाना चाहिए या नहीं.
इस सेटिंग का इस्तेमाल परीक्षण के लिए TLS डोमेन-सीमित प्रमाणपत्र एक्सटेंशन को चालू करने में किया जाता है. भविष्य में इस प्रयोगात्मक सेटिंग को हटा दिया जाएगा.</translation>
<translation id="2957506574938329824">किसी भी साइट को वेब ब्लूटूथ API (एपीआई) के ज़रिए ब्लूटूथ डिवाइस का एक्सेस न मांगने दें</translation>
<translation id="2957513448235202597"><ph name="HTTP_NEGOTIATE" /> प्रमाणीकरण के लिए खाता प्रकार</translation>
<translation id="2959469725686993410">समय-क्षेत्र को ठीक करने के दौरान सर्वर को हमेशा वाई-फ़ाई एक्सेस-पॉइंट भेजें</translation>
<translation id="2959898425599642200">प्रॉक्सी बायपास नियम</translation>
<translation id="2960128438010718932">नया अपडेट लागू करने के लिए कदम दर कदम शेड्यूल</translation>
<translation id="2960691910306063964">दूर के किसी ऐक्‍सेस वाले होस्‍ट के लिए 'बिना पिन के पहचान करने की सुविधा' चालू या बंद करें</translation>
<translation id="2976002782221275500">बैटरी पावर पर चलते समय उस समय सीमा के बारे में बताती है, जितनी देर तक उपयोगकर्ता अगर कोई भी इनपुट नहीं देता है तो, उसके बाद स्क्रीन की रोशनी कम हो जाती है.
जब इस नीति को शून्य से ज़्यादा मान पर सेट किया जाता है तो, यह <ph name="PRODUCT_OS_NAME" /> की ओर से स्क्रीन की रोशनी कम किए जाने से पहले की उस समय सीमा के बारे में बताती है, जितनी देर तक उपयोगकर्ता कोई गतिविधि नहीं करता.
जब इस नीति को शून्य पर सेट किया जाता है तो, उपयोगकर्ता की ओर से कोई गतिविधि नहीं करने के बावजूद <ph name="PRODUCT_OS_NAME" /> स्क्रीन की रोशनी कम नहीं करता.
जब यह नीति सेट नहीं की जाती है तो, एक डिफ़ॉल्ट समय सीमा का उपयोग किया जाता है.
नीति का मान मिलीसेकंड में तय किया जाना चाहिए. मानों को, स्क्रीन बंद होने में देरी (अगर सेट हो) और कोई गतिविधि नहीं में देरी से कम या उसके बराबर पर रखा जाता है.</translation>
<translation id="2977997796833930843">ध्यान दें कि इस नीति को रोक दिया गया और अब इसे हटा दिया जाएगा.
यह नीति और खास <ph name="IDLE_ACTION_AC_POLICY_NAME" /> और <ph name="IDLE_ACTION_BATTERY_POLICY_NAME" /> नीतियों को फॉलबैक मान देती है. अगर यह नीति सेट होती है, तो संबंधित ज़्यादा खास नीति के सेट नहीं होने पर इसके मान का ही इस्तेमाल होता है.
जब यह नीति सेट नहीं की गई हो, तो संबंधित ज़्यादा ख़ास नीतियों के बर्ताव पर असर नहीं पड़ता है.</translation>
<translation id="2987155890997901449">एआरसी चालू करें</translation>
<translation id="2987227569419001736">वेब ब्लूटूथ API (एपीआई) का इस्तेमाल नियंत्रित करें</translation>
<translation id="2990018289267778247">अगर यह नीति सही पर सेट होती है, तो सिस्टम ट्रे मेन्यू में सुलभता विकल्प हमेशा दिखाई देंगे.
अगर यह नीति गलत पर सेट होती है, तो सिस्टम ट्रे मेन्यू में सुलभता विकल्प कभी नहीं दिखाई देंगे.
अगर आपने यह नीति सेट कर दी है, तो उपयोगकर्ता इसमें बदलाव नहीं कर सकते हैं.
अगर यह नीति सेट नहीं करते हैं, तो सिस्टम ट्रे मेन्यू में सुलभता विकल्प दिखाई नहीं देंगे. हालांकि, इस्तेमाल करने वाले, सेटिंग पेज की मदद से सुलभता विकल्पों को दिखा सकते हैं.
अगर सुलभता सुविधाएं चालू हैं (कुंजी संयोजन जैसे दूसरे तरीकों से), तो सिस्टम ट्रे मेन्यू में सुलभता के विकल्प हमेशा दिखाई देंगे.</translation>
<translation id="3011301228198307065"><ph name="PRODUCT_NAME" /> में डिफ़ॉल्ट होम पेज यूआरएल को कॉन्फ़िगर करती है और इस्तेमाल करने वालों को इसे बदलने से रोकती है.
होम पेज वह पेज है जो होम बटन से खुलता है. शुरू होने के बाद खुलने वाले पेजों पर RestoreOnStartup की नीतियां लागू होती हैं.
होम पेज का प्रकार या तो आपके यहां बताए हुए यूआरएल पर सेट हो सकता है या फिर 'नया टैब पेज' पर सेट हो सकता है. अगर आप 'नया टैब पेज' चुनते हैं, तो यह नीति लागू नहीं होगी.
अगर आप यह सेटिंग चालू करते हैं, तो उपयोगकर्ता <ph name="PRODUCT_NAME" /> में अपना होम पेज यूआरएल नहीं बदल पाएंगे. हालांकि, वे 'नया टैब पेज' को अपने होम पेज के तौर पर चुन सकते हैं.
अगर HomepageIsNewTabPage को भी सेट नहीं किया गया हो, तो इस नीति को सेट न करने पर उपयोगकर्ता खुद अपना होम पेज सेट कर पाएंगे.
यूआरएल में सामान्य स्कीम, जैसे कि, "http://example.com" या "https://example.com" ज़रूर होनी चाहिए.
यह नीति सिर्फ़ Windows के उन इंस्टेंस पर उपलब्ध है जिन्हें किसी <ph name="MS_AD_NAME" /> डोमेन से जोड़ा गया है. इसके अलावा, यह Windows 10 Pro या Enterprise के उन इंस्टेंस पर उपलब्ध है जिनका नाम डिवाइस मैनेजमेंट के लिए दर्ज किया गया है.</translation>
<translation id="3016255526521614822">श्वेतसूची में शामिल नोट लेने वाले ऐप्लिकेशन की <ph name="PRODUCT_OS_NAME" /> लॉक स्क्रीन पर अनुमति है</translation>
<translation id="3021562480854470924">उपलब्धियों के रोलबैक की मंज़ूर की गई संख्या</translation>
<translation id="3023572080620427845">उस एक्सएमएल फ़ाइल का यूआरएल, जिसमें किसी वैकल्पिक ब्राउज़र में लोड होने वाले यूआरएल दिए गए हैं.</translation>
<translation id="3030000825273123558">मेट्रिक रिपोर्ट करना चालू करें</translation>
<translation id="3033660238345063904">आप प्रॉक्सी सर्वर यूआरएल के बारे में यहां बता सकते हैं.
यह नीति तभी लागू होती है अगर आपने 'प्रॉक्सी सर्वर सेटिंग बताने का तरीका चुनें' में मैन्युअल प्रॉक्सी सेटिंग चुनी हो और अगर <ph name="PROXY_SETTINGS_POLICY_NAME" /> नीति के बारे में नहीं बताया गया हो.
अगर आपने प्रॉक्सी नीतियां सेट करने का कोई दूसरा तरीका चुना हुआ है, तो आपको इस नीति को सेट किए बिना छोड़ देना चाहिए.
ज़्यादा विकल्पों और विस्तार से बताए गए उदाहरणों के लिए, यहां आएं:
<ph name="PROXY_HELP_URL" />.</translation>
<translation id="3034580675120919256">यह सेट करने की सुविधा देती है कि वेबसाइटों को JavaScript चलाने की अनुमति है या नहीं. JavaScript चलाने की अनुमति या तो सभी साइटों के लिए दी जा सकती है या फिर सभी साइटों के लिए खारिज की जा सकती है.
अगर इस नीति को सेट किए बिना छोड़ दिया जाता है तो, 'AllowJavaScript' का उपयोग किया जाएगा और उपयोगकर्ता इसमें बदलाव कर सकेंगे.</translation>
<translation id="3038323923255997294">जब <ph name="PRODUCT_NAME" /> बंद हो पृष्ठभूमि ऐप्‍लिकेशन चलाना जारी रखें</translation>
<translation id="3046192273793919231">ऑनलाइन स्थिति को मॉनीटर करने के लिए प्रबंधन सर्वर को नेटवर्क पैकेट भेजें</translation>
<translation id="3047732214002457234">यह नियंत्रित करती है कि Chrome से हानिकारक सॉफ़्टवेयर हटाने की सुविधा Google को डेटा की रिपोर्ट कैसे करती है</translation>
<translation id="304775240152542058">यह नीति वैकल्पिक ब्राउज़र में लॉन्च किए जाने वाले कमांड-लाइन पैरामीटर नियंत्रित करती है.
जब यह नीति सेट नहीं की जाती है, तो कमांड-लाइन पैरामीटर के तौर सिर्फ़ यूआरएल भेजा जाता है.
जब इस नीति को स्ट्रिंग की सूची पर सेट किया जाता है, तो वैकल्पिक ब्राउज़र को हर स्ट्रिंग अलग-अलग कमांड-लाइन पैरामीटर के तौर पर भेजी जाती है. Windows पर, खाली जगहों के ज़रिए पैरामीटर जोड़ दिए जाते हैं. Mac OS X और Linux पर, किसी पैरामीटर में खाली जगहें हो सकती हैं, लेकिन फिर भी उसे एक पैरामीटर के रूप में माना जाता है.
अगर वेबसाइट किसी हिस्से में ${url} मौजूद है, तो उसे खुलने वाले पेज के यूआरएल से बदल दिया जाता है.
अगर वेबसाइट किसी हिस्से में ${url} मौजूद नहीं है, तो कमांड लाइन के आखिर में यूआरएल जोड़ दिया जाता है.
वातावरण वैरिएबल एक्सपैंड किए जाते हैं. Windows पर, %ABC% को ABC वातावरण वैरिएबल के मान से बदल दिया जाता है. Mac OS X और Linux पर, ${ABC} को ABC वातावरण वैरिएबल के मान से बदल दिया जाता है.</translation>
<translation id="3048744057455266684">अगर इस नीति को जोड़ा गया है और ऑम्निबॉक्स से सुझाए गए किसी खोज URL की क्वेरी स्ट्रिंग में यह पैरामीटर शामिल है तो, सुझाव के ज़रिए अधूरे खोज URL के बजाय, खोज शब्दों और खोज की सुविधा को दिखाया जाएगा.
यह नीति वैकल्पिक है. अगर इसे जोड़ा नहीं जाता है तो, कोई खोज शब्द बदलाव नहीं किया जाएगा.
'DefaultSearchProviderEnabled' नीति चालू होने पर ही इस नीति का पालन किया जाएगा.</translation>
<translation id="3053265701996417839">Microsoft Windows 7</translation>
<translation id="306887062252197004">यह नीति WebDriver सुविधा के उपयोगकर्ताओं को उन नीतियों को
बदलने देती है जो इसके काम में बाधा डाल सकती हैं.
फ़िलहाल यह नीति SitePerProcess और IsolateOrigins नीतियों को बंद करती है.
अगर नीति चालू कर दी जाती है, तो WebDriver असंगत नीतियों
को बदल पाएगा.
अगर नीति बंद कर दी जाती है या कॉन्फ़िगर नहीं की जाती है, तो WebDriver असंगत
नीतियों को नहीं बदल पाएगा.</translation>
<translation id="3069958900488014740"><ph name="PRODUCT_NAME" /> में WPAD (वेब प्रॉक्सी अपने आप खोज) ऑप्टिमाइज़ेशन को बंद करती है.
अगर इस पॉलिसी को असत्य पर सेट किया जाता है, तो WPAD ऑप्टिमाइज़ेशन अक्षम हो जाता है, जिसके कारण <ph name="PRODUCT_NAME" /> को DNS-आधारित WPAD सर्वर के लिए ज़्यादा समय तक प्रतीक्षा करनी पड़ती है. अगर यह पॉलिसी सेट नहीं है या सक्षम नहीं है, तो WPAD ऑप्टिमाइज़ेशन सक्षम हो जाता है.
भले ही इस पॉलिसी को किसी भी तरह से सेट किया जाए, WPAD ऑप्टिमाइज़ेशन सेटिंग को उपयोगकर्ताओं के द्वारा नहीं बदला जा सकता है.</translation>
<translation id="3072045631333522102">रिटेल मोड में साइन इन स्‍क्रीन पर इस्तेमाल करने के लिए स्‍क्रीन सेवर</translation>
<translation id="3072847235228302527">डिवाइस-स्थानीय खाते के लिए सेवा की शर्तों सेट करना</translation>
<translation id="3077183141551274418">'टैब लाइफ़ साइकल' सुविधा को चालू या बंद करती है</translation>
<translation id="3079417254871857650">उस कार्रवाई के बारे में बताती है जिसे तब किया जाना चाहिए जब ecryptfs से सुरक्षित करके उपयोगकर्ता की होम निर्देशिका बनाई जाती है
अगर आप इस नीति को 'DisallowArc' पर सेट करते हैं, तो इस्तेमाल करने वाले व्यक्ति के लिए Android ऐप्लिकेशन बंद कर दिए जाएंगे. साथ ही, ecryptfs से ext4 के सुरक्षित करने के तरीके से कोई डेटा नहीं भेजा जाएगा. जब होम निर्देशिका पहले से ही ext4 से सुरक्षित की गई हो, तो Android ऐप्लिकेशन को चलने से नहीं रोका जाएगा.
अगर आप इस नीति को 'डेटा दूसरी जगह भेजें' पर सेट करते हैं, तो ecryptfs से सुरक्षित की गई होम निर्देशिकाएं साइन-इन करने पर उपयोगकर्ता की सहमति मांगे बिना, अपने आप ही डेटा को ext4 सुरक्षित करने के तरीके में भेज देंगी.
अगर आप इस नीति को 'वाइप करें' पर सेट करते हैं, तो ecryptfs से सुरक्षित की गई होम निर्देशिकाएं साइन-इन करने पर मिटा दी जाएंगी. इनके बजाय ext4 से सुरक्षित की गई होम निर्देशिकाएं बनाई जाएंगी. चेतावनीः इससे इस्तेमाल करने वाले का स्थानीय डेटा हट जाता है.
अगर आप इस नीति को 'MinimalMigrate' पर सेट करते हैं, तो ecryptfs से सुरक्षित की गई होम निर्देशिकाएं साइन-इन करने पर मिटा दी जाएंगी. इनके बजाय ext4 से सुरक्षित की गई होम निर्देशिकाएं बनाई जाएंगी. हालांकि, लॉगिन टोकन सुरक्षित रखने की कोशिश की जाएगी ताकि इस्तेमाल करने वाले को फिर से साइन इन न करना पड़े. चेतावनीः इससे इस्तेमाल करने वाले का स्थानीय डेटा हट जाता है.
अगर आप इस नीति को किसी ऐसे विकल्प पर सेट करते हैं जिसकी सुविधा अब नहीं मिलती है ('AskUser' या 'AskForEcryptfsArcUsers'), तो ऐसा माना जाएगा जैसे कि आपने इसके बजाय 'Migrate' को चुना हो.
यह नीति किओस्क का इस्तेमाल करने वालों पर लागू नहीं होती है. अगर यह नीति सेट किए बिना छोड़ दी जाती है, तो डिवाइस ऐसा बर्ताव करेगा जैसे कि 'DisallowArc' को चुना गया हो.</translation>
<translation id="3086995894968271156"><ph name="PRODUCT_NAME" /> में कास्ट पाने वाले को कॉन्फ़िगर करें.</translation>
<translation id="3088796212846734853">आपको उन साइटों के बारे में बताने वाले यूआरएल पैटर्न की सूची सेट करने देती है जिन्हें इमेज दिखाने की मंज़ूरी है.
अगर यह नीति सेट किए बिना छोड़ दी जाती है, तो सभी साइटों के लिए वैश्विक डिफ़ॉल्ट मान का इस्तेमाल या तो 'DefaultImagesSetting' नीति के सेट होने पर इससे किया जाएगा या फिर उपयोगकर्ता के निजी कॉन्फ़िगरेशन से किया जाएगा.
ध्यान दें कि पहले इस नीति को Android पर गलती से चालू कर दिया गया था लेकिन इस काम की क्षमता ने कभी भी Android पर पूरी तरह से काम नहीं किया.</translation>
<translation id="3091832372132789233">उन डिवाइस की बैटरी चार्ज करें जिन्हें प्राथमिक रूप से किसी बाहरी पावर स्रोत से कनेक्ट किया गया है.</translation>
<translation id="3096595567015595053">सक्षम प्‍लग इन की सूची</translation>
<translation id="3101501961102569744">प्रॉक्सी सर्वर सेटिंग निर्दिष्ट करने का तरीका चुनें</translation>
<translation id="3101709781009526431">तारीख और समय</translation>
<translation id="3114411414586006215">यह नीति उन वेबसाइट की सूची नियंत्रित करती है जिनकी वजह से कभी भी ब्राउज़र नहीं बदलेगा.
ध्यान रखें कि <ph name="EXTERNAL_SITELIST_URL_POLICY_NAME" /> की मदद से इस सूची में एलीमेंट भी जोड़े जा सकते हैं.
जब इस नीति को सेट किए बिना छोड़ दिया जाता है, तो सूची में कोई वेबसाइट नहीं जोड़ी जाती.
जब यह नीति सेट की जाती है, तो हर एक आइटम को एक नियम की तरह माना जाता है जो <ph name="URL_LIST_POLICY_NAME" /> की नीति की तरह होता है. हालांकि, तर्क इसके उलट है: जिन नियमों का मिलान होता है उनसे कोई वैकल्पिक ब्राउज़र नहीं खुलेगा.
<ph name="URL_LIST_POLICY_NAME" /> के उलट, नियम दोनों दिशाओं से लागू होते हैं. इसका मतलब है कि जब Internet Explorer का ऐड-इन मौजूद हो और उसे चालू किया गया हो, तो नीति यह भी नियंत्रित करती है कि <ph name="IE_PRODUCT_NAME" /> को ये यूआरएल <ph name="PRODUCT_NAME" /> में खोलने चाहिए या नहीं.</translation>
<translation id="3117676313396757089">चेतावनी: DHE को वर्शन 57 (मार्च 2017 के आस-पास) के बाद <ph name="PRODUCT_NAME" /> से पूरी तरह से निकाल दिया जाएगा और तब यह पॉलिसी काम करना बंद कर देगी.
अगर पॉलिसी को सेट नहीं किया गया है या 'गलत' पर सेट किया जाता है, तो DHE के सिफ़र सुइट को TLS में चालू नहीं किया जाएगा. वरना किसी पुराने सर्वर के साथ संगतता बनाए रखने के लिए उसे 'सही' पर सेट किया जा सकता है. यह एक स्‍टॉपगैप उपाय है और सर्वर को फिर से कॉन्फ़िगर किया जाना चाहिए.
सर्वर को ECDHE के सिफ़र सुइट में माइग्रेट करने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है. अगर ये उपलब्ध नहीं हैं, तो पक्का करें कि RSA कुंजी एक्सचेंज का उपयोग करने वाला सिफ़र सुइट चालू है.</translation>
<translation id="3117706142826400449">अगर नीति बंद की गई हो, तो यह Chrome से हानिकारक सॉफ़्टवेयर हटाने की सुविधा को सिस्टम में अनचाहे सॉफ़्टवेयर देखने और उसे हटाने से रोकती है. Chrome से हानिकारक सॉफ़्टवेयर हटाने की सुविधा को chrome://settings/cleanup से मैन्युअल रूप से ट्रिगर करने की सुविधा बंद है.
अगर चालू किया गया हो या सेट नहीं किया गया हो, तो Chrome से हानिकारक सॉफ़्टवेयर हटाने का टूल सिस्टम में समय-समय पर अनचाहे सॉफ़्टवेयर देखता है और अगर कोई सॉफ़्टवेयर मिलता है, तो उपयोगकर्ता से पूछा जाता है कि क्या वह उसे हटाना चाहता है. Chrome से हानिकारक सॉफ़्टवेयर हटाने की सुविधा को chrome://settings से मैन्युअल रूप से ट्रिगर करने की सुविधा चालू है.
यह नीति सिर्फ़ Windows के उन इंस्टैंस पर उपलब्ध है जिन्हें किसी <ph name="MS_AD_NAME" /> डोमेन से जोड़ा गया है, या फिर Windows 10 Pro या Enterprise के उन इंस्टैंस पर उपलब्ध है जिनका नाम डिवाइस प्रबंधन के लिए दर्ज किया गया है.</translation>
<translation id="3152425128389603870">एकीकृत डेस्कटॉप उपलब्ध कराएं और उसे डिफ़ॉल्ट रूप से चालू करें</translation>
<translation id="3159375329008977062">उपयोगकर्ता के पास यूज़र इंटरफ़ेस (यूआई) से Crostini कंटेनर को एक्सपोर्ट / इंपोर्ट करने की सुविधा है</translation>
<translation id="3165808775394012744">इन नीतियों को यहां इसलिए शामिल किया गया है, ताकि इन्हें हटाने में आसानी हो.</translation>
<translation id="316778957754360075">इस नीति को <ph name="PRODUCT_NAME" /> वर्शन 29 में समाप्त कर दिया गया है. संगठन द्वारा होस्ट किए जाने वाले एक्सटेंशन/ऐप्लिकेशन संग्रह को सेट किए जाने का सुझाया गया तरीका CRX पैकेज होस्ट करने वाली साइट को ExtensionInstallSources में शामिल करना तथा पैकेज के प्रत्यक्ष डाउनलोड लिंक को किसी वेब पेज पर रखना है. उस वेब पेज का एक लॉन्चर ExtensionInstallForcelist नीति का उपयोग करके बनाया जा सकता है.</translation>
<translation id="3168968618972302728">केर्बेरोस पुष्टि से जुड़ी नीतियां</translation>
<translation id="3171369832001535378">डिवाइस नेटवर्क होस्टनाम टेम्प्लेट</translation>
<translation id="3172512016079904926">स्थानीय मैसेज सेवा होस्ट के उपयोगकर्ता-स्तर इंस्टॉलेशन को चालू करती है.
अगर यह सेटिंग चालू है, तो <ph name="PRODUCT_NAME" /> उपयोगकर्ता स्तर पर इंस्टॉल किए गए स्थानीय मैसेज सेवा होस्ट का इस्तेमाल करने देती है.
अगर यह सेटिंग बंद है, तो <ph name="PRODUCT_NAME" />सिर्फ़ सिस्टम स्तर पर इंस्टॉल किए स्थानीय मैसेज सेवा होस्ट का इस्तेमाल करेगा.
अगर यह सेटिंग सेट किए बिना छोड़ दी जाती है, तो <ph name="PRODUCT_NAME" /> उपयोगकर्ता-स्तर स्थानीय मैसेज सेवा होस्ट का इस्तेमाल करने देगा.</translation>
<translation id="3177802893484440532">स्थानीय भरोसेमंद एंकर के लिए ऑनलाइन ओसीएसपी/सीआरएल जाँच की ज़रूरत होती है</translation>
<translation id="3185009703220253572">वर्शन <ph name="SINCE_VERSION" /> से</translation>
<translation id="3187220842205194486">Android ऐप्लिकेशन कॉर्पोरेट कुंजियों का एक्सेस नहीं पा सकते हैं. इस नीति का उन पर कोई प्रभाव नहीं पड़ता.</translation>
<translation id="3205825995289802549">पहली बार चलाने पर पहली ब्राउज़र विंडो को बड़ा करें</translation>
<translation id="3211426942294667684">ब्राउज़र की साइन इन सेटिंग</translation>
<translation id="3214164532079860003">अगर यह नीति चालू हो तो, यह होम पेज को मौजूदा डिफ़ॉल्ट ब्राउज़र से आयात करने के लिए बाध्य करती है.
अगर बंद हो तो, होम पेज को आयात नहीं किया जाता.
अगर इसे सेट नहीं किया गया हो तो, उपयोगकर्ता से आयात करने के लिए पूछा जा सकता है या अपने आप आयात किया जा सकता है.</translation>
<translation id="3219421230122020860">गुप्त मोड उपलब्‍ध</translation>
<translation id="3220624000494482595">अगर किओस्क ऐप्लिकेशन एक Android ऐप्लिकेशन है, तो उसका <ph name="PRODUCT_OS_NAME" /> वर्शन पर कोई नियंत्रण नहीं होगा, भले ही यह नीति <ph name="TRUE" /> पर सेट हो.</translation>
<translation id="3236046242843493070">वे URL प्रतिमान जिनसे एक्सटेंशन, ऐप्लिकेशन, और उपयोगकर्ता स्क्रिप्ट को इंस्टॉल करने की अनुमति मिलती है</translation>
<translation id="3240609035816615922">प्रिंटर कॉन्फ़िगरेशन एक्सेस करने की नीति.</translation>
<translation id="3240655340884151271">डॉक में NIC MAC पता पहले से मौजूद है</translation>
<translation id="3243309373265599239">एसी पावर पर चलते समय उस समय सीमा के बारे में बताती है, जितनी देर तक उपयोगकर्ता अगर कोई भी इनपुट नहीं देता है तो, उसके बाद स्क्रीन की रोशनी कम हो जाती है.
जब इस नीति को शून्य से ज़्यादा मान पर सेट किया जाता है तो, यह <ph name="PRODUCT_OS_NAME" /> की ओर से स्क्रीन की रोशनी कम किए जाने से पहले की उस समय सीमा के बारे में बताती है, जितनी देर तक उपयोगकर्ता कोई गतिविधि नहीं करता.
जब इस नीति को शून्य पर सेट किया जाता है तो, उपयोगकर्ता की ओर से कोई गतिविधि नहीं करने के बावजूद <ph name="PRODUCT_OS_NAME" /> स्क्रीन की रोशनी कम नहीं करता.
जब यह नीति सेट नहीं की जाती है तो, एक डिफ़ॉल्ट समय सीमा का उपयोग किया जाता है.
नीति का मान मिलीसेकंड में तय किया जाना चाहिए. मानों को, स्क्रीन बंद होने में देरी (अगर सेट हो) और कोई गतिविधि नहीं में देरी से कम या उसके बराबर पर रखा जाता है.</translation>
<translation id="3251500716404598358">ब्राउज़र के बीच बदलाव करने से जुड़ी नीतियां कॉन्फ़िगर करती है.
कॉन्फ़िगर की गई वेबसाइटें अपने आप <ph name="PRODUCT_NAME" /> के बजाय किसी दूसरे ब्राउज़र में खुलेंगी.</translation>
<translation id="3264793472749429012">डिफ़ॉल्‍ट खोज की सुविधा देने वाले की एन्कोडिंग</translation>
<translation id="3273221114520206906">सामान्य JavaScript सेटिंग</translation>
<translation id="3284094172359247914">WebUSB API (एपीआई) का इस्तेमाल नियंत्रित करें</translation>
<translation id="3288595667065905535">चैनल रि‍लीज़ करें</translation>
<translation id="3292147213643666827"><ph name="PRODUCT_NAME" /> को, मशीन से कनेक्‍ट किए गए <ph name="CLOUD_PRINT_NAME" /> और लीगेसी प्रिंटर के बीच प्रॉक्‍सी की तरह काम करने लायक बनाती है.
अगर यह सेटिंग चालू है या कॉन्‍फ़िगर नहीं है, तो उपयोगकर्ता अपने Google खाते की पुष्टि के साथ क्लाउड प्रिंट प्रॉक्‍सी चालू कर सकते हैं.
अगर यह सेटिंग बंद है, तो उपयोगकर्ता प्रॉक्‍सी को चालू नहीं कर सकते, और मशीन को <ph name="CLOUD_PRINT_NAME" /> के साथ प्रिंटर साझा करने की अनुमति नहीं दी जाएगी.</translation>
<translation id="3312206664202507568">यह नीति chrome://password-change में ऐसा पेज चालू करती है जो SAML का इस्तेमाल करने वालों को सत्र में होने के दौरान अपने SAML पासवर्ड बदलने देती है. इससे यह पक्का हो जाता है कि SAML पासवर्ड और डिवाइस का लॉकस्क्रीन पासवर्ड आपस में जुड़े रहें.
यह नीति ऐसी सूचनाएं भी चालू करती है जो SAML का इस्तेमाल करने वालों को चेतावनी देती है कि उनके SAML पासवर्ड की अवधि जल्द ही खत्म होने वाली है. इससे सत्र में रहकर ही पासवर्ड बदलकर इस समस्या से फटाफट निपटा जा सकता है.
हालांकि, ये सूचनाएं तभी दिखाई जाएंगी, अगर पासवर्ड की अवधि खत्म होने की जानकारी SAML पहचान की सुविधा देने वाले की तरफ़ से, एसएएमएल लॉगिन के दौरान डिवाइस पर भेजी जाती है.
अगर यह नीति सेट की जाती है, तो इस्तेमाल करने वाला न तो इसे बदल सकता है, न ही ओवरराइड कर सकता है.</translation>
<translation id="3322771899429619102">वैसी साइट जिन्हें कुंजी जनरेट करने की अनुमति नहीं है, उनके लिए यूआरएल पैटर्न की सूची सेट करने की सुविधा देती है. अगर कोई यूआरएल पैटर्न 'KeygenBlockedForUrls' में है तो, यह पॉलिसी ऐसे अपवादों को रद्द कर देती है.
अगर इस नीति को नहीं जोड़ा जाता है तो, सभी साइट के लिए वैश्विक डिफ़ॉल्ट मान का इस्तेमाल किया जाएगा. अगर 'DefaultKeygenSetting' नीति सेट है तो, यह मान इससे लिया जाएगा नहीं तो फिर उपयोगकर्ता के निजी कॉन्फ़िगरेशन का इस्तेमाल किया जाएगा.</translation>
<translation id="332771718998993005"><ph name="PRODUCT_NAME" /> मंज़िल के रूप में दिखाया जाने वाला नाम तय करें.
अगर इस नीति को खाली नहीं रहने वाली स्ट्रिंग पर सेट किया जाता है, तो उस स्ट्रिंग का इस्तेमाल <ph name="PRODUCT_NAME" /> मंज़िल के नाम के रूप में किया जाएगा. ऐसा नहीं होने पर, डिवाइस का नाम ही मंज़िल का नाम होगा. अगर यह नीति सेट नहीं की जाती है, तो डिवाइस का नाम ही मंज़िल का नाम होगा और डिवाइस का मालिक (या डिवाइस का प्रबंधन करने वाले डोमेन का उपयोगकर्ता) उसे बदल सकेगा. नाम में 24 वर्ण ही हो सकते हैं.</translation>
<translation id="3335468714959531450">आपको ऐसे 'यूआरएल पैटर्न' की सूची सेट करने देती है जो उन साइटों के बारे में बताते हैं जिनके पास कुकी सेट करने की मंज़ूरी होती है.
अगर यह नीति सेट न हो, तो सभी साइटों के लिए 'ग्लोबल डिफ़ॉल्ट मान' का उपयोग किया जाएगा. यह मान, 'DefaultPluginsSetting' नीति सेट होने पर उससे लिया जाएगा वरना उपयोगकर्ता के निजी कॉन्फ़िगरेशन से लिया जाएगा.
'CookiesBlockedForUrls' और 'CookiesSessionOnlyForUrls' नीतियां भी देखें. ध्यान रखें कि इन तीन नीतियों के बीच कोई भी टकराव पैदा करने वाला 'यूआरएल पैटर्न' नहीं होना चाहिए - यह नहीं बताया गया है कि ऐसा होने पर किस नीति को प्राथमिकता मिलेगी.</translation>
<translation id="3373364525435227558">किसी सार्वजनिक सत्र के लिए एक या इससे ज़्यादा सुझाई गई भाषाएं सेट करती है, जिससे उपयोगकर्ता इनमें से कोई एक भाषा आसानी से चुन सकते हैं.
उपयोगकर्ता प्रबंधित सत्र को शुरू करने से पहले कोई भाषा और एक कीबोर्ड लेआउट चुन सकता है. डिफ़ॉल्ट रूप से, <ph name="PRODUCT_OS_NAME" /> में काम करने वाली सभी भाषाएं वर्णानुक्रम में सूचीबद्ध की जाती हैं. आप इस नीति का इस्तेमाल सुझाई गई भाषाओं के सेट को सूची में सबसे ऊपर ले जाने के लिए कर सकते हैं.
अगर यह नीति सेट नहीं होती है, तो मौजूदा यूज़र इंटरफ़ेस की भषा पहले से चुनी हुई होगी.
अगर यह नीति सेट होती है, तो सुझाई गई भाषाओं को सूची में सबसे ऊपर ले जाया जाएगा और उन्हें दूसरी सभी भाषाओं से विज़ुअल रूप से अलग किया जाएगा. सुझाई गई भाषाओं को उसी क्रम में सूची में लगाया जाएगा जिसमें वे नीति में दिखाई देती हैं. सुझाई गई सबसे पहली भाषा पहले से चुनी हुई होगी.
अगर एक से ज़्यादा सुझाई गई भाषाएं उपलब्ध हों, तो यह माना जाता है कि उपयोगकर्ता इन भाषाओं में से चुनना चाहेंगे. कोई प्रबंधित सत्र शुरू करते समय भाषा और कीबोर्ड लेआउट को चुनना प्रमुखता से ऑफ़र किया जाएगा. नहीं तो, ऐसा माना जाता है कि ज़्यादातर उपयोगकर्ता पहले से चुनी हुई भाषा का इस्तेमाल करना चाहेंगे. कोई प्रबंधित सत्र शुरू करते समय भाषा और कीबोर्ड लेआउट को चुनना कम प्रमुखता से ऑफ़र किया जाएगा.
जब यह नीति सेट होती है और अपने आप लॉगिन की सुविधा चालू होती है (|DeviceLocalAccountAutoLoginId| और |DeviceLocalAccountAutoLoginDelay| नीतियां देखें), तब अपने आप शुरू होने वाला प्रबंधित सत्र सबसे पहले सुझाई गई भाषा और इस भाषा से मिलान करने वाले सबसे ज़्यादा लोकप्रिय कीबोर्ड का इस्तेमाल करेगा.
पहले से चुना हुआ कीबोर्ड लेआउट, हमेशा ही पहले से चुनी हुई भाषा से मिलान करने वाला सबसे ज़्यादा लोकप्रिय लेआउट होगा.
यह नीति सिर्फ़ सुझाव के रूप में ही सेट की जा सकती है. आप इस नीति का इस्तेमाल सुझाई गई भाषाओं के सेट को सबसे ऊपर ले जाने के लिए कर सकते हैं लेकिन उपयोगकर्ताओं को अपने सत्र के लिए हमेशा ही <ph name="PRODUCT_OS_NAME" /> में काम करने वाली किसी भी भाषा का इस्तेमाल करने की अनुमति होती है.
</translation>
<translation id="3381968327636295719">डिफ़ॉल्‍ट रूप से होस्‍ट ब्राउज़र का उपयोग करें</translation>
<translation id="3384115339826100753">यह नीति पावर पीक शिफ़्ट की पावर प्रबंधन नीति चालू करती है.
पीक शिफ़्ट पावर बचाने की नीति है. यह दिन के उस समय के दौरान ऑल्टरनेटिंग करंट की खपत को कम करती है, जिस समय पावर की सबसे ज़्यादा ज़रूरत होती है. हर हफ़्ते के कामकाजी दिनों में पावर पीक शिफ़्ट मोड में चालू होने और बंद होने का टाइम सेट किया जा सकता है. इस दौरान सिस्टम बैटरी से चलेगा, भले ही उसे ऑल्टरनेटिंग करंट से बिजली क्यों न मिल रही हो. ऐसा तब तक होगा जब तक कि बैटरी एक तय निशान से नीचे नहीं पहुंच जाती है. तय समय खत्म होने के बाद सिस्टम अपने आप ऑल्टरनेटिंग करंट से मिलने वाली बिजली से चलने लगेगा. इसके लिए, सिस्टम का बिजली से जुड़ा होना ज़रूरी है. हालांकि, इस दौरान बैटरी चार्ज नहीं होगी. सिस्टम ऑल्टरनेटिंग करंट से मिलने वाली बिजली का दोबारा इस्तेमाल करके, सामान्य तरीके से काम करने लगेगा. चार्ज शुरू होने के बाद, सिस्टम बैटरी चार्ज करने लगेगा.
अगर यह नीति सही पर सेट है साथ ही DevicePowerPeakShiftBatteryThreshold, DevicePowerPeakShiftDayConfig सेट हैं, तो पावर पीक शिफ़्ट हमेशा चालू रहेगा. हालांकि, इसके लिए उस डिवाइस का पावर पीक शिफ़्ट काम करना चाहिए.
अगर यह नीति गलत पर सेट है, तो पावर पीक शिफ़्ट हमेशा बंद रहेगा.
अगर आपने यह नीति सेट कर दी है, तो उपयोगकर्ता इसमें बदलाव नहीं कर सकते है.
इस नीति को सेट किए बिना ही छोड़ देने पर, पावर पीक शिफ़्ट शुरुआत में ही बंद हो जाता है और उपयोगकर्ता इसे चालू नहीं कर सकता है.</translation>
<translation id="3414260318408232239">अगर यह नीति कॉन्फ़िगर नहीं की जाती है तो फिर <ph name="PRODUCT_NAME" /> डिफ़ॉल्ट कम से कम वर्शन का इस्तेमाल करता है, जो कि TLS 1.0 है.
अन्यथा उसे आगे दिए गए किसी एक मान पर सेट किया जा सकता है: "tls1", "tls1.1" या "tls1.2". सेट होने पर, <ph name="PRODUCT_NAME" /> बताए गए SSL/TLS वर्शन से नीचे वाले वर्शन का इस्तेमाल नहीं करेगा. नहीं पहचाने गए किसी मान को अनदेखा कर दिया जाएगा.</translation>
<translation id="34160070798637152">पूरे डिवाइस के लिए नेटवर्क कॉन्फ़िगरेशन नियंत्रित करती है.</translation>
<translation id="3417418267404583991">अगर यह नीति सही पर सेट है या कॉन्‍फ़िगर नहीं है तो, <ph name="PRODUCT_OS_NAME" /> मेहमान लॉग इन मोड को चालू करेगा. मेहमान लॉग इन मोड बिना नाम वाले उपयोगकर्ता सत्र हैं और इनके लिए पासवर्ड की ज़रूरत नहीं होती है.
अगर यह नीति गलत पर सेट है तो, <ph name="PRODUCT_OS_NAME" /> मेहमान लॉग इन सत्रों को शुरू नहीं होने देगा.</translation>
<translation id="3418871497193485241">YouTube पर सबसे कम पाबंदी वाला मोड लागू करती है और उपयोगकर्ताओं को कम
पाबंदी वाला मोड चुनने से रोकती है.
अगर यह सेटिंग 'सख्त' पर सेट की जाती है तो, YouTube पर सख्त पाबंदी वाला मोड हमेशा काम करता रहता है.
अगर यह सेटिंग 'थोड़ा नरम' पर सेट की जाती है तो, उपयोगकर्ता YouTube पर
सिर्फ़ 'थोड़ा नरम पाबंदी वाला मोड' और 'सख्त पाबंदी वाला मोड' में से किसी एक को चुन सकता है लेकिन वह पाबंदी मोड को बंद नहीं कर सकता.
अगर यह सेटिंग बंद कर दी जाती है या कोई मान सेट नहीं किया जाता है तो, <ph name="PRODUCT_NAME" /> YouTube पर पाबंदी वाला मोड लागू नहीं करता. हालांकि, YouTube की नीतियों जैसी बाहरी नीतियां अब भी पाबंदी वाला मोड लागू कर सकती हैं.</translation>
<translation id="3428247105888806363">नेटवर्क पूर्वानुमान चालू करें</translation>
<translation id="3432863169147125747">प्रिंटिंग सेटिंग नियंत्रित करती है.</translation>
<translation id="3434932177006334880">This setting was named EnableWebBasedSignin prior to Chrome 42, and support for it will be removed entirely in Chrome 43.
This setting is useful for enterprise customers who are using SSO solutions that are not compatible with the new inline signin flow yet.
If you enable this setting, the old web-based signin flow would be used.
If you disable this setting or leave it not set, the new inline signin flow would be used by default. Users may still enable the old web-based signin flow through the command line flag --enable-web-based-signin.
The experimental setting will be removed in the future when the inline signin fully supports all SSO signin flows.</translation>
<translation id="3437924696598384725">उपयोगकर्ता को वीपीएन कनेक्शन प्रबंधित करने दें</translation>
<translation id="3459509316159669723">प्रिंट करना</translation>
<translation id="3460784402832014830">वह URL तय करती है जिसका इस्तेमाल कर सर्च इंजन नया टैब पेज देता है.
यह नीति वैकल्पिक है. अगर इसे जोड़ा नहीं गया है तो, कोई भी नया टैब पेज दिखाई नहीं होगा.
'DefaultSearchProviderEnabled' नीति चालू होने पर ही इस नीति का पालन किया जाएगा.</translation>
<translation id="3461279434465463233">पावर स्थिति की रिपोर्ट करें</translation>
<translation id="346731943813722404">यह तय करती है कि क्या पावर प्रबंधन में देरी और सत्र की समय सीमा, सिर्फ़ किसी सत्र में पहले उपयोगकर्ता की गतिविधि का पता लगाने के बाद ही शुरू हो या नहीं.
अगर यह नीति सही पर सेट की जाती है तो, पावर प्रबंधन में देरी और सत्र की समय सीमा तब तक शुरू नहीं होती जब तक कि किसी सत्र में पहले उपयोगकर्ता की गतिविधि का पता नहीं चल जाता.
अगर यह नीति गलत पर सेट हो या बिना सेट किए हुए छोड़ दी जाए तो, पावर प्रबंधन में देरी और सत्र की समय सीमा, सत्र के शुरू होते ही काम करना चालू कर देती हैं.</translation>
<translation id="3478024346823118645">साइन-आउट करने पर उपयोगकर्ता का डेटा मिटाएं</translation>
<translation id="3480961938508521469">बैटरी को सामान्य दर से पूरी तरह चार्ज करें.</translation>
<translation id="348495353354674884">वर्चुअल कीबोर्ड चालू करें</translation>
<translation id="3487623755010328395">
अगर यह नीति सेट की जाती है, तो <ph name="PRODUCT_NAME" /> खुद को रजिस्टर करने और सभी प्रोफ़ाइल से जुड़ी क्लाउड नीति लागू करने की कोशिश करेगा.
इस नीति का मान नाम दर्ज करने वाला ऐसा टोकन होता है जो Google Admin console के ज़रिए फिर से पाया जा सकता है.</translation>
<translation id="3489247539215560634">अगर यह सेटिंग चालू होती है, तो उपयोगकर्ता <ph name="PRODUCT_NAME" /> में पासवर्ड याद रख सकते हैं और अगली बार किसी साइट में लॉग इन करते समय उन्हें अपने आप इस्तेमाल में ला सकते हैं.
अगर यह सेटिंग बंद होती है, तो इस्तेमाल करने वाले लोग नए पासवर्ड सेव नहीं कर सकते हैं लेकिन वे
अब भी पहले से सेव किए गए पासवर्ड का इस्तेमाल कर सकते हैं.
अगर यह नीति चालू या बंद होती है, तो इस्तेमाल करने वाले लोग इसे <ph name="PRODUCT_NAME" /> में बदल सकते हैं या ओवरराइड कर सकते हैं. अगर यह नीति सेट किए बिना छोड़ दी जाती है, तो पासवर्ड सेव करने की अनुमति होती है (लेकिन इस्तेमाल करने वाला व्यक्ति इसे बंद कर सकता है).</translation>
<translation id="3496296378755072552">पासवर्ड प्रबंधक</translation>
<translation id="3500732098526756068">यह नीति आपको 'पासवर्ड सुरक्षा' चेतावनी ट्रिगर करने का नियंत्रण देती है. जब उपयोगकर्ता ऐसी साइटों पर अपने सुरक्षित पासवर्ड का दोबारा इस्तेमाल करते हैं जिनसे उनकी सुरक्षा को खतरा हो सकता है, तब 'पासवर्ड सुरक्षा' उन्हें चेतावनी देती है.
आप सुरक्षित किए जाने वाले पासवर्ड कॉन्फ़िगर करने के लिए 'PasswordProtectionLoginURLs' और 'PasswordProtectionChangePasswordURL' नीतियों का इस्तेमाल कर सकते हैं.
अगर यह नीति 'PasswordProtectionWarningOff' पर सेट की जाती है, तो 'पासवर्ड सुरक्षा' की कोई चेतावनी नहीं दिखाई जाएगी.
अगर यह नीति 'PasswordProtectionWarningOnPasswordReuse' पर सेट की जाती है, तो उपयोगकर्ता की ओर से किसी भी गैर-मंज़ूरी वाली साइट पर अपने सुरक्षित पासवर्ड का दोबारा इस्तेमाल किए जाने पर 'पासवर्ड सुरक्षा' चेतावनी दिखाई जाएगी.
अगर यह नीति 'PasswordProtectionWarningOnPhishingReuse' पर सेट की जाती है, तो उपयोगकर्ता की ओर से किसी फ़िशिंग साइट पर अपने सुरक्षित पासवर्ड का दोबारा इस्तेमाल किए जाने पर 'पासवर्ड सुरक्षा' चेतावनी दिखाई जाएगी.
अगर यह नीति सेट नहीं की जाती है, तो 'पासवर्ड सुरक्षा सेवा' सिर्फ़ Google के पासवर्ड सुरक्षित रखेगी, लेकिन उपयोगकर्ता इस सेटिंग को बदल सकते हैं.</translation>
<translation id="3502555714327823858">सभी डुप्लेक्स मोड को अनुमति दें</translation>
<translation id="350443680860256679">ARC कॉन्फ़िगर करें</translation>
<translation id="3504791027627803580">इमेज खोजने के लिए इस्तेमाल होने वाले सर्च इंजन का URL तय करती है. इमेज खोजने के अनुरोध GET प्रणाली के ज़रिए भेजे जाएंगे. अगर DefaultSearchProviderImageURLPostParams नीति जोड़ी गई है, तो इमेज खोजने के अनुरोध के लिए इसके बजाय 'पोस्ट विधि' का इस्तेमाल किया जाएगा.
यह नीति वैकल्पिक है. अगर इसे जोड़ा नहीं गया है, तो इमेज खोज की सुविधा का इस्तेमाल नहीं किया जाएगा.
'DefaultSearchProviderEnabled' नीति चालू होने पर ही इस नीति का पालन किया जाएगा.</translation>
<translation id="350797926066071931">अनुवाद चालू करें</translation>
<translation id="3513655665999652754">Quirks Server खास तौर पर हार्डवेयर के लिए बनी कॉन्फ़िगरेशन फ़ाइलें उपलब्ध कराता है,
जैसे कि मॉनीटर का कैलिब्रेशन बदलने के लिए आईसीसी डिसप्ले प्रोफ़ाइल.
जब इस नीति को गलत पर सेट किया जाता है, तो डिवाइस अब कॉन्फ़िगरेशन फ़ाइलें डाउनलोड करने के लिए
Quirks Server से संपर्क करने की कोशिश करेगा.
अगर यह नीति सही है या कॉन्फ़िगर नहीं की गई है, तो <ph name="PRODUCT_OS_NAME" /> अपने आप ही Quirks Server से संपर्क करेगा. साथ ही, उपलब्ध होने पर कॉन्फ़िगरेशन फ़ाइलें डाउनलोड करके उन्हें डिवाइस पर सेव कर लेगा. उदाहरण के लिए, ऐसी फ़ाइलों का इस्तेमाल अटैच किए गए मॉनीटर की डिसप्ले क्वालिटी बेहतर बनाने के लिए किया जा सकता है.</translation>
<translation id="3524204464536655762">किसी भी साइट को WebUSB API (एपीआई) के ज़रिए USB डिवाइस का एक्सेस न मांगने दें</translation>
<translation id="3526752951628474302">सिर्फ़ मोनोक्रोम प्रिंटिंग</translation>
<translation id="3528000905991875314">दूसरे गड़बड़ी वाले पेज चालू करें</translation>
<translation id="3545457887306538845">आपको यह नियंत्रित करने देती है कि डेवलपर टूल कहां इस्तेमाल किए जा सकते हैं.
अगर यह नीति 'DeveloperToolsDisallowedForForceInstalledExtensions' (मान 0, जो डिफ़ॉल्ट मान है) पर सेट की जाती है, तो डेवलपर टूल और 'JavaScript कंसोल' सामान्य तौर पर एक्सेस किए जा सकते हैं, लेकिन उन्हें एंटरप्राइज़ नीति के ज़रिए इंस्टॉल किए गए एक्सटेंशन के संदर्भ में एक्सेस नहीं किया जा सकता.
अगर यह नीति 'DeveloperToolsAllowed' (मान 1) पर सेट की जाती है, तो डेवलपर टूल और 'JavaScript कंसोल' सभी संदर्भों में एक्सेस और इस्तेमाल किए जा सकते हैं, जिनमें एंटरप्राइज़ नीति के ज़रिए इंस्टॉल किए गए एक्सटेंशन का संदर्भ भी शामिल है.
अगर यह नीति 'DeveloperToolsDisallowed' (मान 2) पर सेट की जाती है, तो डेवलपर टूल एक्सेस नहीं किए जा सकते हैं और अब वेबसाइट के तत्वों की जांच नहीं की जा सकती. डेवलपर टूल या 'JavaScript कंसोल' को खोलने वाले सभी कीबोर्ड शॉर्टकट और सभी मेन्यू या संदर्भ मेन्यू बंद हो जाएंगे.</translation>
<translation id="3547954654003013442">प्रॉक्सी सेटिंग</translation>
<translation id="3550875587920006460">अपडेट देखने के लिए सेटिंग को कस्टम शेड्यूल की अनुमति दें. यह सभी उपयोगकर्ताओं पर और डिवाइस पर मौजूद सभी इंटरफ़ेस पर लागू होता है. एक बार सेट होने पर, डिवाइस शेड्यूल के मुताबिक अपडेट देखेगा. कुछ और शेड्यूल किए गए अपडेट चेक रद्द करने के लिए, नीति को हटाया जाना चाहिए.</translation>
<translation id="355118380775352753">वैकल्पिक ब्राउज़र में खोली जाने वाली वेबसाइटें</translation>
<translation id="3554984410014457319">Google Assistant को बोला गया पासवर्ड सुनकर चालू होने की अनुमति दें.</translation>
<translation id="3557208865710006939">भाषाओं की वर्तनी जाँचने की सुविधा हर हाल में चालू करें सूची में नहीं पहचानी गई भाषाएं नज़रअंदाज़ कर दी जाएंगी.
अगर आप यह नीति चालू करते हैं, तो बताई गई भाषाओं के लिए वर्तनी जाँचने की सुविधा को चालू किया जाएगा. इसके अलावा, वे भाषाएं भी चालू की जाएंगी जिनके लिए इस्तेमाल करने वाले व्यक्ति ने वर्तनी जाँचने की सुविधा चालू की है.
अगर आप यह नीति सेट नहीं करते या इसे बंद कर देते हैं, तो इस्तेमाल करने वाले व्यक्ति की वर्तनी जाँचने की प्राथमिकताओं में कोई बदलाव नहीं किया जाएगा.
अगर <ph name="SPELLCHECK_ENABLED_POLICY_NAME" /> नीति गलत पर सेट की जाती है, तो इस नीति पर कोई असर नहीं होगा.
अगर किसी भाषा को इस नीति में और <ph name="SPELLCHECK_LANGUAGE_BLACKLIST_POLICY_NAME" /> नीति में भी शामिल किया गया है, तो इस नीति को प्राथमिकता दी जाती है और भाषा की वर्तनी जाँचने की सुविधा चालू की जाती है.
इस समय काम करने वाली भाषाएं ये हैं: af, bg, ca, cs, da, de, el, en-AU, en-CA, en-GB, en-US, es, es-419, es-AR, es-ES, es-MX, es-US, et, fa, fo, fr, he, hi, hr, hu, id, it, ko, lt, lv, nb, nl, pl, pt-BR, pt-PT, ro, ru, sh, sk, sl, sq, sr, sv, ta, tg, tr, uk, vi.</translation>
<translation id="356579196325389849">इस्तेमाल करने वाले Chrome OS का रिलीज़ चैनल कॉन्फ़िगर कर सकते हैं</translation>
<translation id="3575011234198230041">एचटीटीपी प्रमाणीकरण</translation>
<translation id="3577251398714997599">तंग करने वाले विज्ञापनों वाली साइटों के लिए विज्ञापन सेटिंग</translation>
<translation id="357917253161699596">उपयोगकर्ताओं को उपयोगकर्ता प्रमाणपत्र प्रबंधित करने दें</translation>
<translation id="3583230441447348508">पहले से कॉन्फ़िगर किए गए नेटवर्क फ़ाइल शेयर की सूची दिखाती है.
नीति में मौजूद हर एक सूची आइटम के साथ दो सदस्य हैं: "share_url" और "मोड". "share_url" को शेयर का यूआरएल होना चाहिए और "मोड" को या तो "drop_down" या "pre_mount" होना चाहिए. "drop_down" मोड यह बताता है कि "share_url" को शेयर डिस्कवरी ड्रॉप डाउन में जोड़ा जाएगा. "pre_mount" मोड बताता है कि "share_url" माउंट किया जाएगा.</translation>
<translation id="3591527072193107424">'पुराने ब्राउज़र के लिए मदद' सुविधा चालू करें.</translation>
<translation id="3591584750136265240">लॉगिन प्रमाणीकरण व्यवहार काॅन्फ़िगर करें</translation>
<translation id="3627678165642179114">वर्तनी परीक्षण वेब सेवा को चालू या बंद करें</translation>
<translation id="3628480121685794414">सिंप्लेक्स प्रिंटिंग चालू करें</translation>
<translation id="3631099945620529777">अगर गलत पर सेट हो, तो 'प्रक्रिया खत्म करें' बटन को 'काम का प्रबंधक' में बंद कर दिया जाता है.
अगर सही पर सेट हो या कॉन्फ़िगर न किया गया हो, तो इस्तेमाल करने वाले प्रक्रियाओं को 'काम का प्रबंधक' में खत्म कर सकते हैं.</translation>
<translation id="3643284063603988867">'पासवर्ड याद रखें' सुविधा चालू करें</translation>
<translation id="3646859102161347133">स्क्रीन आवर्धक प्रकार सेट करें</translation>
<translation id="3653237928288822292">डिफ़ॉल्‍ट खोज की सुविधा देने वाले का आइकॉन</translation>
<translation id="3660510274595679517">
अगर यह नीति सही पर सेट की जाती है, तो क्लाउड प्रबंधन में नाम डालना ज़रूरी है. फेल होने पर Chrome के लॉन्च होने की प्रक्रिया ब्लॉक हो जाती है.
अगर यह नीति सेट किए बिना छोड़ी जाती है या गलत पर सेट की जाती है, तो क्लाउड प्रबंधन में नाम डालना वैकल्पिक है. फेल होने पर Chrome के लॉन्च होने की प्रक्रिया ब्लाॅक नहीं होती.
यह नीति डेस्कटॉप पर मशीन स्कोप क्लाउड नीति नामांकन की ओर से इस्तेमाल की जाती है और Windows पर रजिस्ट्री या GPO, Mac पर plist और Linux पर JSON नीति फ़ाइल से सेट की जा सकती है.</translation>
<translation id="3660562134618097814">प्रवेश के दौरान SAML IdP कुकी ट्रांसफर करें</translation>
<translation id="3701121231485832347"><ph name="MS_AD_NAME" /> प्रबंधित<ph name="PRODUCT_OS_NAME" /> डिवाइस की खास सेटिंग को नियंत्रित करती है.</translation>
<translation id="3702518095257671450">दूर से प्रमाणित करने की सुविधा</translation>
<translation id="3702647575225525306"><ph name="POLICY_NAME" /> (इस एक लाइन के फ़ील्ड को रोक दिया गया है और इसे बाद में हटा दिया जाएगा. कृपया नीचे दिए गए एक से ज़्यादा लाइन वाले टेक्स्टबॉक्स का इस्तेमाल करना शुरू करें.)</translation>
<translation id="3709266154059827597">एक्‍सटेंशन इंस्‍टॉलेशन प्रतिबंध कॉन्‍फ़िगर करें</translation>
<translation id="3711895659073496551">निलंबित</translation>
<translation id="3715569262675717862">क्‍लाइंट प्रमाणपत्रों के हिसाब से प्रमाणीकरण</translation>
<translation id="3736879847913515635">उपयोगकर्ता प्रबंधक में व्यक्ति जोड़ना चालू करें</translation>
<translation id="3738723882663496016">यह नीति इस डिवाइस के लिए <ph name="PLUGIN_VM_NAME" /> लाइसेंस कुंजी के बारे में बताती है.</translation>
<translation id="3748900290998155147">साफ़ तौर पर बताया जाता है कि स्क्रीन को जगाने वाले लॉक (सक्रियता लॉक) की अनुमति है या नहीं. स्क्रीन को जगाने वाले लॉक का अनुरोध एक्सटेंशन से किया जा सकता है जो पावर प्रबंधन एक्सटेंशन API (एपीआई) और एआरसी के ज़रिए होता है.
अगर यह नीति 'सही' पर सेट की जाती है या सेट किए बिना छोड़ दी जाती है, तो स्क्रीन को जगाने वाले लॉक पावर प्रबंधन में काम करेंगे.
अगर यह नीति 'गलत' पर सेट की जाती है तो स्क्रीन को जगाने वाले लॉक के अनुरोधों को अनदेखा कर दिया जाएगा.</translation>
<translation id="3750220015372671395">इन साइट पर कुंजी जनरेशन ब्लॉक करें</translation>
<translation id="375266612405883748">इस मशीन में रिमोट होस्ट के इस्तेमाल किए जाने वाले यूडीपी पोर्ट रेंज पर पाबंदी लगाती है.
अगर यह नीति सेट किए बिना छोड़ दी जाती है या अगर इसे किसी खाली स्ट्रिंग पर सेट किया जाता है, तो रिमोट एक्सेस होस्ट को किसी भी उपलब्ध पोर्ट का इस्तेमाल करने की मंज़ूरी दी जाएगी, जब तक कि <ph name="REMOTE_ACCESS_HOST_FIREWALL_TRAVERSAL_POLICY_NAME" /> नीति को बंद नहीं किया जाता. इस स्थिति में, रिमोट एक्सेस होस्ट 12400-12409 की रेंज में यूडीपी पोर्ट का इस्तेमाल करेगा.</translation>
<translation id="3756011779061588474">डेवलपर मोड ब्लॉक करें</translation>
<translation id="3758089716224084329">यह नीति आपको वह प्रॉक्सी सर्वर तय करने देती है जिसका उपयोग <ph name="PRODUCT_NAME" /> करता है और उपयोगकर्ताओं को प्रॉक्सी सेटिंग बदलने से रोकती है.
अगर आप प्रॉक्सी सेटिंग का कभी भी उपयोग नहीं करना और हमेशा सीधे कनेक्ट करना चुनते हैं तो, सभी अन्य विकल्पों को अनदेखा किया जाता है.
अगर आप प्रॉक्सी सर्वर का अपने आप पता लगना चुनते हैं तो, सभी अन्य विकल्पों को अनदेखा किया जाता है.
विस्तार से उदाहरणों के लिए यहां जाएं:
<ph name="PROXY_HELP_URL" />.
अगर आप यह सेटिंग चालू करते हैं तो, <ph name="PRODUCT_NAME" /> और ARC-ऐप्लिकेशन, कमांड लाइन से तय किए गए प्रॉक्सी से जुड़े सभी विकल्पों को अनदेखा करते हैं.
इन नीतियों को सेट किए बिना छोड़ देने से उपयोगकर्ताओं को खुद प्रॉक्सी सेटिंग चुनने की अनुमति मिल जाती है.</translation>
<translation id="3758249152301468420">डेवलपर टूल बंद करें</translation>
<translation id="3764248359515129699">विरासती प्रमाणपत्र अनुमतियों की सूची के लिए प्रमाणपत्र पारदर्शिता से जुड़ी ज़रूरतें लागू करना बंद करती है.
यह नीति उन प्रमाणपत्र शृंखलाओं के लिए प्रमाणपत्र पारदर्शिता प्रकट करने की ज़रूरतें बंद करने देती है जिनमें बताए गए subjectPublicKeyInfo हैश में से किसी एक हैश वाले प्रमाणपत्र मौजूद होते हैं. यह एंटरप्राइज़ होस्ट के लिए उन प्रमाणपत्रों का इस्तेमाल किया जाना जारी रखने देती है, जो किसी दूसरी वजह से अविश्वसनीय होते हैं, क्योंकि वे सही तरीके से सार्वजनिक तौर पर प्रकट नहीं किए गए थे.
इस नीति के सेट किए हुए होने पर प्रमाणपत्र पारदर्शिता लागू करने को बंद किए जाने के लिए, विरासती प्रमाणपत्र अनुमति (CA) के रूप में पहचाने गए CA प्रमाणपत्र में subjectPublicKeyInfo में दिखाई देने वाला हैश मौजूद होना चाहिए. विरासती CA वह CA होती है जो <ph name="PRODUCT_NAME" /> पर काम करने वाले एक या उससे ज़्यादा ऑपरेटिंग सिस्टम पर डिफ़ॉल्ट रूप से सार्वजनिक तौर पर विश्वसनीय होती है, लेकिन यह Android ओपन सोर्स प्रोजेक्ट या <ph name="PRODUCT_OS_NAME" /> की ओर से विश्वसनीय नहीं होती है.
subjectPublicKeyInfo हैश को "/" वर्ण से जुड़े हुए हैश एल्गोरिद्म नाम के ज़रिए बताया जाता है और उस हैश एल्गोरिद्म का Base64 कोड में बदलने का तरीका बताए गए प्रमाणपत्र के DER कोड में बदले गए subjectPublicKeyInfo हैश पर लागू होता है. इस Base64 को कोड में बदलने का तरीके का फ़ॉर्मैट किसी SPKI फ़िंगरप्रिंट के समान होता है, जैसा कि RFC 7469, सेक्शन 2.4 में बताया गया है. अपरिचित हैश एल्गोरिद्म नज़रअंदाज़ कर दिए जाते हैं. फ़िलहाल सिर्फ़ "sha256" हैश एल्गोरिद्म ही काम करता है.
अगर यह नीति सेट नहीं की जाती है तो, प्रमाणपत्र पारदर्शिता नीति के मुताबिक प्रकट नहीं किए जाने पर उन सभी प्रमाणपत्रों को अविश्वसनीय माना जाएगा जिन्हें प्रमाणपत्र पारदर्शिता के ज़रिए प्रकट करना ज़रूरी है.</translation>
<translation id="3765260570442823273">प्रयोग में नहीं लॉग-आउट चेतावनी संदेश की अवधि</translation>
<translation id="377044054160169374">धोखादायक अनुभव हस्तक्षेप लागू करें</translation>
<translation id="3780152581321609624">Kerberos SPN में अमानक पोर्ट शामिल करें</translation>
<translation id="3780319008680229708">अगर यह नीति 'सही' पर सेट है, तो 'Cast टूलबार आइकॉन' हमेशा टूलबार या ओवरफ़्लो मेन्यू पर दिखाया जाएगा और उपयोगकर्ता उसे हटा नहीं पाएंगे.
अगर यह नीति 'गलत' पर सेट है या इसे सेट नहीं किया जाता है, तो उपयोगकर्ता इसके 'संदर्भ मेन्यू' के ज़रिए आइकॉन पिन कर पाएंगे या उसे हटा पाएंगे.
अगर "EnableMediaRouter" नीति 'गलत' पर सेट है, तो इस नीति के मान का कोई असर नहीं होगा और टूलबार आइकॉन नहीं दिखाया जाएगा.</translation>
<translation id="3788662722837364290">जब उपयोगकर्ता कोई गतिविधि नहीं करता तब पावर प्रबंधन संबंधी सेटिंग</translation>
<translation id="3790085888761753785">अगर यह सेटिंग चालू है, तो उपयोगकर्ता Smart Lock के ज़रिए अपने खाते में साइन इन कर सकते हैं. यह सामान्य Smart Lock से ज़्यादा रिआयती है जो, सिर्फ़ इस्तेमाल करने वालों को ही स्क्रीन अनलॉक करने की मंज़ूरी देता है.
अगर सेटिंग चालू नहीं है, तो उपयोगकर्ताओं को Smart Lock साइन इन इस्तेमाल करने की मंज़ूरी नहीं दी जाएगी.
अगर यह नीति सेट नहीं की जाती है, तो एंटरप्राइज़-प्रबंधित उपयोगकर्ताओं के लिए डिफ़ॉल्ट की मंज़ूरी नहीं है और गैर-प्रबंधित उपयोगकर्ताओं के लिए मंज़ूरी है.</translation>
<translation id="379602782757302612">आपको यह तय करने की सुविधा देती है कि उपयोगकर्ता कौन से एक्‍सटेंशन इंस्‍टॉल नहीं कर सकते हैं. अगर एक्‍सटेंशन प्रतिबंधित सूची में डाले गए हैं तो पहले से इंस्‍टॉल किए हुए एक्‍सटेंशन बंद कर दिए जाएंगे, साथ ही उपयोगकर्ताओं के पास उन्‍हें चालू करने का कोई तरीका नहीं होगा. प्रतिबंधित सूची में डाले गए किसी एक्‍सटेंशन को सूची से निकाल दिए जाने पर, वह अपने आप फिर से चालू हो जाएगा.
प्रतिबंधित सूची में '*' मान का मतलब है कि सभी एक्‍सटेंशन तब तक प्रतिबंधित रहेंगे जब तक कि उन्‍हें खास तौर पर श्वेतसूची से हटा नहीं दिया जाता.
अगर यह नीति सेट किए बिना छोड़ दी जाती है तो, उपयोगकर्ता <ph name="PRODUCT_NAME" /> में कोई भी एक्‍सटेंशन इंस्‍टॉल कर सकता है.</translation>
<translation id="3800626789999016379">यह नीति उस निर्देशिका को कॉन्फ़िगर करती है, <ph name="PRODUCT_NAME" /> जिसका उपयोग फ़ाइलें डाउनलोड करने के लिए करेगा.
अगर आप इस नीति को सेट करते हैं, तो <ph name="PRODUCT_NAME" /> उपलब्‍ध निर्देशिका का उपयोग करेगा, भले ही उपयोगकर्ता ने कोई निर्देशिका तय की हो या नहीं या हर बार डाउनलोड करने पर जगह दिखाने वाला फ़्लैग चालू किया हो या नहीं.
उपयोग किए जा सकने वाले वैरिएबल की सूची के लिए https://www.chromium.org/administrators/policy-list-3/user-data-directory-variables देखें.
अगर यह नीति सेट नहीं है, तो डिफ़ॉल्‍ट निर्देशिका का उपयोग किया जाएगा और उपयोगकर्ता उसे बदल सकेगा.</translation>
<translation id="3805659594028420438">TLS डोमेन-सीमित प्रमाणपत्र एक्‍सटेंशन चालू करें (समर्थन नहीं होना या रुकना)</translation>
<translation id="3808945828600697669">अक्षम प्‍लग इन की सूची निर्दिष्‍ट करें</translation>
<translation id="3811562426301733860">सभी साइटों पर विज्ञापनों की अनुमति दें</translation>
<translation id="3816312845600780067">अपने आप लॉगिन के लिए बेलआउट कीबोर्ड शॉर्टकट चालू करें</translation>
<translation id="3820526221169548563">'ऑन-स्क्रीन कीबोर्ड सुलभता सुविधा' चालू करें.
अगर यह नीति 'सही' पर सेट होती है, तो ऑन-स्क्रीन कीबोर्ड हमेशा चालू रहेगा.
अगर यह नीति 'गलत' पर सेट होती है, तो ऑन-स्क्रीन कीबोर्ड हमेशा बंद रहेगा.
अगर आप इस नीति को सेट करते हैं, तो उपयोगकर्ता ना तो इसे बदल सकते हैं और ना ही रद्द कर सकते हैं.
अगर इस नीति को सेट किए बिना छोड़ दिया जाता है, तो शुरुआत में ऑन-स्क्रीन कीबोर्ड बंद रहेगा लेकिन उपयोगकर्ता उसे किसी भी समय चालू कर सकता है.</translation>
<translation id="382476126209906314">दूरस्थ पहुंच होस्ट के लिए TalkGadget का प्रारंभिक भाग कॉन्फ़ि‍गर करें</translation>
<translation id="3824972131618513497">पावर प्रबंधन और फिर से चालू करने से जुड़ी सेटिंग को नियंत्रित करता है.</translation>
<translation id="3826475866868158882">Google की जगह की जानकारी वाली सेवाएं चालू की गईं</translation>
<translation id="3831054243924627613">यह नीति Android बैकअप और बहाली की शुरुआती स्थिति को नियंत्रित करती है.
जब इस नीति को कॉन्फ़िगर नहीं किया जाता है या <ph name="BR_DISABLED" /> पर सेट किया जाता है, तो Android बैकअप और बहाली को शुरुआती तौर पर बंद कर दिया जाता है.
जब इस नीति को <ph name="BR_ENABLED" /> पर सेट किया जाता हैै, तो Android बैकअप और बहाली को शुरुआती तौर पर चालू कर दिया जाता है.
जब इस नीति को <ph name="BR_UNDER_USER_CONTROL" /> पर सेट किया जाता है, तो इस्तेमाल करने वाले से यह चुनने के लिए कहा जाता है कि Android बैकअप और बहाली का इस्तेमाल करना है या नहीं. अगर इस्तेमाल करने वाला बैकअप और बहाली की सुविधा चालू करता है, तो Android ऐप्लिकेशन डेटा Android बैकअप सर्वर पर अपलोड किया जाता है. साथ ही, संगत ऐप्लिकेशन से दोबारा इंस्टॉलेशन के लिए उन्हें बहाल कर दिया जाता है.
ध्यान रखें कि यह नीति सिर्फ़ शुरुआती सेटअप के दौरान ही Android बैकअप और बहाली को नियंत्रित करती है. इसके बाद इस्तेमाल करने वाला व्यक्ति, Android सेटिंग खोलकर Android बैकअप और बहाली की सुविधा चालू/बंद कर सकता है.</translation>
<translation id="3831376478177535007">इस सेटिंग के चालू होने पर, <ph name="PRODUCT_NAME" /> Symantec Corporation के Legacy PKI संचालनों की ओर से जारी किए गए प्रमाणपत्रों को तब अनुमति देता है, अगर वे किसी तरह से पहचाने हुए CA प्रमाणपत्र को सफलता से मान्य करते हैं और उससे जुड़ते हैं.
ध्यान रखें कि यह नीति उस ऑपरेटिंग सिस्टम पर निर्भर करती है, जो अब भी Symantec की पुरानी बुनियादी संरचना के प्रमाणपत्रों को पहचानता है. अगर किसी OS अपडेट से ऐसे प्रमाणपत्रों की OS हैंडलिंग में बदलाव होता है, तो इस नीति का कोई प्रभाव नहीं होगा. इसी के साथ, यह नीति एक अस्थायी वर्कअराउंड के रूप में तय की गई है ताकि उद्यमों को विरासती Symantec प्रमाणपत्रों से दूर जाने के लिए ज़्यादा समय दिया जा सके. यह नीति 1 जनवरी 2019 को या उसके आस-पास कभी भी निकाल दी जाएगी.
अगर यह नीति सेट नहीं है या इसे गलत' पर सेट किया गया है, तो फिर <ph name="PRODUCT_NAME" /> सार्वजनिक रूप से घोषित 'समर्थन ना देने वाले कार्यक्रम' का पालन करेगा.
इस 'समर्थन ना देने वाले कार्यक्रम' के बारे में ज़्यादा जानकारी के लिए https://g.co/chrome/symantecpkicerts देखें.</translation>
<translation id="383466854578875212">आपको यह तय करने की सुविधा देती है कि कौनसे स्थानीय मैसेजिंग सेवा होस्ट प्रतिबंधित नहीं करने चाहिए.
* के प्रतिबंधित मान का अर्थ यह है कि सभी स्थानीय मैसेजिंग सेवा होस्ट प्रतिबंधित हैं और उपयोगकर्ता केवल मान्य सूची में दिए गए स्थानीय मैसेजिंग सेवा होस्ट ही लोड किए जाएंगे.
सामान्य तौर पर, सभी स्थानीय मैसेजिंग सेवा होस्ट मान्य सूची में होते हैं, लेकिन अगर नीति के तहत सभी स्थानीय मैसेजिंग सेवा होस्ट को प्रतिबंधित किया जाता है, तो नीति को ओवरराइड करने के लिए मान्य सूची का उपयोग किया जा सकता है.</translation>
<translation id="3835692988507803626">वर्तनीजाँच की चालू नहीं की जाने वाली भाषाएं बंद करें</translation>
<translation id="3837424079837455272">यह नीति नियंत्रित करती है कि <ph name="PRODUCT_OS_NAME" /> में नए उपयोगकर्ता जोड़े जा सकते हैं या नहीं. यह इस्तेमाल करने वालों को Android के ज़रिए दूसरे Google खातों में साइन इन करने से नहीं रोकती. अगर आप इससे बचना चाहते हैं, तो खास तौर पर Android के लिए बनी <ph name="ACCOUNT_TYPES_WITH_MANAGEMENT_DISABLED_CLOUDDPC_POLICY_NAME" /> नीति को <ph name="ARC_POLICY_POLICY_NAME" /> की तरह कॉन्फ़िगर करें.</translation>
<translation id="384743459174066962">वैसी साइट जिनमें पॉपअप खोलने की अनुमति नहीं है, उनके लिए यूआरएल पैटर्न की सूची सेट करने की सुविधा देती है.
अगर इस नीति को सेट किए बिना छोड़ दिया जाता है तो, सभी साइट के लिए वैश्विक डिफ़ॉल्ट मान का इस्तेमाल किया जाएगा. अगर 'DefaultPopupsSetting' सेट है तो, यह मान इससे लिया जाएगा नहीं तो फिर उपयोगकर्ता के निजी कॉन्फ़िगरेशन का इस्तेमाल किया जाएगा.</translation>
<translation id="3851039766298741586">ऐप्लिकेशन आईडी और वर्शन जैसे सक्रिय किओस्क सत्र के बारे में
जानकारी की रिपोर्ट करें.
अगर नीति गलत पर सेट है, तो किओस्क सत्र की जानकारी की रिपोर्ट नहीं
की जाएगी. अगर सही पर सेट है या सेट किए बिना छोड़ दी गई है, तो किओस्क सत्र की जानकारी
की रिपोर्ट की जाएगी.</translation>
<translation id="3858658082795336534">डिफ़ॉल्ट प्रिंटिंग डुप्लेक्स मोड</translation>
<translation id="3859780406608282662"><ph name="PRODUCT_OS_NAME" /> में विविधता सीड को फ़ेच करने की प्रक्रिया में एक पैरामीटर जोड़ देगी.
अगर यह नीति सेट की गई है तो, यह विविधता सीड को फ़ेच करने के लिए इस्तेमाल होने वाले यूआरएल पर 'प्रतिबंधित करें' नाम का क्वेरी पैरामीटर जोड़ देगी. पैरामीटर का मान वही होगा जो इस नीति में बताया गया है.
अगर यह नीति सेट नहीं की गई हो तो, यह विविधता सीड यूआरएल में कोई बदलाव नहीं करेगी.</translation>
<translation id="3863409707075047163">कम से कम SSL वर्शन सक्षम किया गया</translation>
<translation id="3864020628639910082">खोज सुझाव देने के लिए इस्तेमाल होने वाले सर्च इंजन का यूआरएल बताती है. यूआरएल में '<ph name="SEARCH_TERM_MARKER" />', स्ट्रिंग शामिल होनी चाहिए, जो क्‍वेरी के समय उस लेख से बदल दी जाएगी जो उपयोगकर्ता ने अब तक डाला है.
यह नीति वैकल्पिक है. अगर सेट नहीं की गई हो, तो कोई सुझाया गया यूआरएल इस्तेमाल नहीं किया जाएगा.
Google के खोज यूआरएल को इस रूप में बताया जा सकता है: <ph name="GOOGLE_SUGGEST_SEARCH_URL" />.
इस नीति का सिर्फ़ तभी पालन किया जाता है जब 'DefaultSearchProviderEnabled' नीति चालू हो.</translation>
<translation id="3864129983143201415">किसी उपयोगकर्ता सत्र में मंज़ूर की गई भाषाएं कॉन्फ़िगर करें</translation>
<translation id="3866249974567520381">वर्णन</translation>
<translation id="3868347814555911633">यह नीति सिर्फ़ रीटेल मोड में लागू होती है.
यह रीटेल मोड में मौजूद डिवाइसों पर, डेमो उपयोगकर्ताओं के लिए अपने आप इंस्टॉल होने वाली एक्सटेंशन की सूची बनाती है. इंस्टॉल हो जाने के बाद, ये एक्सटेंशन डिवाइस में सेव कर लिए जाते हैं और बिना इंटरनेट के भी इंस्टॉल किए जा सकते हैं.
सूची में दिए गए हर एक्सटेंशन से जुड़ा एक शब्दकोष होता है जिसमें 'एक्सटेंशन आईडी' वाले फ़ील्ड में एक्सटेंशन आईडी लिखा होना ज़रूरी है. इसी तरह 'अपडेट यूआरएल' वाले फ़ील्ड में भी अपडेट यूआरएल लिखा होना ज़रूरी है.</translation>
<translation id="3874773863217952418">'खोजने के लिए टैप करें' को चालू करें</translation>
<translation id="3877517141460819966">एकीकृत दो तरीकों से पुष्टि मोड</translation>
<translation id="3879208481373875102">अनइंस्टॉल न किए जा सकने वाले वेब ऐप्लिकेशन की सूची कॉन्फ़िगर करें</translation>
<translation id="388237772682176890">स्पीडी/3.1 समर्थन निकाले जाने के कारण इस पॉलिसी को M53 में बहिष्कृत कर दिया गया है और M54 में निकाल लिया गया है.
<ph name="PRODUCT_NAME" /> में स्पीडी प्रोटोकॉल का उपयोग अक्षम करती है.
अगर यह पॉलिसी सक्षम है, तो <ph name="PRODUCT_NAME" /> में स्पीडी प्रोटोकॉल उपलब्‍ध नहीं होगा.
इस पॉलिसी को अक्षम पर सेट करने से स्पीडी का उपयोग किया जा सकेगा.
अगर यह पॉलिसी बिना सेट किए छोड़ दी गई है, तो स्पीडी उपलब्ध होगा.</translation>
<translation id="3891357445869647828">JavaScript चालू करें</translation>
<translation id="3895557476567727016">उस डिफ़ॉल्ट निर्देशिका को कॉन्‍फ़िगर करती है, जिसका उपयोग <ph name="PRODUCT_NAME" /> फ़ाइल डाउनलोड करने के लिए करेगा.
अगर आप इस नीति को सेट करते हैं तो, यह उस डिफ़ॉल्ट निर्देशिका को बदल देगी जिसमें <ph name="PRODUCT_NAME" /> फ़ाइल डाउनलोड करता है. इस नीति का पालन करना ज़रूरी नहीं है, इसलिए उपयोगकर्ता निर्देशिका में बदलाव कर सकेगा.
अगर आप इस नीति को सेट नहीं करते हैं, तो <ph name="PRODUCT_NAME" /> उसकी सामान्य डिफ़ॉल्ट निर्देशिका (प्लैटफ़ॉर्म-आधारित) का इस्तेमाल करेगा.
इस्तेमाल किए जा सकने वाले वैरिएबल की सूची के लिए https://www.chromium.org/administrators/policy-list-3/user-data-directory-variables देखें.</translation>
<translation id="3911737181201537215">इस नीति का Android द्वारा किए गए प्रवेश पर कोई प्रभाव नहीं पड़ता.</translation>
<translation id="391531815696899618">सही पर सेट होने पर <ph name="PRODUCT_OS_NAME" /> Files ऐप्लिकेशन में Google डिस्क सिंक को बंद कर देती है. उस स्थिति में, Google डिस्क पर कोई डेटा अपलोड नहीं किया जाता.
अगर सेट नहीं की जाती या गलत पर सेट की जाती है, तो उपयोगकर्ता फ़ाइलों को Google डिस्क पर स्थानान्तरित कर सकेंगे.</translation>
<translation id="3915395663995367577">proxy .pac फ़ाइल से URL</translation>
<translation id="3920892052017026701">बैटरी चार्ज कस्टम स्टार्ट चार्जिंग को प्रतिशत में सेट करें.
बैटरी चार्ज कस्टम स्टार्ट चार्जिंग मान खत्म होने पर, बैटरी चार्ज होने लगती है.
DeviceBatteryChargeCustomStartCharging, DeviceBatteryChargeCustomStopCharging से कम होना चाहिए.
इस नीति का इस्तेमाल तभी किया जाता है जब DeviceBatteryChargeMode को कस्टम पर सेट किया गया हो.
अगर यह नीति कॉन्फ़िगर नहीं की जाती या सेट किए बिना ही छोड़ दी जाती है, तो मानक बैटरी चार्ज मोड लागू होगा.</translation>
<translation id="3925377537407648234">डिसप्ले रिज़ॉल्यूशन और स्केल कारक सेट करें</translation>
<translation id="3939893074578116847">ऑनलाइन स्थिति को मॉनीटर करने के लिए प्रबंधन सर्वर को नेटवर्क पैकेट भेजें, ताकि
सर्वर यह पता लगा सके कि डिवाइस ऑफ़लाइन है या नहीं.
अगर यह पॉलिसी सत्य पर सेट की जाती है, तो मॉनीटर किए जा रहे नेटवर्क पैकेट (तथाकथित <ph name="HEARTBEATS_TERM" />) भेजे जाएंगे.
अगर पॉलिसी असत्य पर सेट है या सेट नहीं की गई है, तो कोई पैकेट नहीं भेजा जाएगा.</translation>
<translation id="3950239119790560549">समय की पाबंदियां अपडेट करें</translation>
<translation id="3956686688560604829">पुराने ब्राउज़र के लिए मदद के मकसद से Internet Explorer की SiteList नीति का इस्तेमाल करें.</translation>
<translation id="3958586912393694012">इस्तेमाल किए जाने वाले Smart Lock को मंज़ूरी देती है</translation>
<translation id="3963602271515417124">अगर सही हो तो, डिवाइस के लिए दूर से ही प्रमाणित करने की सुविधा की मंज़ूरी होती है और एक प्रमाणपत्र अपने आप जनरेट हो जाएगा और उसे 'डिवाइस प्रबंधन सर्वर' पर अपलोड कर दिया जाएगा.
अगर यह गलत पर सेट है या अगर सेट नहीं है तो, कोई प्रमाणपत्र जनरेट नहीं किया जाएगा और enterprise.platformKeys एक्सटेंशन API (एपीआई) पर कॉल नहीं किया जा सकेगा.</translation>
<translation id="3964262920683972987">अगर अभी तक किसी उपयोगकर्ता ने डिवाइस में साइन इन नहीं किया है, तो डिवाइस लेवल की वह वॉलपेपर इमेज कॉन्फ़िगर करें जो लॉगिन स्क्रीन पर दिखाई देती है. यह नीति सेट करने के लिए उस यूआरएल को तय किया जाता है जिससे Chrome OS डिवाइस वॉलपेपर इमेज डाउनलोड कर सकता है. साथ ही, डाउनलोड की सही तरीके से पुष्टि करने के लिए क्रिप्टोग्राफ़िक हैश का इस्तेमाल किया जाता है. इमेज JPEG फ़ॉर्मैट में होनी चाहिए, इसका आकार 16 एमबी से ज़्यादा नहीं होना चाहिए. यूआरएल ऐसा होना चाहिए जिसे बिना किसी प्रमाणीकरण के एक्सेस किया जा सके. वॉलपेपर इमेज को डाउनलोड और कैश कर लिया गया है. जब भी यूआरएल या हैश बदलेगा इसे फिर से डाउनलोड किया जाएगा.
अगर डिवाइस के वॉलपेपर की नीति सेट कर दी गई है, तो Chrome OS डिवाइस वॉलपेपर इमेज डाउनलोड करके उसका इस्तेमाल लॉगिन स्क्रीन पर कर सकता है. ऐसा Chrome OS डिवाइस तब तक कर सकता है, जब तक कोई उपयोगकर्ता उस डिवाइस पर साइन इन न कर ले. जब उपयोगकर्ता लॉगिन कर लेता है, तो उपयोगकर्ता की वॉलपेपर नीति लागू हो जाती है.
अगर डिवाइस के वॉलपेपर की नीति सेट नहीं की गई है, तो यह उपयोगकर्ता की नीति तय करेगी कि कौनसा वॉलपेपर दिखाया जाना चाहिए. ऐसा तब होगा जब उपयोगकर्ता की वॉलपेपर नीति सेट की गई हो.</translation>
<translation id="3965339130942650562">गतिविधि नहीं कर रहे उपयोगकर्ता को जब तक लॉग-आउट नहीं कर दिया जाता तब तक टाइमआउट</translation>
<translation id="3973371701361892765">अलमारी को कभी भीअपने-आप-न छिपाएं</translation>
<translation id="3984028218719007910">यह तय करती है कि <ph name="PRODUCT_OS_NAME" /> लॉग आउट के बाद स्‍थानीय खाता डेटा रखे या नहीं. अगर यह सही पर सेट होती है तो, <ph name="PRODUCT_OS_NAME" /> कोई निरंतर खाता नहीं रखता और लॉग आउट के बाद उपयोगकर्ता सत्र से सभी डेटा हटा दिए जाएंगे. अगर यह नीति गलत पर सेट हो या कॉन्‍फ़िगर नहीं की गई हो तो, डिवाइस (सुरक्षित किया गया) स्‍थानीय उपयोगकर्ता डेटा रख सकता है.</translation>
<translation id="398475542699441679">यह नीति तय करती है कि 'पुराने ब्राउज़र के लिए मदद' चालू की जाए या नहीं.
जब यह नीति सेट नहीं की जाती है या गलत पर सेट होती है, तो Chrome दिए गए यूआरएल किसी दूसरे ब्राउज़र में खोलने की कोशिश नहीं करेगा.
जब यह नीति सही पर सेट की हुई होती है, तो Chrome कुछ यूआरएल दूसरे ब्राउज़र (जैसे Internet Explorer) पर खोलने की कोशिश करेगा. यह सुविधा <ph name="LEGACY_BROWSER_SUPPORT_POLICY_GROUP" /> समूह की नीतियों का इस्तेमाल करके कॉन्फ़िगर की गई है.
यह सुविधा <ph name="LEGACY_BROWSER_SUPPORT_EXTENSION_NAME" /> एक्सटेंशन के बदले में है. एक्सटेंशन का कॉन्फ़िगरेशन इस सुविधा पर लागू होगा, लेकिन इस बात की पुरज़ोर सलाह दी जाती है कि इसके बजाय Chrome नीतियों का इस्तेमाल करें. इससे आने वाले समय में बेहतर तरीके से काम होता है.</translation>
<translation id="3997519162482760140">ऐसे यूआरएल, जिन्हें SAML लॉगिन पेजों पर वीडियो कैप्चर डिवाइस को एक्सेस करने की अनुमति होगी</translation>
<translation id="4001275826058808087">एंटरप्राइज़ डिवाइस के आईटी व्यवस्थापक इस फ़्लैग का उपयोग यह नियंत्रित करने के लिए कर सकते हैं कि उपयोगकर्ताओं को Chrome OS पंजीकरण के ज़रिए ऑफ़र रिडीम कराने की अनुमति दी जाए या नहीं.
अगर यह नीति सही पर सेट है या सेट किए बिना छोड़ दी जाती है, तो उपयोगकर्ता Chrome OS पंजीकरण के ज़रिए ऑफ़र रिडीम करा सकेंगे.
अगर यह नीति गलत पर सेट है, तो उपयोगकर्ता ऑफ़र रिडीम नहीं करा सकेंगे.</translation>
<translation id="4008233182078913897">यह नीति ऐसे ऐप्लिकेशन और एक्सटेंशन की सूची तय करती है जिन्हें
उपयोगकर्ता के इंटरैक्शन के बिना इंस्टॉल किया गया है. साथ ही, जिन्हें
उपयोगकर्ता न तो अनइंस्टॉल कर सकता है और न ही बंद कर सकता है.
ऐप्लिकेशन/एक्सटेंशन की ओर से मांगी गई सभी अनुमतियां ज़्यादा सोचे-समझे बिना और
उपयोगकर्ता के इंटरैक्शन के बिना दे दी जाती हैं. इनमें ऐप्लिकेशन/एक्सटेंशन के आगे आने वाले वर्शन की
सभी अनुमतियां भी शामिल होती हैं. यही नहीं, अनुमतियां enterprise.deviceAttributes और enterprise.platformKeys
enterprise.deviceAttributes और enterprise.platformKeys एक्सटेंशन
एपीआई को दी जाती हैं. (ये दो एपीआई उन ऐप्लिकेशन/एक्सटेंशन के लिए उपलब्ध नहीं होते जिन्हें
जान-बूझकर इस्टॉल नहीं किया गया है.)
इस नीति को संभावित तौर पर विरोधी <ph name="EXTENSION_INSTALL_BLACKLIST_POLICY_NAME" /> नीति के बदले प्राथमिकता मिलती है. अगर इस सूची में से किसी ऐसे ऐप्लिकेशन या एक्सटेंशन को हटाया जाता है जिसे पहले जान-बूझकर इंस्टॉल किया गया था, तो उसे <ph name="PRODUCT_NAME" /> अपने आप अनइंस्टॉल कर देता है.
Windows के ऐसे इंस्टेंस के लिए जो किसी <ph name="MS_AD_NAME" /> डोमेन में शामिल नहीं हैं, जान-बूझकर इंस्टॉल करने की यह सुविधा 'Chrome वेब स्टोर' की सूची में शामिल ऐप्लिकेशन और एक्सटेंशन तक सीमित है.
ध्यान रखें कि किसी भी एक्सटेंशन का सोर्स कोड 'डेवलपर टूल' के ज़रिए बदला जा सकता है (एक्सटेंशन को इस तरह से रेंडर करना जो उसे बेकार बना सकता है). अगर ऐसा हो, तो <ph name="DEVELOPER_TOOLS_POLICY_NAME" /> नीति सेट की जानी चाहिए.
सूची में शामिल नीति का हर आइटम एक ऐसी स्ट्रिंग है जिसमें सेमीकोलन (<ph name="SEMICOLON" />) से अलग किया गया एक एक्सटेंशन आईडी और एक "अपडेट" यूआरएल होता है. एक्सटेंशन आईडी 32 अक्षरों वाली स्ट्रिंग होती है जो उदाहरण के लिए, डेवलपर मोड में होने पर <ph name="CHROME_EXTENSIONS_LINK" /> पर मिलती है. अगर "अपडेट" यूआरएल बताया गया हो, तो <ph name="LINK_TO_EXTENSION_DOC1" /> में बताए अनुसार एक अपडेट मेनिफ़ेस्ट XML दस्तावेज़ पर खुलना चाहिए. डिफ़ॉल्ट रूप से, 'Chrome वेब स्टोर' के अपडेट यूआरएल (जो फ़िलहाल "https://clients2.google.com/service/update2/crx" है) का इस्तेमाल किया जाता है. ध्यान रखें कि इस नीति में सेट किए गए "अपडेट" यूआरएल का इस्तेमाल सिर्फ़ शुरुआती इंस्टॉलेशन के लिए किया जाता है; एक्सटेंशन के बाद के अपडेट, एक्सटेंशन के मेनिफ़ेस्ट में बताए गए अपडेट यूआरएल को लागू करते हैं. यह भी ध्यान रखें कि 67 सहित <ph name="PRODUCT_NAME" /> तक के वर्शन में "अपडेट" यूआरएल को साफ़ तौर पर बताना ज़रूरी था.
उदाहरण के लिए, <ph name="EXTENSION_POLICY_EXAMPLE" /> सामान्य 'Chrome वेब स्टोर' "अपडेट" यूआरएल से <ph name="EXTENSION_ID_SAMPLE" /> ऐप्लिकेशन इंस्टॉल करता है. एक्सटेंशन होस्ट करने के बारे में ज़्यादा जानकारी के लिए, यहां देखें: <ph name="LINK_TO_EXTENSION_DOC2" />
अगर यह नीति सेट नहीं होती है, तो कोई भी ऐप्लिकेशन या एक्सटेंशन अपने आप इंस्टॉल नहीं होता. साथ ही, उपयोगकर्ता <ph name="PRODUCT_NAME" /> में किसी भी ऐप्लिकेशन या एक्सटेंशन को अनइंस्टॉल कर सकता है.
ध्यान रखें कि यह नीति 'गुप्त मोड' पर लागू नहीं होती है.</translation>
<translation id="4008507541867797979">अगर यह नीति 'सही' पर सेट होती है या कॉन्फ़िगर नहीं होती है, तो <ph name="PRODUCT_OS_NAME" /> लॉगिन स्क्रीन पर मौजूदा उपयोगकर्ता दिखाएगा और उनमें से एक को चुनने देगा.
अगर यह नीति गलत पर सेट होती है, तो <ph name="PRODUCT_OS_NAME" /> लॉगिन स्क्रीन पर मौजूदा उपयोगकर्ता नहीं दिखाएगा. प्रबंधित सत्र के कॉन्फ़िगर नहीं हो जाने तक सामान्य साइन-इन स्क्रीन (जो उपयोगकर्ता के ईमेल और पासवर्ड या फ़ोन के लिए संकेत करती है) या बीच-बीच में विज्ञापन दिखाने वाली SAML स्क्रीन (अगर इसे <ph name="LOGIN_AUTHENTICATION_BEHAVIOR_POLICY_NAME" /> नीति के ज़रिए चालू किया गया हो) दिखाई जाएगी. जब 'प्रबंधित सत्र' कॉन्फ़िगर होता है, तो सिर्फ़ 'प्रबंधित सत्र' खाते ही दिखाए जाएंगे, जो इनमें से एक को चुनने देगा.
ध्यान रखें कि इस नीति का इस बात पर कोई असर नहीं पड़ता कि डिवाइस स्थानीय डेटा को बनाए रखता है या उसे खारिज कर देता है.</translation>
<translation id="4010738624545340900">फ़ाइल चुनाव संवादों के अनुरोध की अनुमति दें</translation>
<translation id="4012737788880122133">सही पर सेट होने पर अपने आप अपडेट चालू करती है.
इस सेटिंग के कॉन्फ़िगर नहीं होने या गलत पर सेट होने पर <ph name="PRODUCT_OS_NAME" /> डिवाइस अपने आप अपडेट की जांच करते हैं.
चेतावनी: अपने आप अपडेट चालू रखने का सुझाव दिया जाता है, ताकि उपयोगकर्ताओं को सॉफ़्टवेयर अपडेट और ज़रूरी सुरक्षा समाधान मिलते रहें. अपने आप अपडेट बंद करने से उपयोगकर्ता जोखिम में पड़ सकते हैं.</translation>
<translation id="4020682745012723568">उपयोगकर्ता की प्रोफ़ाइल में ट्रांसफ़र की गईं कुकी, Android ऐप्लिकेशन से एक्सेस नहीं की जा सकतीं.</translation>
<translation id="402759845255257575">किसी भी साइट को JavaScript चलाने की अनुमति न दें</translation>
<translation id="4027608872760987929">'डिफ़ॉल्‍ट खोज की सुविधा देने वाली कंपनी' चालू करें</translation>
<translation id="4039085364173654945">यह नियंत्रित करता है कि किसी पेज पर तृतीय-पक्ष उप-सामग्री को कोई HTTP मूल प्रमाणीकरण डॉयलॉग बॉक्‍स पॉप-अप करने की अनुमति है या नहीं. सामान्‍यत: यह फ़िशिंग से सुरक्षा के रूप में अक्षम होता है. अगर इस नीति को सेट नहीं किया जाता है, तो, यह अक्षम होती है और तृतीय-पक्ष उप-सामग्री को, HTTP मूल प्रमाणीकरण डॉयलॉग बॉक्‍स पॉप अप करने की अनुमति नहीं होगी.</translation>
<translation id="4056910949759281379">SPDY प्रोटोकॉल बंद करें</translation>
<translation id="408029843066770167">Google समय सेवा में क्वेरी की अनुमति दें</translation>
<translation id="408076456549153854">ब्राउज़र में साइन इन चालू करें</translation>
<translation id="40853027210512570"><ph name="PRODUCT_NAME" /> के डिफ़ॉल्ट प्रिंटर चुनने के नियम को बदल देता है.
यह नीति <ph name="PRODUCT_NAME" /> में डिफ़ॉल्ट प्रिंटर चुनने के नियम तय करती है. चुनने की यह प्रक्रिया प्रिंट करने की सुविधा को पहली बार किसी प्रोफ़ाइल के साथ इस्तेमाल करने पर सामने आती है.
जब यह नीति सेट की जाती है, तो <ph name="PRODUCT_NAME" /> सभी तय की गई विशेषताओं से मेल खाता प्रिंटर ढूंढ़ने की कोशिश करेगा और उसे डिफ़ॉल्ट प्रिंटर के रूप में सेट करेगा. नीति से मेल खाता हुआ जो पहला प्रिंटर मिलता है, उसे चुना जाता है. इस तरह मेल खाता हुआ कोई खास प्रिंटर अगर न मिले, तो कोई भी प्रिंटर जो खोज के दौरान पहले सामने आता है, चुन लिया जाता है.
अगर यह पॉलिसी सेट नहीं की जाती या समय खत्म होने से पहले मेल खाता हुआ प्रिंटर नहीं मिलता, तो पहले से मौजूद पीडीएफ़ प्रिंटर को डिफ़ॉल्ट प्रिंटर के रूप में चुन लिया जाता है. अगर पीडीएफ़ प्रिंटर मौजूद नहीं है, तो कोई प्रिंटर नहीं चुना जाता है.
<ph name="CLOUD_PRINT_NAME" />से कनेक्ट किए गए प्रिंटर को <ph name="PRINTER_TYPE_CLOUD" /> माना जाता है, बाकी प्रिंटर <ph name="PRINTER_TYPE_LOCAL" /> की श्रेणी में रखे जाते हैं.
किसी फ़ील्ड को हटाने का मतलब है कि सभी मानों का मिलान करना. उदाहरण के लिए, कनेक्टिविटी तय नहीं करने से 'प्रिंट की झलक' सभी तरह के प्रिंटर, क्लाउड या स्थानीय प्रिंटर की खोज शुरू कर देगी.
रेगुलर एक्सप्रेशन पैटर्न को JavaScript RegExp सिंटैक्स को फ़ॉलो करना होगा और मिलान, छोटे-बड़े अक्षरों के आधार पर होगा.</translation>
<translation id="4088589230932595924">गुप्त मोड बाध्‍य किया गया</translation>
<translation id="4088983553732356374">आपको यह सेट करने की अनुमति देती है कि वेबसाइट को स्थानीय डेटा सेट करने की अनुमति है या नहीं. स्थानीय डेटा सेट करने की अनुमति या तो सभी वेबसाइटों को दी जा सकती है या किसी भी वेबसाइट को नहीं दी जा सकती है.
अगर इस नीति को 'सत्र की समय सीमा तक कुकी रखें' पर सेट किया जाता है तो, सत्र के बंद होने पर कुकी मिटा दी जाएंगी. ध्यान दें कि अगर <ph name="PRODUCT_NAME" /> 'बैकग्राउंड मोड' में चल रहा हो तो, हो सकता है कि अंतिम विंडो बंद होने के बाद सत्र बंद ना हो. इस व्यवहार को कॉन्फ़िगर करने के बारे में ज़्यादा जानकारी के लिए कृपया 'BackgroundModeEnabled' नीति देखें.
अगर यह नीति सेट किए बिना छोड़ दी जाती है तो, 'AllowCookies' का उपयोग किया जाएगा और उपयोगकर्ता उसे बदल सकेगा.</translation>
<translation id="4103289232974211388">उपयोगकर्ता की मंज़ूरी के बाद SAML IdP पर रीडायरेक्ट करें</translation>
<translation id="410478022164847452">AC पावर पर चलते समय, उस समय सीमा के बारे में बताती है जितनी देर तक उपयोगकर्ता कोई भी इनपुट न दे, उसके बाद इस्तेमाल में नहीं कार्रवाई की जाती है.
जब इस नीति को सेट किया जाता है, तो वह <ph name="PRODUCT_OS_NAME" /> के इस्तेमाल में नहीं कार्रवाई करने से पहले की उस समय सीमा के बारे में बताती है जिसमें उपयोगकर्ता को निष्क्रिय रहना होगा, जिसे अलग से कॉन्फ़िगर किया जा सकता है.
जब नीति सेट नहीं की जाती, तो एक डिफ़ॉल्ट समय सीमा का इस्तेमाल किया जाता है.
नीति का मान मिलीसेकंड में बताया जाना चाहिए.</translation>
<translation id="4105884561459127998">यह नीति, SAML लॉगिन के लिए 'पहचान करने का प्रकार' कॉन्फ़िगर करती है.
जब यह नीति सेट नहीं है या इसे 'डिफ़ॉल्ट' (मान 0) पर सेट किया गया है, तो ब्राउज़र दूसरे फ़ैक्टर के मुताबिक SAML लॉगिन का व्यवहार तय करता है. ज़्यादातर बुनियादी मामलों में, उपयोगकर्ता की पहचान और कैश किए गए 'उपयोगकर्ता डेटा' की सुरक्षा उन पासवर्ड पर आधारित होती है जिन्हें उपयोगकर्ता मैन्युअल रूप से डालते हैं.
जब यह नीति ClientCertificate (मान 1) पर सेट होती है, तो SAML से लॉग इन करने वाले नए उपयोगकर्ताओं की पहचान 'क्लाइंट प्रमाणपत्र' से की जाती है. ऐसे उपयोगकर्ताओं के लिए किसी पासवर्ड का इस्तेमाल नहीं किया जाता और उनका कैश किया गया 'स्थानीय डेटा' उससे जुड़ी 'क्रिप्टोग्राफ़िक की (कुंजी)' का इस्तेमाल करके सुरक्षित किया जाता है. उदाहरण के लिए, यह सेटिंग, स्मार्ट कार्ड आधारित उपयोगकर्ताओं को कॉन्फ़िगर करने देती है (ध्यान रखें कि स्मार्ट कार्ड मिडिलवेयर ऐप्लिकेशन DeviceLoginScreenExtensions नीति के ज़रिए इंस्टॉल होने चाहिए).
इस नीति का असर सिर्फ़ उन उपयोगकर्ताओं पर होता है जो पहचान की पुष्टि के लिए SAML का इस्तेमाल करते हैं.</translation>
<translation id="4105989332710272578">यूआरएल की एक सूची के लिए 'प्रमाणपत्र पारदर्शिता' को लागू करना बंद करें</translation>
<translation id="4121350739760194865">ऐप्‍लिकेशन प्रचार को नए टैब पेज पर दिखाई देने से रोकें</translation>
<translation id="412697421478384751">उपयोगकर्ताओं को लॉक स्क्रीन पिन के लिए कमज़ोर पिन सेट करने देती है</translation>
<translation id="4138655880188755661">समय सीमा</translation>
<translation id="4144164749344898721">यह नीति, इस्तेमाल करने वाले की ओर से कोई गतिविधि न होने पर, पावर प्रबंधन रणनीति के लिए एक से ज़्यादा सेटिंग नियंत्रित करती है.
इसमें चार तरह की कार्रवाइयां होती हैं:
* अगर इस्तेमाल करने वाला व्यक्ति |ScreenDim| के बताए हुए समय तक कोई गतिविधि नहीं करता है, तो स्क्रीन की रोशनी कम हो जाएगी.
* अगर इस्तेमाल करने वाला व्यक्ति |ScreenOff| के बताए हुए समय तक कोई गतिविधि नहीं करता है, तो स्क्रीन बंद हो जाएगी.
* अगर इस्तेमाल करने वाला व्यक्ति |IdleWarning| के बताए हुए समय तक कोई गतिविधि नहीं करता है, तो एक चेतावनी संवाद दिखाया जाएगा, जिससे उसे पता चलेगा कि गतिविधि न करने की कार्रवाई की जाने वाली है. चेतावनी संदेश तभी दिखाया जाता है जब कुछ देर तक इस्तेमाल न होने की वजह से या तो वेबसाइट बंद होने वाली हो या फिर आप अपने खाते से लॉग आउट होने वाले हों.
* अगर इस्तेमाल करने वाला व्यक्ति |Idle| के बताए हुए समय तक कोई गतिविधि नहीं करता, तो |IdleAction| की बताई हुई कार्रवाई की जाएगी.
ऊपर दी गई हर एक कार्रवाई के लिए, देरी को मिलीसेकंड में बताया जाना चाहिए और संबंधित कार्रवाई ट्रिगर करने के लिए इसे शून्य से बड़े मान पर सेट किया जाना चाहिए. अगर देरी को शून्य पर सेट किया जाता है, तो <ph name="PRODUCT_OS_NAME" /> संबंधित कार्रवाई नहीं करेगा.
ऊपर दी गई हर एक देरी के लिए, समय अवधि सेट नहीं होने पर एक डिफ़ॉल्ट मान का इस्तेमाल किया जाएगा.
ध्यान रखें कि |ScreenDim| के मानों को कम करके |ScreenOff|, |ScreenOff| से कम या इसके बराबर कर दिया जाएगा और |IdleWarning| को कम करके |Idle| से कम या इसके बराबर कर दिया जाएगा.
|IdleAction| आगे दी गई चार संभावित कार्रवाइयों में से एक हो सकती है:
* |Suspend|
* |Logout|
* |Shutdown|
* |DoNothing|
जब |IdleAction| को सेट नहीं किया जाता है, तो डिफ़ॉल्ट कार्रवाई की जाती है, जो है 'निलंबित करना'.
एसी पावर और बैटरी के लिए अलग-अलग सेटिंग भी होती हैं.
</translation>
<translation id="4150201353443180367">डिसप्ले</translation>
<translation id="4157003184375321727">OS और फ़र्मवेयर वर्शन की रिपोर्ट करें</translation>
<translation id="4157594634940419685">स्थानीय CUPS प्रिंटर एक्सेस करने देती है</translation>
<translation id="4160962198980004898">डॉक किए होने पर डिवाइस MAC पते का स्रोत</translation>
<translation id="4163705126749612234">यह नीति उन ज़रूरी क्लाइंट डोमेन नामों को कॉन्फ़िगर करती है जिन्हें रिमोट एक्सेस क्लाइंट पर लागू किया जाएगा. साथ ही, यह इस्तेमाल करने वालों को इसे बदलने से भी रोकती है.
अगर यह सेटिंग चालू हो, तो सिर्फ़ बताए गए किसी एक डोमेन के क्लाइंट ही होस्ट से कनेक्ट कर सकते हैं.
अगर यह सेटिंग बंद हो या सेट नहीं की गई हो, तो फिर कनेक्शन प्रकार के लिए डिफ़ॉल्ट नीति लागू की जाती है. रिमोट सहायता के लिए, यह नीति किसी भी डोमेन के क्लाइंट को होस्ट से कनेक्ट होने देती है; किसी भी समय रिमोट एक्सेस के लिए, सिर्फ़़ होस्ट का मालिक कनेक्ट कर सकता है.
मौजूद होने पर, यह सेटिंग RemoteAccessHostClientDomain को ओवरराइड करेगी.
RemoteAccessHostDomainList भी देखें.</translation>
<translation id="4164601239783385546">सुलभता सुविधा की स्टिकी कुंजियां चालू करें.
अगर यह नीति सही पर सेट की जाती है, तो स्टिकी कुंजियां हमेशा चालू रहेंगी.
अगर यह नीति गलत पर सेट की जाती है, तो स्टिकी कुंजियां हमेशा बंद रहेंगी.
अगर आप यह नीति सेट करते हैं, तो इस्तेमाल करने वाले लोग न इसे बदल सकते हैं, न ही ओवरराइड कर सकते हैं.
अगर यह नीति सेट किए बिना छोड़ी जाती है, तो स्टिकी कुंजियां शुरुआत में बंद की जाती हैं, लेकिन इस्तेमाल करने वाला व्यक्ति इसे बाद में कभी भी चालू कर सकता है.</translation>
<translation id="4171331498167688968">अगर नीति गलत पर सेट की जाती है, तो तीसरे पक्ष के सॉफ़्टवेयर को Chrome के तरीकों में एक्ज़ीक्यूटेबल कोड को इंजेक्ट करने दिया जाएगा. अगर नीति सेट नहीं की जाती या सही पर सेट की जाती है, तो तीसरे पक्ष के सॉफ़्टवेयर को Chrome की तरीकों में एक्ज़ीक्यूटेबल कोड को इंजेक्ट करने से रोका जाएगा.
इस नीति के मान के बावजूद, <ph name="MS_AD_NAME" /> डोमेन में शामिल मशीन पर ब्राउज़र फ़िलहाल तीसरे पक्ष के सॉफ़्टवेयर को अपने प्रोसेस में एक्ज़ीक्यूटेबल कोड को इंजेक्ट करने से नहीं रोकेगा.</translation>
<translation id="4183229833636799228">डिफ़ॉल्ट <ph name="FLASH_PLUGIN_NAME" /> सेटिंग</translation>
<translation id="4192388905594723944">रिमोट (दूर के किसी) ऐक्‍सेस क्‍लाइंट प्रमाणीकरण टोकन मान्‍य करने का URL</translation>
<translation id="4203389617541558220">अपने आप होने वाला रीबूट शेड्यूल करके डिवाइस के काम करने की अवधि सीमित करें.
जब यह नीति सेट होती है, तो यह डिवाइस के काम करने की अवधि तय करती है, जिसके बाद अपने आप होने वाला रीबूट शेड्यूल किया जाता है.
जब यह नीति सेट नहीं होती, तो डिवाइस के काम करने की अवधि सीमित नहीं होती.
अगर आप इस नीति को सेट करते, तो उपयोगकर्ता इसे बदल नहीं सकते या ओवरराइड नहीं कर सकते.
अपने आप होने वाला रीबूट चुने गए समय पर शेड्यूल किया जाता है लेकिन अगर उपयोगकर्ता फ़िलहाल डिवाइस का उपयोग कर रहा है तो डिवाइस पर रीबूट में 24 घंटे तक की देरी हो सकती है.
ध्यान दें: फ़िलहाल, अपने आप होने वाले रीबूट सिर्फ़ तब चालू होते हैं जब लॉग इन स्क्रीन दिख रही हो या किओस्क ऐप्लिकेशन के सेशन चल रहा हो. आने वाले दिनों में यह बदल दिया जाएगा और नीति हमेशा लागू होगी, भले ही कोई खास प्रकार का सत्र चल रहा हो या न चल रहा हो.
नीति का मान सेकंड में तय किया जाना चाहिए. मान कम से कम 3600 (एक घंटे) में क्लैंप होने चाहिए.</translation>
<translation id="4203879074082863035">उपयोगकर्ताओं को केवल श्वेतसूची में शामिल प्रिंटर दिखाए जाते हैं</translation>
<translation id="420512303455129789">बूलियन फ़्लैग के लिए एक शब्दकोष मैपिंग यूआरएल जो यह स्पष्ट रूप से बताता है कि होस्ट की एक्सेस अनुमति (सही) होनी चाहिए या उसे रुका हुआ (गलत) होना चाहिए.
यह नीति <ph name="PRODUCT_NAME" /> की मदद से अपने आंतरिक उपयोग के लिए है.</translation>
<translation id="4224610387358583899">स्क्रीन लॉक विलंब</translation>
<translation id="423797045246308574">वैसी साइट जिन्हें कुंजी जनरेट करने की अनुमति नहीं है, उनके लिए यूआरएल पैटर्न की सूची सेट करने की सुविधा देती है. अगर कोई यूआरएल पैटर्न 'KeygenAllowedForUrls' में है तो, यह पॉलिसी ऐसे अपवादों को रद्द कर देती है.
अगर इस नीति को नहीं जोड़ा जाता है तो, सभी साइट के लिए वैश्विक डिफ़ॉल्ट मान का इस्तेमाल किया जाएगा. अगर 'DefaultKeygenSetting' नीति सेट है तो, यह मान इससे लिया जाएगा नहीं तो फिर उपयोगकर्ता के निजी कॉन्फ़िगरेशन